BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

कोरोना के नियम तोडऩे वालों के खिलाफ क्या अब होगी कानूनी कार्यवाही? जानें!

Metro Plus से Naveen Gupta की ´रिपोर्ट।
Faridabad News, 26 अक्टूबर:
जिला उपायुक्त जितेंद्र यादव की अध्यक्षता में कोरोना से संबंधित समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने कहा की त्योहारी सीजन में भी लोग कोविड-19 उचित व्यवहार का पालन करें और पूरी सुरक्षा के साथ ही त्योहार मनाएं। बैठक में मौजूद स्वास्थ्य अधिकारियों ने उपायुक्त को सूचित किया कि जिला में स्थापित किए गए सभी कोरोना कंट्रोल रूम पूर्ण रूप से 24 घंटे चालू स्थिति में है वह मरीज को कंट्रोल रूम द्वारा कॉल कर उचित दिशा-निर्देश दिए जा रहे हैं व उनकी समस्याएं सुनकर उनका समाधान भी किया जा रहा है। जिला में कोविड-19 के मामले कम होने के बावजूद भी मरीजों की लगातार कांटेक्ट ट्रेसिंग की जा रही है।
जिला उपायुक्त जितेंद्र यादव ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि सभी कोविड-19 मरीजों का डेटाबेस तैयार किया जाए व समय-समय पर उसे अपडेट भी किया जाए। उपायुक्त ने सभी नियुक्त इंसिडेंट कमांडर को निर्देश देते हुए कहा कि इंसीडेंट कमांडर हर स्थिति पर अपनी विशेष नजर रखें व सभी माइक्रो कंटेनमेंट जोन में नियमित दौरे करें। उन्होंने निर्देश दिए कि जिला के सभी बाजारों में दुकानदारों की वह उनके स्टॉफ की वैक्सीनेशन होना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि इसके लिए स्वास्थ्य विभाग व पुलिस की संयुक्त टीम में निरीक्षण करेंगे। जो मार्केट प्रधान अपने बाजार में वैक्सीनेशन के लिए कैंप लगवाना चाहते हैं वह भी स्वास्थ्य विभाग से संपर्क कर कैंप लगवा सकते हैं। उन्होंने कहा कि महामारी को फैलने से रोकना हमारा सबसे पहला कार्य है।
सीएमओ विनय गुप्ता ने उपायुक्त को अवगत कराया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा चार परमानेंट कोरोना टेस्टिंग कैंप विभिन्न स्थानों पर लगाए गए हैं जिसमें आम लोगों के आरटी पीसीआर टेस्ट किए जाएंगे। उन्होंने कहा ऐसे और भी कैंप अधिक भीड़भाड़ वाले इलाकों में निरंतर लगाए जाएंगे।
पुलिस उपायुक्त अंशु सिंगला ने कहा कि पुलिस विभाग जिला प्रशासन का हर प्रकार से सहयोग करेगा। उन्होंने कहा कि पुलिस विभाग आमजन के बीच कोरोना उचित व्यवहार की पालना सुनिश्चित करेगा व नियम तोडऩे वालों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही भी अमल में लाई जाएगी।
जिला उपायुक्त जितेंद्र यादव ने कहा कि कोरोना के साथ-साथ लोगों को डेंगू से भी सतर्क रहना है। डेंगू की रोकथाम के लिए जिला प्रशासन व विभिन्न विभागों द्वारा नई फागिंग मशीनों की खरीद भी की जाएगी। इन फागिंग मशीनों द्वारा अलग-अलग गांव कस्बों व शहरी क्षेत्रों में फागिंग करवाई जाएगी। जिससे डेंगू के फैलाव को रोका जा सके। आमजन से अपील है कि वह अपने-अपने घरों के आस-पास पानी जमा ना होने दें व शरीर को वस्त्रों द्वारा पूर्ण रूप से ढकने का प्रयास करें। सोते समय मॉस्किटो रिपेलेंट क्रीम या मच्छरदानी का प्रयोग करें।
जिला उपायुक्त ने निर्देश देते हुए कहा कि 1 जनवरी से हर सरकारी विभाग के कर्मचारी का हेल्थ चैकअप किया जाएगा व हर कर्मचारी का हेल्थ रिकॉर्ड पोर्टल पर अपलोड किया जाएगा। इस पोर्टल का अधिगम कुछ विशेष अधिकारियों तक ही सीमित होगा।
बैठक में एसडीएम बल्लभगढ़ त्रिलोकचंद, एसडीएम बडख़ल पंकज सेतिया, एसडीएम फरीदाबाद परमजीत चहल, सीएमओ डॉ० विनय गुप्ता, उप-सिविल सर्जन डॉ० राम भगत, पुलिस उपायुक्त अंशु सिंगला, एडिशनल म्युनिसिपल कमिश्नर इंद्रजीत कुलडिय़ा, डीडीपीओ राकेश मोर, जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी राकेश गौतम सहित अन्य विभाग के अधिकारी भी मौजूद रहे।




Leave a Reply

Your email address will not be published.