BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

कृष्णपाल गुर्जर ने किया हरियाणा की पहली थ्री डी कैथ लैब मशीन का शुभारंभ

हृदय रोगियों के लिए कारगर होगी थ्रीडी कैथ लैब : डा. एसएस बंसल
दिल और दिमाग की एन्जियोग्राफी होगी आसान
नवीन गुप्ता
फरीदाबाद, 3 नवम्बर:
निजी अस्पताल चिकित्सा क्षेत्र में नए-नए तकनीकों के माध्यम से लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करवा रहे है जिनमें से मैट्रो अस्पताल भी एक है। यहां विश्वस्तरीय मशीनों के द्वारा लोगों की गंभीर से गंभीर बीमारियां का इलाज किया जा रहा है। यह कहना था केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर का। वे आज यहां सेक्टर-16ए स्थित मैट्रो अस्पताल में 3डी कैथ लैब का उद्घाटन अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे। श्री गुर्जर ने अपने संबोधन में उम्मीद जताई कि मैट्रो अस्पताल भविष्य में भी इसी प्रकार चिकित्सा क्षेत्र में नई-नई उपलब्धियां हासिल करता रहेगा।
इस अवसर पर मैट्रो ग्रुप के चेयरमैन एवं पद्मभूषण से सम्मानित डा. पुरुषोत्तम लाल, वरिष्ठ हृदय विशेषज्ञ एवं मैनेजिंग डायरेक्टर डा. एसएस बंसल, मंत्री पुत्र एवं युवा भाजपा नेता देवेन्द्र चौधरी, भाजपा के जिला अध्यक्ष अजय गौड़, श्रीमती पूनम लाल, डा. सीमा बंसल, अस्पताल के मेडिकल सुपरीडेंट डा. नीरज जैन, अशोक गोयल तथा उद्योगपति विजय जिंदल आदि विशेष रुप से मौजूद थे। कार्यक्रम में पहुंचने पर डा. लाल व डा. बंसल ने श्री गुर्जर का बुक्के देकर स्वागत किया।
इस मौके पर मैट्रो ग्रुप के चेयरमैन एवं पद्मभूषण से सम्मानित डा. पुरुषोत्तम लाल ने कहा कि मैट्रो अस्पताल लोगों को बेहतर चिकित्सा सेवाएं देने के लिए अग्रणीय है और थ्री डी कैथ लैब की स्थापना के बाद जटिल बीमारियां का भी यहां इलाज संभव हो पाएगा और लोगों को विश्वस्तरीय चिकित्सा सुविधाएं मिलेगी।
कार्यक्रम में डा. एस.एस. बंसल ने कैथ लैब की विशेषताएं बताते हुए कहा कि इससे फ्लोरो स्टोर से कई तस्वीरें बिना सिने सेव करके रखे जा सकते है, जिससे हृदय विशेषज्ञों को भी बार-बार शाट्स नहीं लेने पड़ते और विकिरण का स्तर भी बहुत कम हो जाता है। इसके अलावा हाई क्वालिटी डीएसए (डिजिटल सबस्ट्रेक्शन एंजियो) एक बहुत ही विशेष सुविधा है, जिससे छोटी से छोटी धमनी जिससे खून बह रहा हो, उसे पहचान के सील किया जा सकता है ताकि ब्लीडिंग रोकी जा सके। बहुत सारी तकनीकों के समावेश होने के कारण ये कैथ लैब हमारे मरीजों को आर्थिक रुप से भी सस्ती रहेगी क्योंकि कई अतिरिक्त टेस्ट जो अधिक जानकारी के लिए पहले करने पड़ते थे, वे अब इसी कैथ लैब द्वारा संभव होंगे, जिससे अतिरिक्त खर्चा बचाया जा सकेगा।
उन्होंने बताया कि स्टेन्ट विज सुविधा हमारी सहायता करता है कि स्टैंट बिल्कुल सही और उचित स्थान पर लगाया जा सके और उसका विस्तार भी देखा जा सकता है ताकि भविष्य में स्टैंट ब्लाकेज न हो। इसके अलावा रोडमैप एक ऐसी विशेष सुविधा है, जिसकी मदद से हम गाईडवायर और दूसरे उपकरणों का धमनी के अंदर का रास्ता देख सकते है और इसके लिए बार-बार कोट्रास्ट इंजेक्शन की जरुरत भी नहीं पड़ती।
डा. बंसल ने बताया कि ब्रेन हैमरेज का सफल इलाज करने में यह बहुत सहायक है। इसके अलावा यह मशीन कई एंगल में 180 डिग्री तक घूम सकती है। यह कैथ लैब बिना मरीज को हिलाए सिर से लेकर पांव तक तस्वीरें ले सकती है। उन्होंने बताया कि इन विशेषताओं के कारण मरीज और अस्पताल के स्टाफ विकरण और डाई से सुरक्षित रहते है और खासकर डायबिटीज और किडनी के मरीजों के लिए यह ज्यादा महत्वपूर्ण है। उन्होंने बताया कि स्ट्रेट ऑफ आर्ट मशीन हृदय रोग के निदान और इलाज के लिए नए द्वार खोल देगी और यह सारी सुविधाएं हमारे सारे मरीजों को प्रदान की जाएगी।
डा. बंसल ने कहा कि लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए वह प्रयासरत है और आने वाले समय में भी वह इसी प्रकार आधुनिक उपकरणों को मैट्रो अस्पताल में लाकर लोगों को विश्वस्तरीय सुविधाएंं मुहैया करवाने का हरसंभव प्रयास करेंगे। डा. बंसल ने बताया कि हमें अपनी पिछली कैथ लैब को हटाकर ये अत्यंत आधुनिक कैथ लैब ली है ताकि हमारे मरीजों को लाभ पहुंच सके तथा विभिन्न तकनीकों के एक ही मशीन में होने से मरीजों को कैथ लैब प्रक्रियाओं, एंजियोप्लास्टी जैसी सुविधा आर्थिक रुप से भी सस्ती रहेगी। ब्रेन कैंसर तथा शरीर के अन्य हिस्सों के ट्यूमरों को उनकी खून की सप्लाई को बंद करके खत्म किया जा सकता है।
गौरतलब रहे कि चिकित्सा क्षेत्र में अग्रणीय सेक्टर-16ए स्थित मैट्रो अस्पताल ने फरीदाबाद में एक ऐसी नवीन स्टेट ऑफ आर्ट मशीन 3 डी इनोवा 2100 आईक्यू (ओपटिमा एडिशन) आईजीएस 320 कैथ लैब की स्थापना की गई, जिसमें रोटेशनल एंजियोग्राफी की सुविधा भी उपलब्ध है। चिकित्सा क्षेत्र में यह पहली अपने तरीके की उन्नत विशेषताओं वाली मशीन है। इस शानदार 3डी कैथ लैब का उद्घाटन आज केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर द्वारा किया गया। कैथ लैब के बारे में डा. बंसल ने बताया कि इस हाईटैक कैथ लैब में कई उन्नत तकनीकों जैसे फ्लोरोस्टोर, स्टैंट विज, हाई क्वालिटी डीएसए सुविधाएं और रोटेशनल एंजियोग्राफी आदि विशेषताएं शामिल है। _MG_2051

_MG_2018




Leave a Reply

Your email address will not be published.