BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

कर्मचारियों को डेंगू से रोकथाम एवं बचाव के उपायों की जानकारी देते हुए चिकित्सा अधिकारी: डॉ० सुभाष पसरेजा

सोनिया शर्मा
फरीदाबाद, 24 सितंबर:
डेंगू के खिलाफ अपनी मुहिम को जारी रखते हुए वाईएमसीए विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय फरीदाबाद ने डेंगू से रोकथाम एवं जागरूकता के लिए एक व्यापक अभियान शुरू किया है। अभियान के तहत विश्वविद्यालय परिसर में लगातार मच्छर रोधी दवा का छिड़काव तथा फोगिंग करवाई जा रही है। आगामी तीन दिनों में छुट्टी के दौरान भी मच्छर रोधी दवा छिड़काव जारी रहेगा।
इस सबंध में जानकारी देते हुए विश्वविद्यालय के प्रवक्ता ने बताया कि विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा डेंगू से रोकथाम एवं बचाव के लिए सुरक्षात्मक उपाय करने के साथ-साथ जागरूकता अभियान पर भी बल दिया जा रहा है। इसके अंतर्गत विश्वविद्यालय के सफाई कर्मचारियों एवं होस्टल में कार्यरत कर्मचारियों के लिए एक विशेष लेक्चर का आयोजन किया गया। जिसमें चिकित्सा अधिकारी डॉ० सुभाष पसरेजा ने कर्मचारियों को डेंगू से रोकथाम एवं बचाव के उपायों की जानकारी दी। इसके साथ-साथ डेंगू से रोकथाम व बचाव के लिए क्या करें व क्या न करें संबंधी जानकारी भी विश्वविद्यालय में प्रदर्शित करवाई गई है।
प्रशासन द्वारा सभी विभागो अध्यक्षों एवं शाखा प्रमुखों को निर्देश जारी कर डेंगू की रोकथाम के प्रति सजक रहने तथा सुरक्षात्मक उपाय अपनाने के लिए कहा है। विश्वविद्यालय के हॉस्टलों में अब तक दो बार मच्छर रोधी दवा का छिड़काव किया जा चुका है और जल्द ही तीसरे चरण के तहत दवा का छिड़काव किया जायेगा। इसके अलावा आवासीय तथा अकादमिक परिसरों में दवा के छिड़काव की प्रक्रिया जारी है। नगर निगम फरीदाबाद द्वारा विश्वविद्यालय परिसर में दो बार फोगिंग भी करवाई जा चुकी है। विश्वविद्यालय के रखरखाव विभाग को भी डेंगू से रोकथाम के लिए सुरक्षात्मक उपाय करने की सख्त हिदायतें दी गई है।
इसके अलावा वाईएमसीए एलुमनाई एसोसिएशन भी डेंगू के प्रति जागरूकता एवं सुरक्षात्मक उपायों में अपना सहयोग देंगी और आगामी सप्ताह से विश्वविद्यालय द्वारा चलाये जा रहे अभियान में हिस्सा लेगी।01




Leave a Reply

Your email address will not be published.