BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

Faridabad के रईसजादे पुलिसकर्मी से हथियार छीनने की कोशिश और पीटने के आरोप में Arrest

लग्जरी कार में सवार लोगों ने जांच के लिए रोकने पर पीटा था हवलदार को
Metro Plus से Naveen Gupta की रिपोर्ट
नई दिल्ली/फरीदाबाद, 2 सितंबर:
फरीदाबाद के चार रईसजादों को दिल्ली पुलिस के एक हेडकांस्टेबल के साथ मारपीट करने और हथियार छीनने के आरोप में दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिसकर्मी का कसूर केवल इतना बताया जा रहा है कि उसने रात के समय वाहन चैकिंग के दौरान एक लग्जरी गाड़ी BMW (HR-51-AP-7979 ) को चैकिंग के लिए रोक कर उनसे गाड़ी के दस्तावेज मांग लिए थे। इस पर लग्जरी कार में सवार रईसजादों ने अपनी रईशी के नशे में दंबगई दिखाते हुए ना केवल हेडकांस्टेबल से मारपीट की बल्कि उसका असलाह/हथियार छीनने की भी कोशिश की। दिल्ली पुलिस ने इस मामले में हेडकांस्टेबल की शिकायत पर फरीदाबाद के इन चारों रईसजादों पर IPC के धारा 186, 353, 332 व 393 के तहत मामला दर्ज कर उन्हें मौके से ही गिरफ्तार कर लिया। इन रईसजादों के नाम 50 वर्षीय विनोद, 22 वर्षीय वैभव, 21 वर्षीय गोविंद और 22 वर्षीय रिद्ववीक बताए गए हैं। इनमें से वैभव का पता कोठी न.-631, सेक्टर-21बी, फरीदाबाद बताया गया है वहीं लग्जरी गाड़ी BMW शिखा गोयल के नाम से कोठी न.-631, सेक्टर-21बी, फरीदाबाद के पते पर ही रजिस्ट्रर्ड है जिसको कि वैभव चला रहा था। आरोपियों के गुरूग्राम में रेस्टोरेंट/होटल चलते बताए जा रहे हैं।
पुलिस उपायुक्त चिन्मय बिश्वाल के मुताबिक नई दिल्ली में पुलिस थाना अमर कॉलोनी के अंतर्गत गढ़ी चौक पर शनिवार-रविवार की रात को पुलिस टीम गाडिय़ों की चेकिंग कर रही थी। तभी लग्जरी गाड़ी बीएमडब्ल्यू (HR-51-AP-7979) तेज स्पीड से आती दिखाई दी जिसको कि पुलिस पिकेट/नाके पर तैनात शेरसिंह नामक हैडकांस्टेबल ने रोकने का ईशारा किया लेकिन उन्होंने स्पीड बढ़ा ली। ऐसे में शेर सिंह ने बैरिकेड आगे कर गाड़ी को रोक लिया। आरोप है कि जब शेरसिंह ने कार चालक से गाड़ी के दस्तावेज मांगे तो कार चला रहे युवक वैभव सहित चारों कार सवार कार से उतरकर हेडकांस्टेबल से बहस कर झगड़ा करते हुए उन्होंने हेडकांस्टेबल की पिटाई शुरू कर दी। आरोपियों ने पीडि़त की जमकर पिटाई की। इसी दौरान आरोपी हेडकांस्टेबल ने पास में ही मौजूद अपने साथियों और थाने को घटना की जानकारी दी। जिसके बाद स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपियों को दबोच लिया। आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि उनके गुरूग्राम, फरीदाबाद में रेस्टोरेंट हैं और कुछ समय पहले तक दिल्ली में भी उनका रेस्टोरेंट था। वारदात के समय सभी ग्रेटर कैलाश आए हुए थे और वहां पार्टी करने के बाद रात करीब 3 बजे अपने घर फरीदाबाद लौट रहे थे।
बताया गया है कि उपरोक्त में से तीन आरोपी फरीदाबाद के कारोबारियों के बेटे हैं, जबकि एक आरोपी खुद कारोबारी है। वारदात के समय वह ग्रेटर कैलाश से फरीदाबाद की ओर जा रहे थे।
शराब पीने की होगी जांच:-
पुलिस सूत्रों की माने तो आरोपियों से वारदात के समय शराब पीकर गाड़ी चला रहे थे। हालांकि पुलिस अधिकारियों का कहना है कि आरोपियों का मेडिकल कराया गया है। जांच रिपोर्ट आने के बाद स्पष्ट हो पाएगा कि उन्होंने शराब पी हुई थी या नहीं।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *