BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

सर्वोदय हॉस्पिटल परिसर में हुई मासूम बच्ची की खरीद-फरोख्त, CM Flying ने किया गिरफ्तार!

कौन है हिना माथुर जिसने सर्वोदय हॉस्पिटल में की बच्चे की खरीद-फरोख्त?
मैट्रो प्लस से नवीन गुप्ता की रिपोर्ट
फरीदाबाद, 3 अगस्त
: विवाद हैं कि सर्वोदय हॉस्पिटल का पीछा छोडऩे का नाम ही नहीं ले रहे हैं। चाहे वह गरीब मजदूरों के इलाज के नाम पर फर्जी बिल बनाकर सरकार को लाखों-करोड़ों का चूना लगाना हो या फिर इलाज के नाम पर लापरवाही कर लोगों को मौत के आगोश में पहुंचाने का काम करना हो। इस हॉस्पिटल पर बदनामी का ठप्पा लगा ही हुआ है। हाल-फिलहाल इंकम टैक्स के छापे से एक बार फिर से सुर्खियों में आए सर्वोदय हॉस्पिटल परिसर में अब बच्चे की खरीद-फरोख्त का मामला सामने आया है।
बता दें कि सामाजिक उत्थान के लिए जिले में कई NGO काम कर रही हैं, जिनमें से एक नाम उड़ान का भी है जोकि चाचा चौक पर रहने वाली कोई हिना माथुर नाम महिला चलाती है। अगर हम बात करें हाल-फिलहाल की तो CM फ्लांईंग के DSP राजेश चेची के आदेशों पर कार्यवाही करते हुए CM फ्लांईंग की एक टीम ने उड़ान नामक NGO/संस्था की संचालिका हिना माथुर व उसके साथी पवन शर्मा को कल मंगलवार को 15 दिन की मासूम बच्ची को एक लाख रूपये में बेचते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। इस मामले में चाईल्ड वेलफेयर कमेटी यानि CWC के एक कर्मचारी पर भी शक की सुईं घूम रही है।
जानकारी के मुताबिक सीएम फ्लांईंग को सूचना मिली कि उड़ान नामक एनजीओ/संस्था की संचालिका हिना माथुर अपने साथी पवन शर्मा के साथ मिलकर सामाजिक कार्य करने के नाम पर गरीब बस्तियों में रहने वाले परिवारों से सम्पर्क करके उन्हें अच्छी परवरिश कराने का झांसा देकर एक से दो लाख रुपए में उनके नवजात शिशुओं को बेचने कर धंधा करती है। अभी तक हिना माथुर कई नवजात बच्चों को बेच भी चुकी है। इस पर CM फ्लांईंग ने एक टीम गठित कर जिला उपायुक्त के माध्यम से एक ड्यूटी मजिस्ट्रेट मांगा। जिला उपायुक्त जितेन्द्र ने मामले की गंभीरता को देखते हुए सिचाई विभाग के एसडीओ राजकुमार को ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त कर दिया।
CM फ्लांईंग ने उक्त मामले में कार्यवाही करने के लिए सब-इंस्पेक्टर सतबीर सिंह व महिला सहायक उप-निरीक्षक राजेश को फर्जी ग्राहक के तौर पर तैयार कर उन्हें नि:संतान दम्पति बनकर शिशु बेचने वालों से बात करने के लिए कहा। उक्त फर्जी नि:संतान दम्पति ने इस मामले में उड़ान नामक NGO की संचालिका हिना माथुर और साथी पवन शर्मा से सम्पर्क साधकर उनसे एक लाख रुपये में बच्चा देने की बात तय कर ली।
इस पर ड्यूटी मजिस्ट्रेट द्वारा CM फ्लांईंग के सब-इंस्पेक्टर सतबीर सिंह को 500-500 रुपये के 4 नम्बरी नोट उनके हवाले करके बीच में सादा कागज की 2 गड्डी तैयार करने के लिए कहकर रेडिंग पार्टी अलग से तैयार कराई गई। हिना माथुर और साथी पवन शर्मा ने उक्त फर्जी नि:संतान दम्पति से बातचीत करने के उपरांत उन्हें सर्वोदय अस्पताल सेक्टर-8 फरीदाबाद के गेट पर बुला लिया। सब-इंस्पेक्टर सतबीर सिंह व महिला एएसआई के साथ परिवार के सदस्य के तौर पर SDO राजकुमार ड्यूटी मजिस्ट्रेट भी सर्वोदय अस्पताल साथ गए। सर्वोदय अस्पताल की कैंटीन में पवन शर्मा व हिना माथुर ने फर्जी ग्राहक व अन्य सदस्यों से बच्ची देने के बदले में सारी सौदेबाजी की। तत्पश्चात उन्हें बच्ची सौंपने और बदले में पैसे देेने के लिए अटल पार्क सेक्टर-2 फरीदाबाद के सामने हुडा मार्केट तक सभी को अपने पीछे आने के लिए कहा। इस पर पवन व हिना माथुर अपनी कार से आगे-आगे व टीम पीछे-पीछे चल दी। अटल पार्क के पास जाकर पवन व हिना ने सतबीर व अन्य को वहीं रुकने को कहा और स्वयं बच्चे को लेकर आने को बोला। कुछ देर बाद हिना माथुर व पवन शर्मा बच्ची को लेकर मौके पर आये व ड्यूटी मजिस्ट्रेट व सब-इंस्पेक्टर सतबीर के साथ महिला एएसआई जोकि फर्जी नि:संतान दम्पति बने हुए थे, को लाकर बच्चा सौंप दिया व पैसे मांगे। इस पर सतबीर सिंह ने जैसे ही लिफाफे में रखे पैसे पवन को दिए वैसे ही रेडिंग पार्टी ने आरोपियों को मौके पर से ही गिरफ्तार कर लिया।
हिना माथुर व पवन शर्मा द्वारा गरीब परिवारों को बहला-फुसलाकर पैसे के लालच में बच्चे का सौदा करने पर थाना शहर बल्लबगढ़ में जगदीश निरीक्षक मुख्यमंत्री उडऩ दस्ता फरीदाबाद की मुकदमा दर्ज किया गया है। -क्रमश:




Leave a Reply

Your email address will not be published.