BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

Movable Toilet बनाने वाली नन्हें वैज्ञानिकों को PM Modi करेंगे सम्मानित

मैट्रो प्लस से नवीन गुप्ता की रिपोर्ट
फरीदाबाद, 21 फरवरी:
सेक्टर-23ए संजय कालोनी स्थित मॉडर्न बीपी पब्लिक स्कूल की दो नन्हें वैज्ञानिकों द्वारा बनाए गए मूवेबल टॉयलेट के मॉडल को भारत सरकार के कृषि मंत्रालय ने एडोप्ट किया है। कृषि मंत्रालय द्वारा अब देशभर के ग्रामीण एवं क्षेत्रों में इसी तरह के टॉयलेट तैयार कर लगाए जाएंगे। इस उपलब्धि के लिए शहर की दोनों बेटियों और उनके अध्यापक को मंत्रालय की तरफ से 10 लाख रुपये का पुरस्कार भी दिया जा रहा है। इतना की नहीं दोनों नन्हीं वैज्ञानिकों का चयन प्रधानमंत्री बाल पुरस्कार के लिए भी किया गया है। मंत्रालय ने स्कूल प्रबंधन को इस संदर्भ में पत्र भेज कर जानकारी दी है। इस उपलब्धि के लिए स्कूल के चेयरमैन ओपी परमार ने दोनों बेटियों को बधाई दी है।
लगातार इतिहास रच रहा है मूवेबल टॉयलेट:-
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छता अभियान की सफलता में वर्तमान में सरकार की तरफ से लगाए जा टॉयलेट कई तरह की खामियों के कारण रोड़ा बन रहे है। इस स्थिति को ध्यान में रखते हुए मॉडर्न बीपी पब्लिक स्कूल की छात्रा भावना और पवनजोत कौर ने ऐसे टॉयलेट का अविष्कार करने का फैसला लिया था जिसमें किसी की खामियां न हो। दोनों छात्राओं ने स्कूल के प्रिंसीपल जितेंद्र परमार और विज्ञान अध्यापक नवीन जोशी की देखरेख में कुछ ही दिनों में एक ऐसा मूवेबल टॉयलेट का मॉडल तैयार कर दिया, जिसका कोई मुकाबला ही नहीं है। स्कूल ने सबसे पहले मूवेबल टॉयलेट के मॉडल को नवंबर 2019 में गुरूग्राम में आयोजित सीबीएसई की क्षेत्रीय प्रदर्शनी में प्रदर्शित किया था जहां मॉडल ने प्रथम पुरस्कार हासिल किया था। जनवरी 2020 में इस मॉडल ने सीबीएसई की राष्ट्रीय प्रदर्शनी में चौथा स्थान हासिल किया है। मूवेबल टॉयलेट की खासियत को देखते हुए अब केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने इसे एडोप्ट कर लिया है। इसके लिए मंत्रालय ने दोनों छात्राओं और उनके अध्यापक को 10 लाख रुपये का पुरस्कार देने का फैसला भी लिया है। मंत्रालय की अनुशंसा पर छात्राओं का चयन प्रधानमंत्री बाल पुरस्कार के लिए किया गया है। पीएम मोदी द्वारा जल्दी ही दोनों छात्रों को सम्मानित करने के साथ-साथ एक लाख रुपये का नकद पुरस्कार भी सौंपा जाएगा।
मूवेबल टॉयलेट:-
स्कूल के प्रधानाचार्य जितेंद्र परमार ने बताया कि पीएम नरेंद्र मोदी के स्वच्छता अभियान से प्रेरणा लेते हुए भावना और पवनजोत कौर ने स्कूल के भौतिक विज्ञान के अध्यापक नवीन जोशी के मार्गदर्शन में मूवेबल टॉयलेट का निर्माण किया है। उन्होंने बताया कि इस टॉयलेट में ऑटोमैटिक लॉक सिस्टम है। उपयोग करने के बाद यदि कोई व्यक्ति फ्लश नहीं करता तो टॉयलेट का दरवाजा नहीं खुलेगा। टॉयलेट की टंकी में पानी न होने की स्थिति में भी इसका दरवाजा नहीं खुलेगा। इस टॉयलेट की एक और विशेषता यह है कि यदि इसका पीट बॉक्स भर गया तो भी इसका दरवाजा नहीं खुलेगा।
आमतौर पर देखा जाता है कि सार्वजनिक स्थान पर लगे मूवेबल टॉयलेट रख-रखाव के अभाव में गंदे हो जाते है। इसी को ध्यान में रखते हुए बच्चों ने यह टॉयलेट तैयार किया है।




2 thoughts on “Movable Toilet बनाने वाली नन्हें वैज्ञानिकों को PM Modi करेंगे सम्मानित

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *