BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

सूरजकुण्ड मेला हरियाणा की शान है और भारत का सम्मान है: धमेन्द्र

मेला हमारे अंदर नए उत्साह, उमंग व ऊर्जा लेकर आते है: मुख्यमंत्री
सूरजकुण्ड मेले में न केवल देश की बल्कि विदेशों की कला व संस्कृति का भी विशेष समागम होता है: डा० सुमिता मिश्रा
नवीन गुप्ता
सूरजकुंड (फरीदाबाद), 1 फरवरी: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने कहा कि हरियाणा के शिवालिक एवं अरावली पर्वतीय क्षेत्रों में इको टुरिज्म की अपार सम्भावनाएं हैं तथा चीन की एक कम्पनी वांडा ग्रुप ने 3000 एकड़ क्षेत्र में लगभग 10 बिलीयन अमेरिकी डॉलर अर्थात 60 हजार करोड़ रूपए के निवेश के साथ इन क्षेत्रों में एक टाऊनशिप सहित वीक एण्ड टुरिज्म की योजना पर कार्य करने की पेशकश की है। इससे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। मुख्यमंत्री आज सूरजकुण्ड में 30वें अन्तर्राष्ट्रीय हस्तशिल्प मेले का विधिवत उद्वघाटन करने उपरान्त उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे। इस वर्ष सूरजकुण्ड मेले में जापान व चीन मुख्य भागीदारी देश तथा तेलंगाना थीम राज्य की भूमिका निभा रहे हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसे मेले हमारे अंदर नए उत्साह उमंग व ऊर्जा लेकर आते हैं भले ही कलाकारों की भाषाएं अलग भी हो सकती हैं परन्तु हम उनकी प्रस्तुति की भावनाओं को समझ सकते हैं और एक दूसरे की संस्कृति की जानकारी ले सकते हैं। उन्होंने कहा कि धर्म नगरी कुरूक्षेत्र गीता व महाभारत की भूमि है। केन्द्रीय पर्यटन मंत्रालय ने 175 करोड़ रूपए की अनुमानित लागत से अन्तर्राष्ट्रीय कृष्णा सर्किट को एक पर्यटक सर्किट के रूप में विकसित करने की योजना घोषित की है। जिसके अंतर्गत हरियाणा के कुरूक्षेत्र की 48 कोस की परिधि में 138 स्थल पड़ते हैं जिनका धार्मिक दृष्टि से कोई न कोई विशेष महत्व है तथा आने वाले समय में सात दिन के एक विशेष पैकेज के तहत पर्यटकों को आकर्षित करने की योजना तैयार की जायेगी। इसी प्रकार कालका से कलेसर तक भी इको टूरिज्म की अपार सम्भावनाएं हैं। हरियाणा को पर्यटन के अन्तर्राष्ट्रीय मानचित्र पर लाने की विशेष योजनाएं तैयार की जायेंगी।
बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान को सफल बनाने में हरियाणा के लोगों के सहयोग की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा के लोग जो करने की ठान लेते हैं उसे वे मन से करते हैं। उन्होंने स्मरण कराया कि जब गत् वर्ष 22 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पानीपत से इस अभियान की शुरूआत की थी तो कुछ अधिकारियों ने इसकी सफलता पर शंका जाहिर की थी। उन्होंने कहा कि यह उनके स्वयं के लिए भी एक चुनौती है क्योंकि मुख्यमंत्री के रूप में 26 अक्तूबर को ही उन्होंने कार्यभार सम्भाला था और एक बड़ा कार्यक्रम था। परंतु लोगों के सहयोग से हम इसमें सफल रहे हैं। चाहे हमने प्रसव पूर्व निदान तकनीक अधिनियम को सख्ती से लागू किया और इसके उल्लंघन के दोषियों को न केवल हरियाणा से बल्कि उत्तर प्रदेश, दिल्ली व राजस्थान जैसे पड़ोसी राज्यों से गिरफ्तार करवाया और इसका परिणाम यह हुआ कि आज हरियाणा में दिसम्बर-2015 को लिंगानुपात का आंकड़ा 1000 लड़कों के पीछे 903 लड़कियों का है और आगामी छ: महीने में इसे हम 950 तक करने का प्रयास करेंगे।
हरियाणा की लिंगानुपात की स्थिति के सुधार की चर्चा कल प्रधानमंत्री ने अपने मन की बात कार्यक्रम में भी रेडियो पर कही है जो हमारे लिए गर्व की बात है। मुख्यमंत्री ने हरियाणा की बेटी सुप्रसिद्ध अन्तरिक्ष यात्री कल्पना चावला को भी आज उनके शहीदी दिवस पर श्रद्धांजलि दी। उन्होंने लोगों से अपील की कि वे देश व राज्य की प्रगति में ईमानदारी व मन से योगदान देने का संकल्प लें और मन से लिए हुए संकल्प से सफलता अवश्य मिलती है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने सूरजकुण्ड मेले के टेबल कलैण्डर का विमोचन भी किया।
केन्द्रीय रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने अपने सम्बोधन में कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रयासों से आज भारत ने विश्व में एक नई पहचान बनाई है। आज पूरा विश्व भारत की ओर देख रहा है। देश की अर्थव्यवस्था सुदृढ़ करने की प्रधानमंत्री की विशेष सोच है। पर्यटन में नई सम्भावएं तलाशी जा रही हैं। उन्होंने घोषणा की कि सूरजकुण्ड मेेला समाप्त होने उपरान्त वे रेलवे पोर्टल के माध्यम से यहां के हस्तशिल्पियों को विश्व बाजार में ई-कॉमर्स के माध्यम से उपलब्ध करवाया जायेगा।
केन्द्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्य मंत्री महेश शर्मा ने अपने सम्बोधन में कहा कि केन्द्रीय पर्यटन मंत्रालय भारत की 7500 किलोमीटर लम्बी समुद्री सीमा पर पर्यटकों को आकर्षित करने की विशेष योजना तैयार कर रहा है। उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति व सभ्यता की विश्व में विशेष मान्यता है। उन्होंने कहा कि पर्यटन के क्षेत्र में यह सकल घरेलू उत्पाद का काफी कम योगदान है। इको टुरिज्म, गोल्फ टुरिज्म तथा रूरल टुरिज्म के माध्यम से विदेशी पर्यटकों को आकर्षित कर सकते हैं। केवल 68 प्रतिशत विश्व टुरिज्म में भारत का योगदान है। इसे एक प्रतिशत से अधिक पहुंचाया जायेगा।
हरियाणा के पर्यटन मंत्री रामबिलास शर्मा ने अपने सम्बोधन में कहा कि मेले प्राचीन समय से ही हरियाणा के लोगों, विशेषकर ग्रामीण क्षेत्र में शौक व चाव के विषय रहे हैं। लोग पहले से ही इनकी तैयारी करनी आरम्भ कर देते हैं। सूरजकुण्ड मेला अब एक अन्तर्राष्ट्रीय स्तर का शिल्प उत्सव बन गया है। इस वर्ष 23 देश मेले में भाग ले रहे हैं जो इस बात को प्रमाणित करते हैं। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद बृज की भूमि है तथा यहां पर पाण्डवों के इतिहास व महाभारत से जुड़े किस्से भी सुनने को मिलते हैं। उन्होंने कहा कि इस वर्ष मेले में विद्यार्थियों के लिए प्रवेश नि:शुल्क है। उन्होंने कहा कि सतनाली से सूरजकुण्ड मेले तक हरियाणा परिवहन की मेला एक्सप्रैस नाम से बस सेवा भी आरम्भ की गई है जो 15 फरवरी तक चलेगी। उन्होंने बॉलीवुड के हीमैन के नाम से प्रसिद्ध सिने स्टार धमेन्द्र का भी विशेष आभार प्रकट किया जिन्होंने हरियाणा पर्यटन का ब्रान्ड अम्बेसडर बनना स्वीकारा है।
समारोह में प्रसिद्ध सिने स्टार धमेन्द्र ने अपने सम्बोधन में मुख्यमंत्री व पर्यटन मंत्री रामबिलास का विशेष धन्यवाद किया जिन्होंने हरियाणा पर्यटन का ब्रान्ड अम्बेसडर बनाकर फिल्म में उन्हें नया रोल दिया है। उन्होंने कहा कि सूरजकुण्ड मेला हरियाणा की शान है और भारत का सम्मान है। उन्होंने कहा कि वे जो भी रोल करते हैं वे सदैव मन से करते हैं और यह नया रोल भी मन से करेंगे। उन्होंने लोगों से नशे से दूर रहने की अपील की और आपस में भाईचारे व इन्सानियत के साथ रहने को कहा क्योंकि इन्सानियत से बड़ी कोई चीज नहीं है।
पर्यटन विभाग की प्रधान सचिव व सूरजकुण्ड क्राफ्ट मेले की उपाध्यक्षा डा० सुमिता मिश्रा ने मेला प्रबन्धों पर विशेष प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि वर्ष-2013 से सूरजकुण्ड मेले को अन्तर्राष्ट्रीय मेले का दर्जा प्राप्त हुआ है। इस मेले में न केवल देश की बल्कि विदेशों की कला व संस्कृति का भी विशेष समागम होता है। इस वर्ष मेले की विशेषता है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के डिजिटल इण्डिया कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए मोबाइल एप पर भी मेले से जुड़ी जानकारियां ले सकते हैं। मेले में सुरक्षा प्रबन्धों के लिए 1200 पुलिसकर्मियों के अलावा 150 स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं तथा आपदा प्रबन्ध की विशेष योजना तैयार की गई है। हरियाणा पर्यटन निगम के प्रबन्ध निदेशक विकास यादव ने धन्यवाद प्रस्ताव पेश किया।
हरियाणा सूचना, जनसम्पर्क एवं सांस्कृतिक कार्य विभाग हरियाणा की महिला कलाकारों द्वारा पीला रंगा दो जी, पीला ओढ़कर जच्चा कुआं पर आई जी गीत के साथ बेटी के जन्म पर कुआं पूजन रस्म की प्रस्तुति दी गई जो आमतौर पर बेटे के जन्म पर निभाई जाती है जिसकी उपस्थित लोगों ने काफी सराहना की।
इस वर्ष मेले के थीम राज्य तेलंगाना का गोलकुण्डा किला मेले की चौपाल पर विशेष रूप से प्रदर्शित किया गया है। तेलंगाना के लोक कलाकारों द्वारा विशेष प्रस्तुति दी गई। इसके अलावा जापान के कलाकारों द्वारा भी लोक कला का प्रदर्शन किया गया।
इस अवसर पर केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर, तेलंगाना के पर्यटन मंत्री अजमेरा चंदूलाल, मुख्य संसदीय सचिव सीमा त्रिखा व सरदार बख्शीश सिंह विर्क, विधायक विपुल गोयल, मूलचंद शर्मा, टेकचंद शर्मा व रविन्द्र मछरौली, हरियाणा भाजपा प्रभारी डा० अनिल जैन, केन्द्रीय पर्यटन सचिव विनोद जुत्शी, तेलंगाना के पर्यटन सचिव वी० वेंकटेशम, मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार अमित आर्य व ओ.एस.डी. राजकुमार भारद्वाज, कैप्टन भूपेन्द्र तथा जवाहर यादव, राजनैतिक सचिव दीपक मंगला, भाजपा प्रदेश महामंत्री संदीप जोशी, भाजपा जिलाध्यक्ष एडवोकेट गोपाल शर्मा, पूर्व जिला अध्यक्ष अजय गौड, वरिष्ठ भाजपा नेता ईश्वर दयाल गोयल, रेनू भाटिया, अनीता शर्मा, राजीव जेटली, डा० कौशल बाठला, नरेन्द्र बिधूड़ी, ओमप्रकाश रक्षवाल, राजेश नागर, उमेश भाटी, डा० आर.एन. सिंह, संध्या बजाज, एस.के. सचदेवा, जे.पी. मल्होत्रा व ज्ञानेन्द्र भड़ाना, उपायुक्त चन्द्रशेखर, पुलिस आयुक्त सुभाष यादव, पुलिस संयुक्तायुक्त जगदीश नागर, अतिरिक्त उपायुक्त एवं मेला प्रशासक डा० आदित्य दहिया, हुडा प्रशासक डा० गरिमा मित्तल, नगराधीश गौरव अंतिल, एस.डी.एम. महाबीर प्रसाद तथा सचिव आर.टी.ए. जयदीप कुमार सहित जिला प्रशासन के कई अन्य सम्बन्धित अधिकारियों के अलावा बड़ी संख्या में भारत के सभी राज्यों व विदेशों के शिल्पकार, गणमान्य व्यक्ति एवं आगन्तुक उपस्थित थे।DSC_4642 DSC_4444 DSC_4460 DSC_4486 DSC_4497 DSC_4505 DSC_4516 DSC_4538 DSC_4564 DSC_4634

 




Leave a Reply

Your email address will not be published.