BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

फरीदाबाद नगर निगम के खिलाफ हुआ हत्या का मुकद्दमा दर्ज। जानें क्यों?

Metro Plus से Naveen Gupta की रिपोर्ट।
Faridabad News, 7 मई:
नगर निगम की लापरवाही के चलते अप्रैल महीने में शिव दुर्गा विहार निवासी हरीश वर्मा उर्फ़ हन्नी की खुले सीवर में गिरने से मृत्यु हो गयी थी। इस मामले में सेव फरीदाबाद संस्था और मृतक के परिजनों द्वारा नगर निगम के सम्बंधित अधिकारियों के खिलाफ हत्या का मुकद्दमा दर्ज कराया गया है। संबंधित मुकदद्मा नंबर 323 ,फरीदाबाद सेक्टर-58 थाने में दर्ज़ हुआ है।
मृतक हरीश की माता गीता देवी व छोटे भाई गौरव ने पुलिस प्रशासन, प्रवासी जनसेवा समिति और सेव फरीदाबाद संस्था का धन्यवाद देते हुए कहा कि इन सामाजिक संस्थाओं की वजह से ही हमारे अंदर न्याय की गुहार लगाने की हिम्मत आयी।
सेव फरीदाबाद के संयोजक पारस भारद्वाज ने इस घटना को दुखद और दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा है कि उनकी संस्था और वे स्वयं व्यक्तिगत रूप से पीड़ित परिवार के साथ इस न्याय की लड़ाई में मज़बूती से खड़े हैं। हमारे देश में कानून बहुत सशक्त है, बस उन्हें लागू करवाने के लिए दृढ इच्छाशक्ति और निर्भीकता की आवश्यकता होती है। पारस ने कहा कि फरीदाबाद नगर निगम आज भ्रष्टाचार का अड्डा बना हुआ है। इस भ्र्ष्टाचार ने पिछले 5 वर्षों में फरीदाबाद के कितने ही जवान ,बच्चे व बच्चियों की जान ले ली है, परन्तु प्रशासन और नेताओं के कान पर जूँ तक नहीं रेंगती। जो नेता किसी के भी मौत पर घड़ियाली आंसू बहाने पहुँच जाते हैं वो गरीब परिवार में हुई जवान मौत पर झाँकने भी नहीं आये ,इससे इनका दोगला और स्वार्थी चरित्र का पता चलता है।
बता दें कि सेव फरीदाबाद संस्था ने निगम कार्यालय के सामने मोमबत्ती जलाकर मृतक हरीश को श्रद्धांजलि दी थी और कड़ी से कड़ी कार्यवाही करवाने का आश्वासन दिया था। पुलिस आयुक्त विकास अरोड़ा की प्रशंसा करते हुए पारस भारद्वाज और प्रवासी जनसेवा समिति के अमित शर्मा ने कहा कि वह आयुक्त महोदय की कार्यशैली से वे काफी प्रभावित हैं और ऐसे उच्च अधिकारी ही गरीब जनता को न्याय दिलवा सकते हैं।
गौरतलब है कि फरीदाबाद पुलिस का कार्यभार संभालते ही पुलिस आयुक्त विकास अरोड़ा ने प्रशासन की लापरवाही की वजह से हुई दुर्घटना का कड़ा संज्ञान लेने के आदेश फरीदाबाद पुलिस को दिए थे। इस बाबत सेक्टर-58  थाना अधीक्षक भारतेंद्र कुमार ने जानकारी दी कि जांच करके धारा 304A में मामला दर्ज़ कर लिया गया है। इस लापरवाही के जो भी ज़िम्मेदार अधिकारी और ठेकेदार हैं उन पर कानूनी कार्यवाही की जायेगी और पीड़ित को न्याय दिलवाया जाएगा।
सेव फरीदाबाद संस्था पीड़ित परिवार के लिए केंद्र और हरियाणा सरकार के माध्यम से उचित मुआवज़ा और मृतक के छोटे भाई को सरकारी नौकरी की मांग भी उठाएगी।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *