BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

पुलिस कमिश्रर ने ऐसे क्या आदेश दिए कि अपराधियों की रूंह तक कापेगी?

फरीदाबाद पुलिस अब अपराधियों की कुंडली खंगाल अपराध की तह तक जाएगी। जानें कैसे?
Metro Plus से Naveen Gupta की रिपोर्ट
Faridabad News, 9 सितंबर:
नव-नियुक्त पुलिस आयुक्त विकास कुमार अरोड़ा द्वारा अपने कार्यालय में सभी डीसीपी, एसीपी व थाना प्रबंधकों, चौकी प्रभारी, क्राइम ब्रांच प्रभारी तथा आर्थिक अपराध सेल प्रभारी के साथ प्रथम मीटिंग में अपराध की समीक्षा की गई। इस दौरान पुलिस आयुक्त ने पहले सभी थाना प्रबंधक व अधिकारियों से उनके क्षेत्र में हो रहे अपराध की जानकारी प्राप्त की और अपराध पर अंकुश व अपराधियों की धर-पकड़ के निर्देश दिए तथा संगीन अपराधों की फाईलों पर अधिकारियों को स्वयं नजर रखने को कहा। अपराध नियंत्रण की समीक्षा करते हुए उन्होंने डीसीपी व एसीपी को भी अपने स्तर पर कार्यालय में अपराध बैठक आयोजित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद पुलिस अब आपराधिक इतिहास वाले अपराधियों के बारे में संबंधित राज्य व जिले के पुलिस अधिकारी से जानकारी साझा करते हुए उसकी कुंडली खंगालेगी।
इस मौके पर पुलिस कमिश्रर विकास अरोड़ा ने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा रहेगी प्राथमिकता। महिलाओं से छेड़छाड़ व अभद्र व्यवहार रोकने के लिए टीम गठित कर उसे सहयोगी पुलिस बल के साथ चिन्हित व महिला सुरक्षा को लेकर संवेदनशील स्थानों पर तैनात किया जाएगा।
उन्होंने 15 दिनों के अंदर लंबित शिकायतों का प्रभावी निष्पादन करने का निर्देश देते हुए व्यक्तिगत रूप में थानेदारों के साथ अपराध नियंत्रण की दोबारा समीक्षा की जाने की बात कही। न्यायोचित पुलिसिंग पर उन्होंने थानेदारों से कहा कि किसी भी प्रकार की शिकायत प्राप्त होने पर न्याय के सभी पक्षों पर विचार करते हुए आगे उनके खिलाफ सख्त प्रभावी कदम उठायें। अवैध हथियार, प्रतिबंधित नशा सामग्री और वाहन चोरी के मामले में नेटवर्क को ध्वस्त करने के लिए पुलिस अब अपराध श्रृंखला के अंतिम स्रोत तक पहुंचकर कार्रवाई करेगी।
पुलिस आयुक्त ने सभी थाना के मालखाना प्रदर्शनकी सूची अद्यतन करने के साथ थाना द्वारा जब्त अवैध शराब को भी नष्ट करने के निर्देश दिए।
साथ ही डॉयल 112 के अंतर्गत उपलब्ध ईआरवी वाहनों को संसाधन के रूप में उपयोग कर अपराध पर अंकुश लगाने का निर्देश भी दिए।
जिले के सभी थाना क्षेत्रों में जातीय व धार्मिक विषय पर उपजे विवाद को समाप्त करने की त्वरित पहल करते हुए अब फरीदाबाद पुलिस की ओर से शुरूआत में ही विवाद शिकायत पर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा बात-बात पर सड़क जाम कर हंगामा करने वाले उपद्रवियों के विरूद्ध तुरंत प्राथमिकी दर्ज कर कार्यवाही की जाएगी।
सड़क निर्माण में कमी के कारण होने वाली दुर्घटनाओं में अब संबंधित विभाग के अधिकारियों व ठेकेदार को भी दुर्घटना की पुलिस जांच में शामिल किया जाएगा और दोषी पाए जाने पर कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही सभी अधिकारियों को ईमानदारी से कार्य करने का स्पष्ट निर्देश देते हुए कहा कि किसी भी पुलिसकर्मी के विरूद्ध शिकायत मिलने पर कार्रवाई होगी।
बैठक में विकास कुमार अरोड़ा ने अधिकारियों को आपसी तालमेल बनाकर कार्य करने तथा गरीब व वंचित वर्गों की व्यथा का सहानुभूतिपूर्वक समाधान करने की बात कहते हुए यह संदेश साझा किया कि अच्छे कार्यों से हमारी अंत: प्रेरणा समृद्ध होती है और इसके बेहतर परिणाम से सुरक्षा संपन्न होती है।




Leave a Reply

Your email address will not be published.