BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

Homerton ग्रामर स्कूल के संस्थापक कुलदीप सिंह Life Time Award से नवाजे गए।

मैट्रो प्लस से नवीन गुप्ता की रिपोर्ट
फरीदाबाद, 31 मई
: शिक्षा क्षेत्र में अनवरत/उल्लेखनीय योगदान के लिए सैक्टर-21ए स्थित हॉमर्टन ग्रामर स्कूल के संस्थापक एवं प्रतिष्ठित शिक्षाविद्व सरदार कुलदीप सिंह को लाइफ टाइम अवार्ड से नवाजा गया है। उनको यह सम्मान फरीदाबाद प्रोग्रेसिव स्कूल्स कॉन्फ्रेंस द्वारा रेडिसन ब्ल्यू होटल में आयोजित विशेष सम्मान समारोह अभिनंदन में सीबीएसई के सचिव अनुराग त्रिपाठी एवं जिला उपायुक्त जितेन्द्र यादव के हाथों प्राप्त हुआ। शिक्षाविद्व सरदार कुलदीप सिंह को शाल एवं सम्मान पत्र से सम्मानित किया गया। वहीं हामर्टन ग्रामर स्कूल ेके डॉयरेक्टर राजदीप सिंह और प्रेरणा सिंह को शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने के लिए सम्मानित किया गया।
कार्यक्रम के आयोजन का उद्देश्य राष्ट्र निर्माताओं को सम्मानित करना था। कार्यक्रम में अनेक गणमान्य एवं प्रतिष्ठित शिक्षाविद तथा वरिष्ठ पत्रकार भी उपस्थित थे। यह सम्मान शिक्षा क्षेत्र में निरंतर 58 वर्ष तक त्याग के लिए एवं राष्ट्र निर्माण में योगदान के लिए शिक्षाविदों को दिया गया था। कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने की जबकि मुख्य अतिथि के रूप में सीबीएसई के सचिव अनुराग त्रिपाठी ने आयोजन की शोभा बढ़ाई।
लाइफ टाइम अवार्ड प्राप्ति के बाद सरदार कुलदीप सिंह ने फरीदाबाद के सभी शिक्षा प्रेमियों, सहयोगियों तथा फरीदाबाद प्रोग्रेसिव स्कूल्स कॉन्फ्रेंस को हार्दिक धन्यवाद दिया तथा हॉमर्टन परिवार के सभी सदस्यों को आशीर्वाद देते हुए आनंद व्यक्त किया।
वस्तुत: श्री कुलदीप सिंह जो हॉमर्टन ग्रामर स्कूल के संस्थापक हैं और कई वर्षो तक प्रधानाचार्य के रूप में अपनी अमूल्य सेवाए दे चुके हैं, फरीदाबाद में शिक्षा क्षेत्र में क्रांतिकारी परिवर्तन के लिए प्रसिद्ध हैं। पंजाब विश्वविद्यालय से इंग्लिश में मास्टर्स की डिग्री प्राप्त करने के बाद उन्होंने पंजाब के फगवाड़ा क्षेत्र से अध्यापन कार्य शुरू किया और इंग्लैंड के कई सेकेंडरी स्कूलों में गणित अध्यापक के रूप में अपनी सेवाएं दी। तत्पश्चात देश-विदेश के अनेक स्थानों के शिक्षण अनुभव के साथ सन् 1983 में फरीदाबाद के शिक्षा क्षेत्र में उनका पदार्पण हुआ और यह यात्रा आज भी किसी न किसी रूप में जारी हैं। वे आज भी फरीदाबाद शिक्षण क्षेत्र में चमकते सूर्य की तरह प्रकाशमान हैं।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *