BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

विश्व पर्यटन दिवस के उपलक्ष्य में पर्यटन परिसरों में पर्यटकों को विशेष छूट जाएगी: सुमिता मिश्रा

नवीन गुप्ता
चंडीगढ़, 24 सितम्बर:
हरियाणा पर्यटन विभाग द्वारा 27 सितम्बर को विश्व पर्यटन दिवस के उपलक्ष्य में प्रदेश के सभी पर्यटन परिसरों में पर्यटकों और आगन्तुकों को 26 से 28 सितम्बर, 2015 तक विशेष छूट दी जा रही है। पर्यटन विभाग की प्रधान सचिव डॉ. सुमिता मिश्रा ने यह जानकारी देते हुए बताया कि विभाग द्वारा इन दिनों के दौरान हरियाणा के किसी भी पर्यटन परिसर में आने वाले अतिथियों को भोजन और रिहायशी सुविधा पर 10 प्रतिशत की छूट दी जाएगी। इसके अलावा, 27 सितम्बर को विशेष प्रतियोगिताओं की एक श्रृंखला का भी आयोजन किया जाएगा।
उन्होंने बताया कि विश्व पर्यटन दिवस रंगारंग बनाने के लिए पर्यटन परिसरों को स्वागत बैनरों से सजाया जाएगा और विद्यार्थियों के लिए विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा। इस अवसर पर विद्यार्थियों में टॉफियां भी बांटी जाएंगी। डॉ. मिश्रा ने कहा कि विभाग की वैबसाइट www.haryanatourism.gov.in के माध्यम से ऑनलाइन कमरे बुक किये जा सकते हैं। इसके अलावा, नियमित अद्यतन जानकारी haryanatourismindia के फेसबुक पेज पर भी ली जा सकती है। वल्र्ड ट्रैवल एंड टूरिज्म काउंसिल का अनुमान है कि आगामी लगभग 10 वर्षों में भारतीय पर्यटन की मांग 8.8 प्रतिशत वार्षिक की दर से बढ़ेगी जोकि विश्व में उच्चतम है।
हरियाणा पर्यटन निगम के प्रबन्ध निदेशक श्री विकास यादव ने बताया कि मौजूदा ढ़ांचे के उन्नयन और अन्तर्राष्ट्रीय तथा घरेलू पर्यटन बाजार में इसका हिस्सा बढ़ाने के लिए हरियाणा को अति पसंदीदा गन्तव्य के रूप में प्रोत्साहित करने पर विशेष बल दिया जा रहा है।
हरियाणा पर्यटन ने भारत में फार्म टूरिज्म की परिकल्पना शुरू करने की पहल की है। विभाग द्वारा हरियाणा में 14 फार्म मालिकों की भागीदारी से हरियाणा और दिल्ली के आस-पास के इन चुनिन्दा फार्मों में पेश की जा रही ग्रामीण अनुभूति को बड़े जोरदार ढंग़ से प्रोत्साहित किया जा रहा है।
हरियाणा पर्यटन ने पानीपत, फरीदाबाद, कुरुक्षेत्र, रोहतक और यमुनानगर में देश के प्रमुख होटल प्रबंधन संस्थानों (आईएचएमएस) की स्थापना की है। इनमें खाद्य उत्पादन तथा खाद्य एवं पेय सेवा में तीन वर्षीय बीएससी (आतिथ्य एवं होटल प्रबन्धन) तथा डिप्लोमा कोर्स उपलब्ध हैं। विद्यार्थियों की सुविधा के लिए इन संस्थानों में नई अत्याधुनिक सुविधाएं मुहैया करवाई गई हैं।
रोजगार योग्य दक्षता के सृजन के उद्देश्य से केन्द्रीय पर्यटन मंत्रालय द्वारा की गई अभिनव पहल ‘हुनर से रोजगार तकÓ (एचआरएसटी) को हरियाणा पर्यटन के इन होटल प्रबन्धन संस्थानों तथा 14 पर्यटक परिसरों के माध्यम से कुशलतापूर्वक लागू किया गया है। वित्तीय वर्ष 2015-16 के दौरान एचआरएसटी के तहत प्रशिक्षित किये जाने वाले 3795 विद्यार्थियों के वार्षिक लक्ष्य में से जून, 2015 तक 3100 उम्मीदवारों को प्रशिक्षित किया गया है।




Leave a Reply

Your email address will not be published.