BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

स्वास्तिक चिन्ह में होता है गणेश जी का वास: श्री पालन्दे जी महाराज

मानव सेवा समिति के तत्वाधान में आयोजित श्री शिव महापुराण कथा पांचवे दिन भी जारी
नवीन गुप्ता
फरीदाबाद, 01 अक्टूबर:
मानव सेवा समिति के तत्वाधान में आयोजित की जा रही श्री शिव महापुराण कथा के पांचवे दिन कथा व्यास श्री पालन्दे जी महाराज ने पूजा पाठ के महत्व के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी देते हुए बताया कि कलयुग में श्रेष्ठ कार्य व पूजा अर्चना करने और गाय, माता-पिता व संतों की सेवा करने से आयु में वृृद्धि होती है और सुख: समृद्धि आती है।
श्री पालन्दे जी महाराज ने स्वास्तिक चिन्ह के महत्व के बारे में बताया कि इसमें गणेश जी का वास होता है। ठीक उसी प्रकार से स्वास्तिक चिन्ह बनाकर उसकी विधि विधान से पूजा करनी चाहिए। उन्होंने सभी को स्वास्तिक का चित्र देकर इसकी पूजा विधि बताई। कथा प्रसंग में पार्वती जन्म, कांवड़ की महिमा व शिव विवाह वर्णन बताया गया। गुरूवार को कथा के समय से पहले श्री व्यास जी ने समिति के कार्यालय मानव भवन व समिति द्वारा संचालित मानव विद्या निकेतन स्कूल बल्लभगढ़ में जाकर समिति के सदस्यों व विद्यार्थियों का हौंसला बढ़ाया और उन्हें आर्शीवाद दिया। उन्होंने स्कूल के दो छात्रों को गोद लेकर उनकी पढ़ाई का पूरा खर्चा देने का संकल्प भी लिया। कथा प्रसंग के दौरान शिव विवाह की सुन्दर झांकी का प्रस्तुतीकरण किया गया।
गुरूवार को कथा सुनने के लिए पूर्व श्रममंत्री पंडित शिवचरण लाल शर्मा, पूर्व विधायक आनन्द कौशिक, वैश्य समन्वय समिति के संयोजक जेपी गुप्ता, समाजसेवी चर्तुभुर्ज गर्ग, अशोक गर्ग, सागर महाजन, वरिष्ठ पंजाबी नेता वासदेव अरोड़ा, तिलकराज शर्मा, अजय जुनेजा, विनोद मित्तल, रोटेरियन वीरेंद्र चक्र्रवती, अशोक खुराना, ओपी पसारी, रान्तीदेव गुप्ता, पुनीत जैन, हरीश अग्रवाल व समिति के सदस्य सीआर गुप्ता, वाईके माहेश्वरी, उषा किरण शर्मा, सीमा मंगला, अरूणा मित्तल, समाजसेविका ममता गुप्ता आदि ने भाग लिया। इन सभी का व्यास जी के द्वारा स्मृति चिन्ह देकर सम्मान कराया गया।
समिति के पदाधिकारी पवन गुप्ता, अरूण बजाज, कैलाश शर्मा, गौतम चौधरी, सुरेन्द्र जग्गा, संदीप मित्तल, प्रदीप टिबरेवाल ने मुख्य अतिथि व समाजसेवियों का सहयोग देने के लिए आभार प्रकट किया। यह कथा 3 अक्टूबर तक प्रतिदिन सांय 3 से 7 बजे तक सैक्टर-9 स्थित सनातन धर्म मंदिर में जारी रहेगी। 4 अक्टूबर को यज्ञ, हवन व भंडारे के समापन होगा।
IMG_1378 - Copy

5.1.5x7

IMG_1327




Leave a Reply

Your email address will not be published.