BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

एल्मिको कंपनी का कृत्रिम अंग निर्माण कारखाना दिव्यांगों के पुर्नवास में वरदान साबित होगा: कृष्णपाल

Metro Plus से Jassi Kaur की रिपोर्ट
Faridabad News,12 अक्टूबर:
केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं आधिकारिता राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि फरीदाबाद के गांव नवादा में एलिम्को कंपनी द्वारा बनाए जा रहे पुनर्वास केंद्र से पूरे एनसीआर में कृत्रिम अंगों का वितरण किया जाएगा। कृत्रिम अंग तैयार करने वाला यह उत्तरी भारत में सबसे बड़ा दूसरा केंद्र होगा। केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री कृष्ण पाल गुर्जर को नवादा गांव में एडवांस इंटीग्रेटेड वैलेंस एवं पुर्नवास केंद्र के भूमि पूजन समारोह को संबोधित करते हुए कहे।
इस अवसर पर हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा, फरीदाबाद विधायक नरेंद्र गुप्ता, पृथला विधायक नयन पाल रावत, तिगांव विधायक राजेश नागर, भाजपा जिला अध्यक्ष गोपाल शर्मा के अलावा एलिम्को के सीएमडी डी.आर. सरीन सहित गांव के सरपंच बेगराज मुख्य रूप से मौजूद थे।
इस मौके पर केंद्रीय राज्य मंत्री ने समारोह में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि नवादा में बनाए जाने वाला एलिम्को सेंटर उत्तरी भारत में सबसे बड़ा दूसरा केंद्र है जहां से बनने वाले कृत्रिम अंगों का पूरे एनसीआर में वितरण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री मनोहर लाल के सहयोग से यह कारखाना आज यहां लगना संभव हुआ है। उन्होंने कहा कि दिव्यांग जनों के लिए सरकार ऐतिहासिक कार्य कर रही है व तरह-तरह की नई योजनाएं बनाई जा रही हैं। इसके लिए बजट को भी बढ़ाया गया है। केंद्रीय मंत्री ने बताया कि पूरे देश में अब तक पांच कारखाने थे और नवादा में यह छठा कारखाना है जिसको 55 करोड़ रूपए की लागत से बनाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इसमें 40 करोड़ की लागत से बिल्डिंग बनेगी तथा 15 करोड़ की लागत से मशीनें लगाई जाएंगी। उन्होंने बताया कि इस कारखाने में 70 प्रतिशत स्थानीय नौजवानों को नौकरी दी जाएंगी। इससे यहां पर बेरोजगारी भी खत्म हो जाएगी। केंद्रीय राज्य मंत्री ने कहा कि मार्च 2022 तक इस कारखाने की पूरी बिल्डिंग को तैयार कर दिया जाएगा तथा दिसंबर 2022 तक मशीनें लगाकर कारखाने को पूरी तरह शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मंत्रालय के अंतर्गत कार्यरत एलिम्को उच्च कोटि के आधुनिक उपकरण व कृत्रिम अंग निर्माण का कार्य दशकों से कर रहा है। एलिम्को की एक इकाई की जरूरत फरीदाबाद एवं आस-पास के क्षेत्र के दिव्यांग जनों के लिए महसूस हुई तो इस संबंध में हरियाणा सरकार से भूमि आवंटन के लिए सहयोग मांगा गया। हरियाणा सरकार द्वारा भूमि प्रदान की गई। उन्होंने कहा कि एलिम्को लगभग 5 एकड़ भूमि में अपना कारखाना लगाएगी। इसके लिए हरियाणा सरकार द्वारा इस सहायक उत्पादन एवं कृत्रिम अंग फिटिंग सेंटर के लिए मात्र एक रूपया प्रति एकड़ प्रतिवर्ष की दर से 33 वर्षों के लिए जमीन लीज पर दी गई है। उन्होंने बताया कि इस कारखाने में दिव्यांग जनों के लिए सहायक उपकरण जैसे मोटराइज्ड ट्राई साईकिल, व्हील चेयर, बैसाखी, वॉकिंग स्टिक के साथ-साथ कानों से सुनने वाली मशीन व अन्य कृत्रिम अंगों का निर्माण किया जाएगा।
इस मौके पर हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने इस कारखाने के लिए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल व केंद्रीय मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर का धन्यवाद व्यक्त करते हुए कहा कि पूरे प्रदेश में विकास कार्य तीव्र गति से कराए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि इस कंपनी के लगने से यहां के दिव्यांग जनों के साथ-साथ यहां के बेरोजगार युवाओं को भी रोजगार प्राप्त होगा। इससे हमारे बेरोजगार युवा अपने हाथ से काम करके स्किल के बारे में भी जानकारी ले पाएंगे। उन्होंने बताया कि इस तरह बघौला में स्किल डेवलपमेंट यूनिवर्सिटी का निर्माण किया गया है। यहां से हर बच्चा हाथ का हुनर सीख कर आगे बढ़ सकता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री व केंद्रीय मंत्री के प्रयासों से बाईपास रोड़ जो अहमदाबाद तक जा रहा है, यह अब तक का सबसे बड़ा कार्य साबित होगा।
इस अवसर पर एलिम्को की सचिव शकुंतला डोले गामलिन व संयुक्त सचिव प्रबोध सेठ ने वीडियो कांफ्रेंस के द्वारा केंद्रीय मंत्री व आम जनता को एलिक्वको के बारे में जानकारी दी।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *