BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

बिट्टू पंजाबी ने रिटायर्ड टीचर को बनाया ठगी का शिकार, फ्रॉड का मुकदमा दर्ज।

मैट्रो प्लस से नवीन गुप्ता की खास रिपोर्ट।
बल्लभगढ़/फरीदाबाद, 13 जून:
गली-मोहल्ले के वे छुटभयै लोग जिनका अपना कोई वजूद नहीं होता और वो सिर्फ और सिर्फ सत्ताधारी नेताओं की जू-हजूरी कर कॉलोनी के लोगों में उनके नाम पर अपना रौब दिखाकर जनता को ठगने का काम करते रहते हैं, ऐसे लोगों का फ्रॉड ज्यादा लम्बा नहीं चलता। ऐेसे छुटभयै लोग सरकार में बैठे चंद जन-प्रतिनिधियों और राजनेताओं को गुमराह कर गली-मोहल्लों की राजनीति कर मनोहर सरकार की छवि को खराब करने में लगे हुए है। ऐसे व्यक्ति को अपने कर्मों का फल यहीं इसी दुनिया मे भुगतने पड़ता हैं चाहे वो कितना ही कुछ कर ले। ऐसा ही कुछ अब फिर से सामने आ रहा है उस व्यक्ति के सामने जो दो बार बल्लभगढ़ की विधायक रही शारदा राठौर से राखी बंधवाकर शहर में अपनी दुकान चला उल्टे-सीधे कामों को अंजाम देता था। एक की टोपी दूसरे के सिर और दूसरे की टोपी तीसरे के सिर पहनाकर लोगों से पैसों की ठगी करने और लोगों की प्रॉपर्टी पर कब्जा कर उन्हें हड़पने के मामले अक्सर इस व्यक्ति पर दर्ज होते रहते हैं।
जी हां, हम बात कर रहे हैं पुलिस और सत्ताधारी नेताओं के नाम पर लोगों में अपना रौब दिखाकर चावला कॉलोनी में ठगी की दुकान चलाने वाले उसी वेदप्रकाश बतरा उर्फ बिट्टू पंजाबी की जिसके खिलाफ अब एक बार फिर से मुकदमा दर्ज हुआ है। इस मुकदमे में बिट्टू पंजाबी पर एक रिटायर्ड टीचर से फ्रॉड कर लाखों की ठगी कर उसे जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया गया है। बता दें कि इससे पहले भी इस बिट्टू पंजाबी पर थाना शहर बल्लभगढ़ में एक बुजुर्ग डॉक्टर केके सरदाना की दुकान में रात के समय तोडफ़ोड़ कर उसे अदालती स्टे के बावजूद अपने साथियों सहित जबरन कब्जाने का मुकदमा जिसका एफआईआर न.-498 है, सन् 2010 में दर्ज हो चुका है जिसमें ये सीआईए-30 में पुलिस रिमांड पर तथा नीमका जेल की सलाखों के पीछे भी रह चुका है।
बता दें कि अब ओल्ड फरीदाबाद निवासी रिटायर्ड सरकारी टीचर प्रेम नारायण शास्त्री ने थाना ओल्ड फरीदाबाद में शिकायत देकर इस बिट्टू पंजाबी के खिलाफ IPC की धारा 406, 420 व 506 के तहत एक मुकदमा नं.-209 दर्ज करवाया है। इस मुकदमे में उन्होंने कहा है कि वह गत् 31 दिसंबर, 2005 को हरियाणा शिक्षा विभाग से सेवानिवृत्त हुए थे। सामाजिक कार्य में अपना योगदान देते रहने पर समाज एवं प्रदेश सरकार द्वारा उनके उत्कृष्ट कार्यो के लिए उन्हें कई बार पुरस्कृत भी किया जा चुका है।
शिकायतकर्ता प्रेम नारायण शास्त्री के मुताबिक सेवानिवृत्ति के बाद अपनी आजीविका चलाने के लिए वे कोई व्यवसाय शुरू करना चाहते थे। इस दौरान उनकी एक पहचान के मित्र ने उनकी मुलाकात वेद प्रकाश बतरा उर्फ बिट्टू पंजाबी पुत्र स्वर्गीय श्री शोभराज निवासी बी-300 एवं सी-111 ऋषि नगर, चावला कॉलोनी, बल्लभगढ़ से करवाई जोकि प्रॉपर्टी की खरीद-फरोख्त का काम करता था। बिट्टू पंजाबी ने उन्हें प्रॉपर्टी में पैसा निवेश करने के लिए कहा जिसे उन्होंने उस समय प्रोपर्टी के व्यवसाय की जानकारी ना होने के कारण मना कर दिया था।
थाने में दर्ज मुकदमे में शिकायतकर्ता प्रेम नारायण शास्त्री ने कहा है कि इसके बाद बिट्टू पंजाबी का मेरे पैसे हड़पने की नीयत से मेरे घर पर लगातार आना-जाना शुरू हो गया। कुछ समय बाद उसने मुझसे कहा कि आप सीधे तौर पर इस व्यवसाय में पैसा मत लगाओ। मुझे प्रॉपर्टी खरीद-फरोख्त की अच्छी खासी जानकारी है और मुझे इसमें बहुत मुनाफा भी हो रहा है। मुझे अपने घर के पास ही बहुत सस्ते दाम में एक प्रोपर्टी मिल रही है इसे खरीदने के लिए कुछ पैसा कम पड़ रहा है, आप मुझे सात लाख रूपये कुछ समय के लिए उधार दे दो। कुछ ही समय में इस प्रोपर्टी की कीमत दुगनी हो जाएगी तो मैं इस प्रोपर्टी को बेचकर आपको आपकी मूल रकम के साथ प्रोपर्टी बिक्री के दौरान होने वाले लाभ का 50 प्रतिशत मुनाफा भी आपको दे दूंगा।
शास्त्री के मुताबिक बिट्टू पंजाबी की बातों में आकर व उस पर विश्वास करके उन्होंने उसे सन्-2010 में अपने बैंक से 7 लाख रूपये कैश (3.50 लाख-3.50 लाख) निकाल कर दे दिए। शास्त्री का कहना है कि एक वर्ष बीतने के बाद जब उन्होंने बिट्टू पंजाबी से पैसे मांगे तो वह मेरे से मिलने से मना करने लगा। इस पर उन्होंने शहर के कई सामाजिक व प्रतिष्ठित लोगों से उसे कहलवाया तो उसने सामाजिक दबाव में आकर मुझे 3.50 लाख-3.50 लाख रूपये के दो चेक देकर कहा कि अब मेरे पास मत आना, जाकर बैंक से पैसे निकाल लो तथा 50 प्रतिशत मुनाफा मैं आपको नगद दे दूंगा। उन्होंने शिकायत में कहा है कि जब मैंने उसके द्वारा दिए गए दोनों चेक बैंक में डाले तो उसके खाते में पैसा ना होने के कारण दोनों चेक बाउंस हो गए तब उन्हें अपने साथ हुई ठगी का अहसास हुआ। इस पर उन्होंने समाज के लोगों की सलाह से कोर्ट की शरण ली व उसके खिलाफ कोर्ट में चेक बाउंस का केस दायर किया। केस की सुनवाई के दौरान वह मुझे केस वापस लेने के लिए बार-बार दबाव बनाने लगा परंतु मैंने उसे हर बार यही कहा कि तुम मेरे पैसे लौटा दो तो मैं अपना केस वापस ले लूंगा। एक दिन उसने मुझे अपनी बेटी की शादी का हवाला देते हुए केस वापस लेने की बात कहते हुए कहा कि मेरी बेटी की शादी से पहले यह केस वापस ले लो, मैं बहुत जल्द आपके पैसे लौटा दूंगा। इस दौरान बिट्टू पंजाबी के साथ उसका बड़ा भाई पप्पू भी वहां मौजूद था। उसने भी मुझे बिट्टू पंजाबी की बेटी की शादी का हवाला देते हुए सामाजिक दबाव बनाकर मुझसे केस वापस लेने की विनती की व मेरी रकम बेटी की शादी से पहले हर हाल में वापस लौटाने की बात कही।
शास्त्री के मुताबिक इस दौरान दोनों भाइयों द्वारा बार-बार विनती करने पर व उसकी बेटी की शादी व सामाजिक दबाव के कारण मैंने कोर्ट से अपना केस वापस ले लिया। आज बिट्टू पंजाबी की बेटी की शादी को हुए लगभग 2 वर्ष से ज्यादा हो चुके हैं परंतु उसने मुझे अभी तक मेरी रकम नहीं लौटाई है। बिट्टू पंजाबी ने मेरे से धोखाधड़ी करके मेरे सारे पैसे हड़प लिए हैं और पैसा वापस मांगने पर मुझे जान से मारने की धमकी भी देता है।
प्रेम नारायण शास्त्री का कहना है कि वे फेफड़ों एवं लीवर संक्रमण के रोग से ग्रस्त हैं तथा उन्हें अक्सर सांस व लीवर की बीमारी रहती है, जिसका वर्तमान में इलाज क्यूआरजी हॉस्पिटल फरीदाबाद एवं आईएलबीएस हॉस्पिटल दिल्ली में चल रहा है। अपने इलाज के लिए उन्हें लगातार पैसों की जरूरत रहती है।
थाना ओल्ड फरीदाबाद पुलिस ने प्रेम नारायण शास्त्री की उक्त शिकायत पर कार्यवाही करते हुए वेदप्रकाश बत्रा उर्फ बिट्टू पंजाबी के खिलाफ आईपीसी की धारा 406, 420 व 506 के तहत मुकदमा नं.209 दर्ज कर लिया है।

ऐसा नहीं हैं कि अकेले प्रेम नारायण शास्त्री ही ऐसे व्यक्ति हैं जोकि इस बिट्टू पंजाबी की ठगी के शिकार हुए हैं। ऐसे लोगों की लिस्ट/फेहरिस्त काफी लंबी है जिनसे इसने पैसे लेकर उन्हें चैक दे रखे हैं और जो बैंक से बाऊंस हुए पड़े हैं। वो बात अलग है कि स्थानीय पुलिस में उसके रौब को देखते हुए कोई आसानी से इसके खिलाफ शिकायत नहीं करता।
हालांकि अब थाना ओल्ड में बिट्टू पंजाबी के खिलाफ मुकदमा दर्ज होने के बाद इसकी ठगी की मार के शिकार एक दुकानदार ने बताया कि उसको भी उसने दो चैक उधार ली गई रकम के बदले दे रखे थे जोकि बैंक से बाऊंस हो गए हैं। इस पर उन्होंने बिट्टू पंजाबी को अपने वकील के माध्यम से नोटिस दे दिया है और अब वे इस मामले में पुलिस की शरण लेकर इसके खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाएंगे।

नोट:- अगर इस बिट्टू पंजाबी की ठगी के शिकार कोई ओर व्यक्ति/पीडि़त हैं तो मैट्रो प्लस से संपर्क कर सकते हैं। हम जनहित में ऐसे पीडि़़त लोगों की आवाज पुलिस प्रशासन तक पहुंचाने का काम करेंगे।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *