BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल की ऋतिका और आर्ची बिखेरेंगी नेशनल स्कूल गेम्स में जलवा

सोनिया शर्मा
फरीदाबाद, 21 सितंबर:
शिक्षा के क्षेत्र में विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल अपनी एक अलग पहचान बनाई है। स्कूल ने इस क्षेत्र में अनेक मुकाम हासिल किए हैं और लगातार उन्नति की अग्रसर होते हुए स्कूल शिक्षा को नया आयाम दे रहा है। स्कूल का प्रयास हमेशा विद्यार्थियों की चहुुंमुखी प्रतिभा का विकास करना है और यहीं कारण है कि स्कूल प्रशासन द्वारा शिक्षा के साथ-साथ विद्यार्थियों के लिए खेलों और एस्ट्रा केरिकूलर एक्टिविटीज पर भी ध्यान दिया जाता है ताकि स्कूल के बच्चे जीवन के हर क्षेत्र में अपनी प्रतिभा का जलवा बिखेर सकें। इसी कड़ी में स्कूल की नवंबर में आयोजित होने वाली नेशनल तीरंदाजी प्रतियोगिता के अभ्यास मैच के दौरान स्कूल की छात्राओं ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए अपनी उपस्थिति दर्ज करा दी।
प्रतियोगिता की जानकारी देते हुए जिला शिक्षा अधिकारी गुरदीप सिंह ने बताया कि एक नवंबर से तीरंदाजी प्रतियोगिता आयोजित की जानी है जिसमें अनेक स्कूलों के बच्चे भाग लेंगे। इसी के संदर्भ में अभ्यास सत्र् का आयोजन किया गया था। अभ्यास सत्र् में विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल की छात्राओं ऋतिका यादव व आर्ची यादव ने बेहतरीन प्रदर्शन किया और अपने प्रदर्शन से प्रतियोगिता में अपनी प्रबल दावेदारी प्रस्तुत कर दी।
ऋतिका यादव जो विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल की 10वीं की छात्रा है, दूसरी बार स्कूल नेशनल प्रतियोगिता में भाग ले रही है। ऋतिका जमशेदपुर में नेशनल गेम्स में अंडर 17 रिकर्व राउण्ड में हरियाणा का प्रतिनिधित्व करेंगी। आत्मविश्वास से भरपूर ऋतिका ने बताया कि वह इस बार हरियाणा के लिए जरूर मेडल जीतेगीं। इस समय वह अपने कोच नीरज कुमार की देखरेख में अभ्यास कर रही हैं व दिन-प्रतिदिन बेहतर प्रदर्शन कर रही हैं।
आर्ची यादव जोकि विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल की 10वीं की छात्रा हैं, वो दूसरी बार नेशनल स्कूल गेम्स में भाग ले रही हैं। वह नेशनल स्कूल गेम्स में अंडर 17 में रिकर्व राउण्ड में हरियाणा का प्रतिनिधित्व करेंगी। आर्ची का कहना है कि वह राज्य प्रतियोगिता में मेडल जीत चुकी हैं तथा साथ ही वह अब हरियाणा टीम की जीत के लिए पूरी कोशिश करेंगी। दोनों छात्राओं का कहना है कि हरियाणा टीम के लिए खेलना और जीत हासिल करना उनके व उनके स्कूल के लिए गौरव की बात होगी।
विद्यालय निदेशक दीपक यादव ने कहा कि शिक्षा खेल एक दूसरों के पूरक है। आज शिक्षा के साथ-साथ खेल भी अति आवश्यक हो चुका है। खेल द्वारा बच्चे शारीरिक मानसिक रूप से स्वस्थ रहते हैं। यादव ने कहा कि वे बच्चों को प्रोत्साहित करने के लिए हर संभव प्रयास करेंगे और इसी प्रकार छात्रों को आगे बढऩे के लिए हर संभव सुविधाएं उपलब्ध करवाएंगे ताकि बच्चे देश, प्रदेश, स्कूल और अपने अभिभावकों का नाम रोशन कर सकें।
Vidya Sagar.2




Leave a Reply

Your email address will not be published.