BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

NH-5 में बन रही अवैध मार्किट से लग रहा है सरकार को करोड़ों के राजस्व का चूना

अवैध निर्माणों का गढ़ बना NIT Faridabad का NH-5

Metro Plus से Naveen Gupta की खास रिपोर्ट
Faridabad News, 5 नवम्बर:
पहले चुनाव और फिर दीवाली के त्यौहारों की आड़ में शहर में अवैध निर्माण की बाढ़ सी आई आई हुई है। जहां देखो निर्माण कार्य चल रहे हैं। कोई इन्हें रोकने वाला नहीं हैं। बड़खल विधानसभा क्षेत्र के अंर्तगत एनआईटी फरीदाबाद की एक और पांच नंबर मार्किट भी इन अवैध निर्माणों से अछूती नहीं है। यहां चारों ओर धड़ल्ले से अवैध निर्माण होते किसी भी समय देखे जा सकते हैं।
फोटो में आप देख रहे हैं पांच नंबर सब्जी मंडी के ठीक सामने निर्माणाधीन बिल्डिंग जिसमें की पूरी की पूरी मार्किट ही अवैध रूप से बनाई जा रही है। आपको जो दुकानें दिखाई दे रही हैं, ये सिर्फ इतनी ही दुकानें नहीं है बल्कि इसके अंदर पूरी की पूरी मार्किट ही अवैध रूप से बना दी गई है।
वैसे तो यहां मार्किट में अक्सर जाम लगा रहता है लेकिन इस अवैध मार्किट के बन जाने के बाद यहां जाम की पोजिशन ओर ज्यादा खराब हो जाएगी और लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ेगा। वैसे भी इस मार्किट के लिए निर्माणकर्ताओं ने नगर निगम से कोई नक्शा पास नहीं कराया है। जिससे कि सरकार को भी करोड़ों के राजस्व का चूना लग रहा है। लेकिन ना जाने क्यूं नगर निगम की तोडफ़ोड़ टीम इस ओर ध्यान ही नहीं दे रही है।
इसके अलावा एन.एच.-5 में के.सी. सिनेमा रोड़ पर रोड़ पर हाल-फिलहाल कई अवैध निर्माण चल रहे हैं जिनमें से ज्यादातर की बेसमेंट के लेंटर भी डाल दिए गए हैं। वहीं कई तो अवैध निर्माण तो बहुमंजिला कॉमशियल बिल्डिंग/ईमारत का रूप ले चुके है।
केसी सिनेमा रोड़ पर बैंक ऑफ बड़ौदा और बांगा गेस्ट हाऊस के बीचोंबीच बेसमेंट बनाई जा रही है जिसका कोई नक्शा पास नहीं है। यहां चुनावों और त्यौहारों की आड़ में दिन-रात काम किया जा रहा है। जिसे रोकने वाला कोई नहीं हैं।
इस बारे में जब तोडफ़ोड़ विभाग के एक्सईएन ओमबीर सिंह से बात की गई तो उनका कहना था कि वो अभी तक चुनावों की सरकारी ड्यूटी में बीजी थे। लेकिन अब उन्होंने पुलिस फोर्स मांग ली है। जल्द ही इन अवैध निर्माणों पर तोडफ़ोड़ की कार्यवाही की जाएगी।


केसी सिनेमा रोड़ पर बैंक ऑफ बड़ौदा और बांगा गेस्ट हाऊस के बीचोंबीच बनाई जा रही बेसमेंट



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *