BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

गरीब और मध्यम वर्ग पर पड़ रही है महंगाई की मार, लगातार बढ़ रहा है अमीर और गरीब के बीच का अंतर: हुड्डा

किसानों के संघर्ष का सम्मान करे सरकार, जल्द माने उनकी मांगें: हुड्डा
वक्त के साथ लगातार बड़ा होता जा रहा है किसानों का आंदोलनए हर वर्ग किसानों के साथ: हुड्डा
अविश्वास प्रस्ताव से जनता के सामने आएगी गठबंधन सरकार और विधायकों की सच्चाई: हुड्डा
मैट्रो प्लस से नवीन गुप्ता की रिपोर्ट।
फरीदाबाद,18 फरवरी:
सरकार को किसानों के संघर्ष का सम्मान करना चाहिए। उनकी मांगे पूरी तरह जायज हैं, इसलिए सरकार को किसानों से बातचीत कर जल्द समाधान निकालना चाहिए। ये कहना है पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा का। हुड्डा आज फरीदाबाद में कई सामाजिक कार्यक्रमों शिरकत करने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने पत्रकार को भी संबोधित किया।
पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन को लगभग 3 महीने बीत चुके हैं। वक्त के साथ आंदोलन लगातार बड़ा होता जा रहा है। देशभर के किसानों के साथ मजदूर, दुकानदार, कर्मचारी और छोटे व्यापारी का साथ भी किसानों को मिल रहा है। सरकार को भी जिद्द छोड़कर किसानों का साथ देना चाहिए और उनकी मांगे माननी चाहिए।
भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि देश का हर वर्ग आज रिकॉर्ड तोड़ महंगाई से त्रस्त है। पेट्रोल-डीजल के दाम सैंकड़ा छू रहे हैं। गैस सिलेंडर और खाने-पीने का सामान लोगों की रसोई का बजट बिगाड़ रहा है। गरीब और मध्यम वर्ग बेहद मुश्किल से दौर से गुजर रहा है, क्योंकि उसकी आमदनी तो घट रही है लेकिन महंगाई की वजह से खर्चे लगातार बढ़ रहे हैं। विशेष तौर पर पिछले 5-6 साल से गरीब और अमीर के बीच का अंतर लगातार बढ़ता जा रहा है। अमीर और अमीर होता जा रहा है, गरीब और गरीब होता जा रहा है।
अविश्वास प्रस्ताव पर पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए हुड्डा ने कहा कि प्रदेश की बीजेपी-जेजेपी सरकार जनता का विश्वास खो चुकी है। अविश्वास प्रस्ताव से सरकार के भीतर का सच जनता के सामने आ जाएगा और लोगों को पता चलेगा कि कौन सी पार्टी और कौन सा विधायक जनता के साथ है और कौन आज भी सरकार के साथ खड़ा है।
अभय चौटाला के इस्तीफे के सवाल का जवाब देते हुए हुड्डा ने कहा कि प्रदेश की जनता को पता है कि उन्होंने सिर्फ सरकार को मजबूती देने के लिए इस्तीफा दिया है। विपक्षी विधायक के तौर पर अपना फर्ज निभाने की बजाए उन्होंने इस्तीफा देकर जनता के प्रति अपनी जिम्मेदारी से भागने का काम किया है।
इस अवसर पर उनके साथ इस अवसर पर महेंद्रगढ़ के विधायक राव दान सिंह, विधायक नीरज शर्मा, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता लखन कुमार सिंगला, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता योगेश गौड़, वेद प्रकाश यादव, गिरिश भारद्वाज, अनीश पाल, गुलशन बग्गा, अब्ुदल गफ्फार कुरैशी, अशोक अरोड़ा, जिले सिंह यादव, नरेश गुप्ता, राकेश अत्री, अर्जुन सैनी, चन्द्रपाल, मदन प्रधान, गजना लाम्बा, सोनू चौधरी, प्यारेलाल, धर्मपाल चहल, कुलदीप चौधरी, राजेन्द्र चौहान, प्रेमचंद वशिष्ठ, संतु डागर, केसर डागर, बॉबी डागर, प्रदीप मुदगिल, छगन प्रधान, अनिल पोसवाल, जोगिन्द्र पहलवान, आदेश, ईश्वर पहलवान, राकेश चंडालिया, सुनील शास्त्री सहित अनेक गणमाय लोग उपस्थित थे।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *