BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

मोदी राज में कोरोना काल के बावजूद अडानी समूह की संपत्ति एक साल में दुगनी हुई, सुपर रिच लिस्ट में 80 से बढ़कर 90 हुए अरबपति!


मैट्रो प्लस से नवीन गुप्ता की रिपोर्ट।
नई दिल्ली, 27 दिसम्बर:
मोदी राज में जहां गरीब और गरीब हुआ है वहीं अमीर और अमीर। सन 2020 के कोरोना संक्रमण के इस दौर में आम लोगों की इनकम में भले ही कमी आई हो लेकिन हाल-फिलहाल के शेयर बाजार में आई तेजी ने देश के कई बड़ी कंपनियों के प्रमोटरों को मालामाल कर दिया है। जिसका परिणाम है कि अब देश की सुपर रिच लिस्ट में 80 से बढ़कर 90 अरबपति हो गए हैं। ध्यान रहे कि पिछले साल अरबपति प्रमोटरों की संख्या 80 थी। इनकी कुल संपत्ति अब 483 अरब डॉलर पर पहुंच गई है, जबकि पिछले साल (2019) उनकी कुल संपत्ति 364 अरब डॉलर थी। यह पिछले साल की तुलना में 33 फीसदी अधिक है।

सबसे अधिक बड़ी अडानी समूह की संपत्ति।:-
बता दें कि देश के अग्रणी अडाणी समूह के गौतम अडाणी की संपत्ति 2020 में सबसे ज्यादा बढ़ी है। अडाणी फैमिली की संपत्ति 2020 में दोगुनी होकर 41 अरब डॉलर के करीब हो गई, जो एक साल पहले 20 अरब डॉलर थी। अडाणी ग्रीन, अडाणी पोर्ट्स & सेज और अडाणी एंटरप्राइजेज के शेयरों में उछाल से उनकी संपत्ति काफी बढ़ी है। अडाणी ग्रुप की लिस्टेड कंपनियों की मार्केट कैपिटलाइेजशन बढ़ कर 4.18 लाख करोड़ रुपये हो गई है। पिछले साल यह 2 लाख करोड़ रुपये की थी। जानकारी के मुताबिक समूह की सूचीबद्घ कंपनियों में अडाणी परिवार के पास 73 फीसदी हिस्सेदारी है।

टेक्नोलॉजी सेक्टर के प्रमोटर भी मालामाल।:-
टेक्नोलॉजी सेक्टर के उद्यमियों में विप्रो के अजीम प्रेमजी, HCL TACH के शिव नाडर और इन्फोसिस के संस्थापकों की कुल एसेट में 2020 में बड़ी उछाल दर्ज की गई। निवेशकों ने इन कंपनियों के शेयरों में काफी दिलचस्पी दिखाई। इस वर्ष जिन अन्य प्रमोटर की संपत्ति में उछाल आई उनमें एशियन पेंट्स के प्रमोटर (48 फीसदी ), एवेन्यू सुपरमार्ट के आर के दमानी (41 फीसदी ), सुनील मित्तल (21 फीसदी ) और इन्फोसिस के संस्थापक (66 फीसदी) शामिल हैं। लिस्टेड कंपनियों के प्रमोटरों की संपत्ति करीब 41.6 लाख करोड़ रुपये रहने का अनुमान लगाया गया है. यह एक वर्ष पहले के 31.3 लाख करोड़ रुपये से 33 फीसदी अधिक है।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *