BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

शहर के विकास के प्रतीक FMDA ने किया अपना आधिकारिक लोगो लॉन्च!

मैट्रो प्लस से नवीन गुप्ता की रिपोर्ट
फरीदाबाद, 1 जुलाई: शहर के विकास का प्रतीक फरीदाबाद महानगर विकास प्राधिकरण यानि FMDA का आधिकारिक लोगो FMDA के CEO सुधीर राजपाल ने लांच किया। FMDA के HSIIDC सेक्टर-69 स्थित कार्यालय में हुई प्राधिकरण की मीटिंग में यह लोगो लॉन्च किया गया और भविष्य के प्रयोग के लिए इसे स्वीकार भी किया गया। इस अवसर पर प्राधिकरण की एडिशनल CEO डॉ. गरिमा मित्तल व ज्वाईंट CEO भूपेंद्र सिंह सहित प्राधिकरण के सभी अधिकारी मौजूद थे।
इस अवसर पर एफएमडीए के CEO सुधीर राजपाल ने बताया कि यह लोगो राहुल शाक्य व रॉकी भड़ाना द्वारा भेजे गए दो अलग-अलग लोगो को मिलाकर तैयार किया गया है। उन्होंने बताया कि फरीदाबाद महानगर विकास प्राधिकरण का लोगो तैयार करने के लिए ऑनलाइन प्रविष्टि मांगी गई थी। इस कार्य के लिए 107 लोगों ने अपनी प्रविष्टि तैयार कर भेजी थी। इन सभी प्रविष्टियों का निरीक्षण करने उपरांत राहुल शाक्य व रॉकी भड़ाना के द्वारा भेजी गई दो अलग-अलग प्रविष्टियों का चयन किया गया।
फरीदाबाद शहर के रहने वाले राहुल शाक्य सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं व अनंगपुर गांव निवासी रॉकी भड़ाना पेशे से डिजिटल आर्टिस्ट हैं। इस लोगो को प्राधिकरण के डाटा एंट्री ऑपरेटर आशीष राजपूत द्वारा फाइनल रूप से तैयार किया गया है। एफएमडीए के सीईओ सुधीर राजपाल ने बताया कि प्रविष्टि आमंत्रित करने के पश्चात इन दोनों लोगो को मिलाकर एक लोगो तैयार किया गया। उन्होंने बताया कि इस लोगो में विकास का प्रतीक सड़क, निर्माण कार्य का प्रतीक क्रेन, हरियाली का प्रतीक पत्तियां व एफएमडीए शब्दों का प्रयोग किया गया है।
उन्होंने बताया कि लोगो तैयार करने वाले दोनों व्यक्तियों को 210 हजार रूपये की पुरस्कार राशि समान रूप से प्रदान की गई। दोनों व्यक्तियों को एफएमडीए के सीईओ सुधीर राजपाल व एडिशनल सीईओ डॉ. गरिमा मित्तल ने 10,500 रुपए का चेक व प्रशस्ति पत्र प्रदान किया। उन्होंने इस कार्य के लिए बधाई भी दी।
इसके साथ ही मीटिंग में एफएमडीए के सीईओ सुधीर राजपाल ने शहर के विकास को लेकर दिशा-निर्देश भी दिए। मीटिंग में उन्होंने बरसाती सीजन को देखते हुए प्रभावी प्रबंधन के लिए जलभराव कार्यों की समीक्षा की और निर्देश दिए कि शहर में जलभराव की समस्या का प्रभावी ढंग से प्रबंधन किया जाए।
उन्होंने कहा कि शहर के तीन अंडरपास में बरसात के बाद पानी ना भरे, इसके लिए ज्यादा से ज्यादा संख्या में पंप का प्रबंध किया जाए। उन्होंने कहा कि सभी नालें व नालियों की बेहतर ढंग से सफाई हो और उन स्थानों को चिन्हित कर उचित कदम उठाए जाएं जहां बरसाती पानी भरता है। मीटिंग में शहर के विकास को लेकर कई अन्य विषयों पर भी चर्चा हुई।

..




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *