BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

शहर को पहले 20 शहरों में स्मार्ट-सिटी के रूप में लाने के लिए कवायद तेज

राज्य मंत्री एवं सांसद कृष्णपाल गुर्जर ने ली अधिकारियों की बैठक
नवीन गुप्ता
फरीदाबाद, 28 सितंबर:
केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री एवं फरीदाबाद के सांसद कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि भारत सरकार द्वारा निर्धारित मानकों के आधार पर फरीदाबाद शहर को देश के 100 स्मार्ट शहरों में से एक शहर के रूप में चुनने के बाद अब प्रथम चरण में स्मार्ट बनाए जाने वाले 20 शहरों का चयन किया जाना है। जिसके लिए फरीदाबाद को इनमें शामिल करवाने के उद्वेश्य से फरीदाबाद नगर निगम द्वारा गंभीरतापूर्वक प्रयास करने शुरू कर दिए गए हैं। गुर्जर आज यहां लघु सचिवालय सैक्टर-12 की छठी मंजिल पर नव निर्मित कान्फै्रस हॉल में आयोजित संबंधित अधिकारियों तथा पै्रस प्रतिनिधियों की परामर्श बैठक को मुख्य अतिथि के रूप में सम्बोधित कर रहे थे। इस अवसर पर हरियाणा सरकार की मुख्य संसदीय सचिव एवं बडख़ल हलके की विधायक सीमा त्रिखा, उपायुक्त डॉ० अमित कुमार अग्रवाल, निगमायुक्त अशोक शर्मा, अतिरिक्त उपायुक्त डॉ० आदित्य दहिया, नगराधीश गौरव अंतिल तथा केन्द्रीय राज्य मंत्री के निजी सचिव यशेन्द्र सिंह प्रमुख रूप से उपस्थित थे। इससे पूर्व केन्द्रीय राज्यमंत्री गुर्जर ने उक्त कान्फै्रस हॉल का उदघाटन भी किया। इसको तैयार करने पर लगभग 20 लाख रूपए की लागत आई है। इस सभागार में 150 लोगों के बैठने की व्यवस्था सहित सभी प्रकार की आवश्यक सुविधाएं तैयार की गई हैं।
गुर्जर ने कहा कि भारत सरकार के निर्देशानुसार नगर निगम ने फरीदाबाद शहर के मुख्य नागरिकों, निवासियों, समाजसेवी संगठनों , उद्योगपतियों, वरिष्ठ नागरिकों तथा पै्रस एवं मीडिया के प्रतिनिधियों के साथ विचार विमर्श करना शुरू किया है ताकि मेरे सपनों का फरीदाबाद कैसा हो इस संबंध में इन सभी की राय व सुझाव लिये जा सकें। इसी संदर्भ में फरीदाबाद के पत्रकारों के साथ यह सुझाव एवं परामर्श बैठक आयोजित की गई है। किसी भी शहर को स्मार्ट बनाने के लिए आवश्यक है कि वह ऐसे मूलभूत ढांचाग्त विकास से सम्पन्न हो जो कि निवासियों को श्रेष्ठ मानदण्डों के साथ पूरी गणवत्ता तथा बेहतर जीवन यापन का एहसास करा सके। शहर में सभी प्रकार के स्मार्ट विचारों तथा लोगों द्वारा मुफ्त की आदत छोड़कर कुछ पाने के लिए कुछ अदा करने की आदत को प्रबल बनाकर ही आसानी से फरीदाबाद को स्मार्ट सिटी बनाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि शहर के सभी लोगों को इस संबंध में सरकार के साथ कदम से कदम मिलाकर पूरा सहयोग देना होगा तभी हम अपने शहर को स्मार्ट सिटी के रूप में देखने में कामयाब होगें।
सीमा त्रिखा ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि पै्रस एवं मीडिया के प्रतिनिधियों के सुझाव इस संबंध में अत्यंत महत्वपूर्ण हैं। फरीदाबाद को स्मार्ट सिटी बनाने के लिए सरकार, मीडिया, प्रशासन तथा जनता को एकजुट होकर चलने की आवश्यकता है। स्मार्ट सिटी के सपने के अंतर्गत पार्किंग, अवैध कब्जों, कूड़ा प्रबन्धन, सड़कों, ड्रेनेज, शिक्षा, स्वास्थ्य व सफाई जैसे मुद्दों पर गम्भीरतापूर्वक कार्य करना भी जरूरी है। इसके लिए सरकार को जन-भागीदारी चाहिए। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के संयुक्त प्रयासों के फलस्वरूप ही हम फरीदाबाद को टॉप-20 में शामिल करवाने में सफल हो सकेंगे।
उपायुक्त डॉ० अग्रवाल ने मुख्य अतिथि केन्द्रीय मंत्री गुर्जर तथा मुख्य संसदीय सचिव श्रीमती त्रिखा का स्वागत व्यक्त करते हुए कहा कि फरीदाबाद को स्मार्ट सिटी बनाने की कड़ी में जिला प्रशासन द्वारा नगर निगम प्रशासन के साथ कंधे से कंधा मिलाकर हर सम्भव प्रयास करने शुरू कर दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि शहर में किसी भी प्रकार के अवैध कब्जों, पार्किंग व्यवस्था, सफाई तथा जल संरक्षण जैसे कार्यों में सभी लोगों को आगे आना होगा तभी आसानी से शहर को स्मार्ट सिटी के रूप में देखने का सपना साकार हो सकेगा।
निगमायुक्त अशोक शर्मा ने कहा कि शहरी स्थानीय निकाय द्वारा नागरिकों के परामर्श से 50 एकड़ से अधिक के क्षेत्र चिन्हित किए जाएंगे। हरित क्षेत्र विकास के जरिए पूर्व में खाली पड़े 250 एकड़ से अधिक के क्षेत्र में सुव्यवस्थित समाधानों को लागू करके विकास किया जाएगा जिससे बढ़ती हुई आबादी को लाभ मिल सकेगा । इसमें अफोर्डेबल हाउसिंग के माध्यम से गरीब तबके के लोगों को लाभ मिलेगा। पैन सिटी विकास के जरिए वर्तमान शहर व्यापी एवं संरचना में सूचना व अन्य प्रौद्योगिकी के जरिये चुनिंदा सुव्यवस्थित समाधानों को लागू किया जाएगा। इसके अंतर्गत उन्नत व कुशल यातायात प्रबन्धन प्रणाली का विकास करना तथा अपशिष्ट जल पुन: चक्रीकरण इत्यादि प्रमुख रूप से शामिल हैं। श्री शर्मा ने पत्रकारों से अनुरोध किया कि वे अपने-अपने समाचार पत्रों एवं प्रचार माध्यमों से शहर के निवासियों के सुझाव व प्रस्ताव लें कि वे फरीदाबाद को कैसा स्मार्ट सिटी देखना चाहते हैं। फरीदाबाद को स्मार्ट सिटी बनाने के तकनीकी प्रयासों के अंतर्गत संबंधित केन्द्रीय मंत्रालय की ओर से अधिकृत तकनीकी संस्था के प्रतिनिधि रविरंजन गुरू ने भी बैठक में विस्तारपूर्वक विचार प्रकट करते हुए प्रजेंटेशन दिया ।
बैठक में पत्रकार अशोक शर्मा, भोला पांडे, सचिन हुड्डा, विनोद मित्तल, शकुन रघुवंशी, हरपाल यादव व दीपक गौतम ने इस संबंध में विस्तारपूर्वक विचार रखते हुए अपने-अपने सुझाव एवं परामर्श केन्द्रीय राज्य मंत्री गुर्जर के सम्मुख रखे। सभी मीडिया प्रतिनिधियों ने उन्हें आश्वत किया कि इस संबंध में उनकी ओर से जन भागीदारी को सक्रिय करने तथा आवश्यक प्रचार-प्रसार में किसी भी प्रकार की कसर बाकी नही रहने दी जाएगी ताकि जन-जागरूकता उत्पन्न करके जल्द से जल्द फरीदाबाद को स्मार्ट सिटी के रूप में देखने का सपना साकार किया जा सके।
इस अवसर पर नगर निगम के अधीक्षण अभियंता डीआर भास्कर, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के कार्यकारी अभियन्ता सतपाल दहिया, राजीव शर्मा व भूपेन्द्र सिंह, अग्रणी बैंक प्रबन्धक इन्द्रमोहन शर्मा सहित सभी संबंधित विभागों के अधिकारी भी उपस्थित थे।
DSC05388

DSC05360

DSC05381

DSC05382

DSC05383




Leave a Reply

Your email address will not be published.