BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

MCF: शहर में बनेंगी टूटी सड़कें और तोड़े जाएंगे अवैध निर्माण और कब्जे! जानिएं क्या है माजरा?

मैट्रो प्लस से नवीन गुप्ता की रिपोर्ट।
फरीदाबाद, 22 दिसम्बर:
जल्द ही शहर की टूटी-फुटी सड़कें चमचमाती नजर आएंगी और लोगों ने जो अतिक्रमण और अवैध कब्जे/निर्माण कर रखे हैं, उनको तोड़ा जाएगा। इस तरह के कई आदेश निगमायुक्त यशपाल यादव ने अपने अधीनस्थ निगम अधिकारियों को दिए हैं। उक्त संदर्भ में निगमायुक्त ने कांफ्रेंस हाल में इंजीनियरिंग विभाग से संबंधित अधिकारियों की मीटिंग ली जिसमें मुख्य अभियन्ता बागबानी, अधीक्षक अभियन्ता, कार्यकारी अभियन्ता, सहायक अभियंता तथा कनिष्ठ अभियन्ता उपस्थित थे।
मीटिंग में निगमायुक्त ने इंजीनियरिंग ब्रांच के अधिकारियों को निर्देश दिये कि शहर की टूटी-फुटी सड़कों का पैचवर्क, सड़कों को पॉट होल मुक्त करवाने की तैयारी करें क्योंकि अब तो पर्यावरण विभाग द्वारा दिये गये आदेश समाप्त होने जा रहे हैं। वहीं उन्होंने प्रत्येक एसडीओ/जेई को यह भी निर्देश दिए कि वह अपने-अपने वार्ड में कम से कम एक बड़े अवैध निर्माण को चिन्हित करें और उसको तोडऩे से पहले की सारी औपचारिता को पूर्ण करे ताकि जनवरी 2022 के प्रथम सप्ताह में एक ही दिन में सभी 40 वार्डों में उनको तोडऩे की एक साथ कार्यवाही की जा सके।
निगमायुक्त ने यह भी निर्देश दिये कि जिन बड़े नालों/नालियों पर अतिक्रमण हो रखा है उस अतिक्रमण को जल्द से जल्द हटायें तथा नाले, नालियों तथा स्ट्रोम वाटर ड्रैन्स की सफाई का काम जल्द से जल्द करवायें और अगर अगली बरसात में किसी भी एरिया में जलभराव होता है तो उस एरिया के कनिष्ठ अभियन्ता, सहायक अभियन्ता तथा कार्यकारी अभियन्ता जिम्मेवार होगें।
यही नहीं, निगमायुक्त ने निगम के राजस्व बढ़ाने को लेकर निर्देश दिए कि फरीदाबाद में जितने भी अवैध पानी-सीवरेज के कनेक्शन हैं उन्हें नगर निगम के रजिस्टर्ड प्लम्बरों द्वारा सहायक अभियन्ता की सहायता से वैध करवायें और जिनकी राशि बकाया है उन्हें बिल/नोटिस भिजवाकर रिकवरी करवायें। आयुक्त ने ये भी आदेश दिये कि 31-03-2022 तक की मांग के बिल 31-03-2022 से पहले ही जारी करें ताकि इनसे राशि 31-03-2022 से पहले प्राप्त हो जाये।
निगमायुक्त ने वायू प्रदूषण को रोकने के लिए भी कारगर कदम उठाने के लिए संबंधित अधिकारी को निर्देश दिये। आयुक्त ने निगम की अपनी और नर्सरी को विक्षीत करने के आदेश दिये।
मीटिंग में निगमायुक्त ने अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि शहर में चल रहे अवैध आरओ प्लांट का सर्वे करके उनकी रिपोर्ट मुख्य अभियन्ता के द्वारा सोमवार तक भिजवाना सुनिश्चित करें ताकि उन पर जल्द से जल्द कार्यवाही की जा सके।
मीटिंग में निगमायुक्त ने सभी कर्मचारियों/अधिकारियों को फरीदाबाद 311ऐप पर अपनी उपस्थिति 31-12-2021 तक प्रतिदिन दर्ज करने के आदेश दिये और ये स्पष्ट किया कि जो अपनी उपस्थिति फरीदाबाद 311 ऐप पर दर्ज नहीं करेंगे उनका 01-01-2022 से वेतन को रोक लिया जायेगा।
निगमायुक्त ने मेगा सफाई अभियान के तहत अच्छा कार्य करने पर सभी अधिकारियों, कर्मचारियों का प्रशंसा करते हुए कहा कि यह काम इसी प्रकार से चलता रहेगा और सभी मिल-जुल कर ही फरीदाबाद शहर को कचरा मुक्त शहर बना सकते हैं।




Leave a Reply

Your email address will not be published.