BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

लायंस क्लब आंखों एवं अंगदान को लेकर 22 जनवरी को कर रहा है जागरूकता सेमीनार

5 लाख लोग हर वर्ष आर्गन की वजह से मौत के मुंह में चले जाते है: चिलाना
नवीन गुप्ता / गोपाल कुकरेजा
फरीदाबाद, 20 जनवरी: लायंस क्लब द्वारा शहर में पहली बार आंखों एवं अंगदान (आईज एंड आर्गन) के डोनेशन को लेकर एक जागरूकता सेमीनार का आयोजन किया जा रहा है। शुक्रवार 22 जनवरी को एनएच-3 स्थित डीएवी शताब्दी कालेज में आयोजित होने जा रहे इस जागरूकता सेमीनार में लॉयन इंटरनेशनल के डिस्ट्रिक गर्वनर लायन जे.सी.वर्मा मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत करेंगे जबकि मुख्य संसदीय सचिव श्रीमती सीमा त्रिखा सेमिनार की अध्यक्षता करेंगी। एम्स के डा. राजीव मैखुरी तथा राम मनोहर लोहिया अस्पताल से सर्जरी हैड डा. (प्रो०) राना एके सिंह लोगों को इस बारे में जागरूक करेंगे। यह जानकारी आज एक प्रेस वार्ता में लायंस के डिस्ट्रिक कोर्डिनेटर आर.के.चिलाना ने दी। इस अवसर पर लॉयन मुकेश अरोड़ा, डीएवी शताब्दी कालेज के प्रिंसीपल लॉयन प्रो०सतीश आहूजा, लॉयन रमन ग्रोवर, लॉयन आर.के. गोयल, लॉयन टीएस बेदी, लॉयन आईडी अरोड़ा, लॉयन आरपी हंस, सचिन चिलाना, नरेन्द्र सिंह सहित अन्य लायंस क्लब के पदाधिकारी विशेष तौर पर उपस्थित थे।
इस सेमिनार में लायंस इंटरनेशनल के डिस्ट्रिक कोर्डिनेटर आर.के.चिलाना सर्वप्रथम अपने पूरे परिवार सहित अंगदान की घोषणा कर लोगों के बीच एक मिशाल पैदा करेंगे। ध्यान रहे कि इससे पहले लॉयन चिलाना का पूरा परिवार अपने 125 साथियों के साथ आखें दान करने की घोषणा भी कर चुका है।
श्री चिलाना ने बताया कि आज तक हम सभी को इस बात की जानकारी थी कि हम आंखें को दान कर सकते है परंतु हमारे देश में किडनी, लीवर खराब होने पर अपनी जान धो बैठते है। शरीर में अगर हम किसी और की किडनी व लीवर लगवा लें तो हमारा जीवन बच सकता है। इसी जानकारी को अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाने के लिए लायंस क्लब द्वारा इस तरह के सेमीनार का आयोजन किया जा रहा है।
श्री चिलाना ने बताया कि इस सेमीनार का आयोजन लांयस क्लब फरीदाबाद ओल्ड, लायंस क्लब फरीदाबाद सूर्या, लायंस कलब फरीदाबाद एवरसाईन व लायंस क्लब फरीदाबाद लेक सिटी द्वारा मिलकर संयुक्त रूप से कराया जा रहा है। इस सेमिनार को करवाने में डीएवी शताब्दी कालेज के प्रिंसीपल लॉयन प्रो०सतीश आहूजा का महत्वपूर्ण योगदान है जिन्होंने इस सेमीनार के लिए कॉलेज का ऑडिटोरियम मुहैया कराया और सेमीनार की पूरी व्यवस्था का जिम्मा लिया हैं।
श्री चिलाना ने बताया कि आज भी देश में 15 मिलियन नेत्रहीन लोग है व 20 हजार लोगों की मौत लीवर के समाप्त होने पर हो जाती है। 5 लाख लोग हर वर्ष आर्गन की वजह से मौत के मुंह में चले जाते है तथा डेढ़ लाख लोग किडनी की खराबी के कारण अपना जीवन समाप्त कर रहे है। उन्होंने बताया कि इन्हीं मौतों को रोकने के लिए हम सभी ने मिलकर इस तरह के सेमीनार का आयोजन किया है जिसमें राममनोहर अस्पताल, एम्स एवं अन्य बड़े-बड़े अस्पतालों से डाक्टर आयेंगे जोकि इस बात की जानकारी देंगे कि किडनी, लीवर व आंखे दान किस तरह से की जाती है।
श्री चिलाना ने बताया कि इस सेमीनार में विभिन्न सामाजिक व धार्मिक संस्थाओं सहित दिल्ली, फरीदाबाद, पलवल व गुडगांव के लायंस क्लब के पदाधिकारियों व सदस्यों को आमंत्रित किया गया है ताकि इस तरह की जानकारी पाकर वह इस बात का अधिक से अधिक प्रचार करे और लोगों की जान बचाई जा सके।
अंत में श्री चिलाना ने सभी लोगों को इस सेमीनार में अधिक से अधिक संख्या में पहुंचने का आहन किया।

DSC_9062
Chilana
Eyes & Organ Donation
Eyes & Organ Donation 1




Leave a Reply

Your email address will not be published.