BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

जिला उपायुक्त ने कसी निजी स्कूलों की लूट-खसौट पर नकेल: नहीं देनी होगी बढ़ी हुई फीस

नवीन गुप्ता
फरीदाबाद, 25 मार्च: निजी स्कूलों की लूट-खसौट, मनमानी व जिला प्रशासन द्वारा उन्हें दिए जा रहे संरक्षण के विरोध में मंगलवार को जिला उपायुक्त कार्यालय पर सैंकड़ों अभिभावकों के द्वारा किए गए जबरदस्त आक्रोश प्रदर्शन के फलस्वरूप बुधवार को उपायुक्त ने अपना वायदा पूरा करते हुए अभिभावकों के हित में पत्र जारी किया। जिला शिक्षा अधिकारी के हस्ताक्षर से निकाले गए इस पत्र में सीबीएसई व हरियाणा बोर्ड से मान्यता प्राप्त सभी निजी स्कूल प्रबंधकों को निर्देश दिया गया है कि वे शिक्षा सत्र 2015-16 में छात्रों से बढ़ी हुई फीस न लें, जो फीस छात्र शिक्षासत्र 2014-15 में दे रहे थे उसी अनुसार छात्रों से फीस ली जाए।
पत्र में प्रबंधकों को यह भी स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि अपने स्कूलों में एनसीईआरटी से संबंधित निर्धारित पुस्तकें ही लगाई जाएं और हरियाणा के शिक्षा विभाग द्वारा बनाए गए मान्य मद व फंडों में ही छात्रों से फीस वसूली जाए। एडमिशन फीस व वार्षिक चार्ज केवल नए दाखिले एवं कक्षा पहली, छठी, नौंवी व ग्यारहवीं से ही ली जाए। इसके अतिरिक्त अन्य किसी कक्षा में न ली जाए। स्मार्ट क्लास, कम्प्यूटर फीस, एक्टीविटी फीस जैसी असामान्य मदों में फीस न ली जाए। पत्र में यह भी लिखा गया है कि नियमों के अनुसार एक सेक्शन में 40 बच्चों से ज्यादा न बैठाए जाएं।
हरियाणा अभिभावक एकता मंच ने उपायुक्त द्वारा निभाए गए अपने वायदे पर उनका आभार प्रकट करते हुए कहा है कि वे इस बात पर नजर रखें कि निजी स्कूल प्रबंधक जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा निकाले गए निर्देश पत्र में लिखी गई बातों पर कितना अमल करते हैं। मंच ने इसे जागरूक अभिभावकों की जीत बताया है और एमवीएन, एपीजे, एमवीएन अरावली हिल्स, डीपीएस, मानव रचना, टेगौर, डीपीएस ग्रेटर फरीदाबाद, मॉडर्न, सैन्ट जॉन, सैन्ट थॉमस, सैन्ट जौसफ, रेयान, डीएवी आदि स्कूलों की पेरेन्ट एसोसिएशन के सहयोग के लिए उनका धन्यवाद किया है।
मंच ने सभी स्कूलों की पेरेन्ट एसोसिएशन को कहा है कि वे इस पत्र के निर्देशों के अनुसार अपने स्कूल के छात्रों से फीस जमा कराएं और अगर स्कूल प्रबंधक इस पत्र के अनुसार उचित कार्यवाही नहीं करते हैं तो इसकी जानकारी तुरंत मंच की जिला कमेटी के अध्यक्ष एडवोकेट शिवकुमार जोशी, जिला सचिव डा. मनोज शर्मा व मंच के जिला कार्यालय 56, लॉयर्स चैम्बर, जिला कोर्ट फरीदाबाद में दें।
मंच के प्रदेश महासचिव कैलाश शर्मा, संरक्षक सुभाष लांबा व पेरेन्ट एसोसिएशन के पदाधिकारी ओपी तंवर, वेद प्रकाश, भगत सिंह, नम्रता वालिया, मैडम मेहता, राजीव अरोड़ा, सी अदलक्खा आदि पेरेन्ट्स सुबह से ही जिला उपायुक्त कार्यालय पर इस पत्र को लेने के लिए इकट्ठे हुए और उपायुक्त महोदय से पत्र देने के लिए आग्रह किया। उन्होंने एसडीएम फरीदाबाद से कहा कि मंच को पत्र जारी कर दिया जाए लेकिन सायं 4 बजे तक मंच को कोई भी पत्र एसडीएम व जिला शिक्षा अधिकारी की तरफ से नहीं दिया गया। इस पर मंच ने अपनी नाराजगी उपायुक्त से की। इस पर उन्होंने तुरंत हस्तक्षेप करते हुए जिला शिक्षा अधिकारी को आदेश दिए कि मंच को शीघ्र पत्र जारी कर दिया जाए। उसके बाद अभिभावकों के हित में यह पत्र जिला शिक्षा अधिकारी ने जारी किया। मंच ने अपनी जिला कमेटी की एक आवश्यक बैठक शनिवार को बुलाई है जिसमें इस पत्र की समीक्षा की जाएगी और मंच द्वारा आगे की रणनीति पर विचार किया जाएगा।




Leave a Reply

Your email address will not be published.