BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

सैक्टर- 46 मार्किट में सुलभ शौचालय शुरू न होने से महिला दुकानदार व ग्राहक परेशान

नवीन गुप्ता
फरीदाबाद, 5 जनवरी:
सैक्टर- 46 मार्किट में लम्बे समय से शुलभ शोचालय का काम अधूरा पड़ा होने से मार्किट के दुकानदार बहुत परेशान हैं जिनमें सबसे ज्यादा महिला दुकानदार व दुकानों पर काम करने वाली बेटियां बहुत परेशान हैं। आज मार्किट की महिलाओं ने बेटी बचाओ अभियान के चेयरमैन व राष्ट्रीय संयोजक हरीश चन्द आज़ाद से कहा कि बेटियों को यहां शौचालय न होने से भारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।
मार्किट के सबसे पुराने दुकानदार अशोक शर्मा ने बताया कि मार्किट के दुकानदारों के बार-बार संर्घष से आज से पाँच वर्ष पुर्व हुड्डा प्रशासक के द्वारा शौचालय का काम शुरू किया जोकि 90 प्रतिशत पूरा हो चुका है लेकिन अचानक चार वर्षों से उसको अधूरा छोड़ रखा है। मार्किट के अन्य दुकानदार तेजिन्द्र सिंह ने आरटीआई लगाकर जानकारी मांगी कि शौचालय का काम अधूरा क्यों पड़ा है जिसका जवाब जनवरी 2013 में आया कि बनने के बाद मार्किट एसोसिएशन को सौप देंगे लेकिन काम तब भी शुरू नहीं हुआ उसके बाद अशोक कुमार शर्मा ने सीएम विन्डों पर शिकायत नवंबर 2015 को दी लेकिन उसके बाद भी कोई कार्यवाही नहीं हुई लेकिन जब उन्होंने ओनलाईन चैक किया तो उसमें लिखा आया कि पांच जनवरी 16 तक शौचालय का काम पूरा हो जायेगा लेकिन अभी तक काम शुरू ही नही हुआ। इस दौरान अशोक शर्मा ने दिसंबर 15 में हुड्डा प्रशासक एवं स्टैट ऑफिसर को भी लिखित शिकायत की लेकिन कोई कार्यवाही नही हुआ ।
मार्किट महिला दुकानदार रीटा शर्मा ने बताया कि दुकानदार भाई तो खुले में शौच कर लेते हैं लेकिन हम महिलायें कहां जायें जबकि माननीय प्रधानमंत्री जहां घर-घर में शौचालय की बात करते हैं लेकिन उनका प्रशासन बने हुए शौचालय को वर्षों से पुरा नही कर पा रहा है। उन्होंने बताया कि दुकानदार बहनों के साथ-साथ महिला ग्राहकों को भी परेशानी का सामना करना पड़ता है। उन्होंने बेटी-बचाओ अभियान को इसमें अपना सहयोग देने की बात की। अभियान के राष्ट्रीय संयोजक हरीश आज़ाद ने कहा कि हम मार्किट की बहनों के साथ इसकी शिकायत हुड्डा प्रशासक को लिखित में देगें और इसकी शिकायत आपके क्षेत्र की संसदीय सचिव सीमा त्रिखा से करेगें वह आवश्य आप लोगों की सहायता करेंगी ।




Leave a Reply

Your email address will not be published.