BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

एनएसयूआई के धरने को लेकर एसडीएम ने ली मीटिंग

एनएसयूआई की कई मांगों पर बनी सहमति: अब रात को बंद रहेगा धरना
महेश गुप्ता
फरीदाबाद, 7 सितंबर: एनएसयूआई की मांगों को लेकर आज एसडीएम महावीर प्रसाद ने एनएसयूआई पदाधिकारियों व कॉलेजों के प्रिंसिपलों के साथ मीटिंग की। मीटिंग के दौरान एसडीएम ने स्टूडेंट्स को बताया कि उनकी कुछ मांगों पर अमल शुरू कर दिया गया है और रीजनल सेंटर व हेल्प सेंटर की मांग को पूरा करने के लिए भी कार्रवाई की जा रही है। इस मीटिंग में नेहरु कॉलेज, अग्रवाल कॉलेज व डीएवी कॉलेज के प्रिंसिपलों के साथ एनएसयूआई के पदाधिकारी प्रदीप धनखड़, अनील चेची, कृष्ण अत्री मुख्य रुप से उपस्थित थे।
मीटिंग के बाद सेक्टर-16ए स्थित नेहरु कॉलेज के सामने धरनास्थल पर पहुंचकर एनएसयूआई स्टेट वाइस प्रेजिडेंट प्रदीप धनखड़ ने बताया कि मीटिंग में हमारी आधी मांगों को मान लिया गया है, लेकिन अभी भी हमारी कुछ मांगे बाकी हैं इसलिए हमारा धरना अभी भी जारी रहेगा।
जिला अध्यक्ष कृष्ण अत्री ने बताया कि मीटिंग में एसडीएम ने मैगपाई चौक पर दो कर्मचारियों की ड्यूटी शुरू करने की बात कही, जो स्टूडेंट्स के लिए बस रुकवाने का काम करेंगे। इसलिए उन्होंने हमें लेटर भी दे दिया है। साथ ही नेहरु कॉलेज के प्रिंसिपल को जल्द से जल्द वहां बस स्टाप का बोर्ड लगाने के लिए भी कहा है। मीटिंग में नेहरु कॉलेज के प्रिंसिपल ने अगले कुछ दिनों में ही कॉलेज में आरओ सिस्टम लगाने और टॉयलेटों की हालत सुधारने का आश्वासन दिया।
पूर्व जिला अध्यक्ष अनिल चेची ने बताया कि महर्षि दयानंद यूनिवर्सिटी की हेल्प सेंटर खोलने के लिए अब कुछ कागजी कार्रवाई बाकी रह जाने की बात एसडीएम ने कही है। वहीं रीजनल सेंटर के लिए जल्द ही डीसी की अध्यक्षता में मीटिंग बुलाने का अश्वासन दिया। इसलिए हम लोगों ने रात को धरना देना बंद कर दिया है और अब केवल दिन में ही हमारा धरना जारी रहेगा।
सोमवार को समाज सेवी फिरे सिंह चंदीला ने भी धरना स्थल पर पहुंचकर एनएसयूआई को अपना समर्थन दिया। उन्होंने कहा कि स्टूडेंट्स की इस लड़ाई में वो पूरी तरह से उनके साथ हैं और हर स्तर पर स्टूडेंट्स की मदद करने के लिए तैयार हैं। मौके पर रवि चंदीला, पंकज मालिया, रोहित शर्माद्व नरवीर चौधरी, कुलवीर, ललित, लोकेश गोड़, कृष्ण शर्मा, प्राशिश चौहान आदि लोग उपस्थित थे।20150907_152743 20150907_152758 20150907_152751




Leave a Reply

Your email address will not be published.