BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

जानिए कौन है वो कांग्रेसी नेता जिससे मांगी गई है रंगदारी!

मैट्रो प्लस से नवीन गुप्ता की रिपोर्ट
बल्लभगढ़, 20 जुलाई:
शहर में क्राईम/अपराध घटने की बजाए दिनोंदिन बढ़ता जा रहा है। अब फरीदाबाद शहर भी बड़ी तेजी से अपराधियों का गढ़ बनता जा रहा है। शायद ही कोई ऐसा दिन होगा जब फरीदाबाद जिले में हत्या, बलात्कार, डकैती, लूटपाट, फिरौती, अपहरण, छीना-झपटी, चैन स्नेचिंग, राहजनी, वाहन चोरी आदि जैसी अपराधिक वारदातें सुनने का ना मिलती हों। और अब तो यूपी-बिहार की तर्ज पर फरीदाबाद में उद्योगपतियों/नेताओं से रंगदारी मांगने जैसे संगीन मामले भी सामने आने लगे हैं जिसका जीता-जागता सबूत हैं विकास चौधरी हत्याकांड। मशहूर गैंगस्टर कौशल गैंग द्वारा रंगदारी के मामले में जब से कांग्रेस नेता विकास चौधरी की दिनदहाड़े गोलियों से भूनकर हत्या की गई है तब से तो लोगों के दिलों में दहशत घर कर गई है। आम और खास आज कोई भी अपने आपको सुरक्षित मानकर नहीं चल रहा है।
कौशल गैंग की दहशत में जी रहे शहर के लोगों के बीच अब शहर में एक रंगदारी मांगने का नया मामला सामने आया है। हालांकि रंगदारी किसने और कितने की मांगी है ये अभी तक स्पष्ट नहीं हैं लेकिन पुलिस ने एक कांग्रेस नेता की शिकायत पर फिलहाल मुकदमा दर्ज कर उसको सुरक्षा मुहैया करा दी है।
जी हां, हम बात कर रहे है उसी कांग्रेस नेता व रबर व्यापारी मनोज अग्रवाल की जिसको पिछले दिनों जीएसटी की टीम ने GST चोरी करने के आरोप में गिरफ्तार कर नीमका जेल की सलाखों के पीछे पहुंचा दिया था। मनोज अग्रवाल ने इस संबंध में पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है। बताया जा रहा है कि उससे एक करोड़ रुपए की रंगदारी मांगी गई है। यह रंगदारी मनोज अग्रवाल के मोबाइल पर बदमाशों ने वॉइस मैसेज भेजकर मांगी है। वैसे तो फरीदाबाद में कई अन्य उद्योगपतियों से भी रंगदारी मामले की चर्चाएं जोरों पर है, लेकिन पुलिस अधिकारी इसकी पुष्टि नहीं कर रहे हैं।
हालांकि डीसीपी क्राईम राजेश कुमार ने शिकायत के आधार पर आदर्श नगर थाने में मुकदमा दर्ज कर मनोज अग्रवाल को फिलहाल सुरक्षा तो मुहैया करा दी है लेकिन साथ ही उनका यह भी कहना है कि मामला उन्हें संदेहात्मक लग रहा है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।
अपने आपको कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर का खासमखास बताकर बल्लभगढ़ विधानसभा से कांग्रेस की टिकट के प्रमुख दावेदार बताने वाले मनोज अग्रवाल के मुताबिक पिछले दिनों उनके मोबाइल पर एक वॉइस मैसेज आया जिसमें उनसे मैसेज भेजने वाले बदमाशों ने रंगदारी मांगी थी और रंगदारी न देने पर बदमाशों ने उसे जान से मारने की धमकी दी थी। रंगदारी कितने की और किसने मांगी इसके बारे में वे साफ-साफ बोलने से कतरा रहे हैं। बकौल मनोज कुछ दिन तो वे इस बात/धमकी को हल्के में लेकर टालमटोल कर गए। लेकिन बाद में उन्होंने इसे गंभीरता से लिया और पुलिस अधिकारियों को इसकी शिकायत की। वॉइस मैसेज सुनते ही पुलिस हरकत में आ गई और सब पहले पुलिस ने मनोज को सुरक्षा मुहैया कराकर उसकी शिकायत पर इस धमकी के संबंध में केस दर्ज कर लिया। मनोज अग्रवाल की मानें तो उन्हें इस तरह की धमकियां अक्सर मिलती रहती है।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *