BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

महाराजा अग्रसेन की जयंती पर विराट हास्य कवि सम्मेलन का आयोजन

नवीन गुप्ता
बल्लभगढ़ , 2 नवंबर:
अग्रवाल समिति ने महाराजा अग्रसेन की 514वीं जयंती के उपलक्ष्य में एक विराट हास्य कवि सम्मेलन का आयोजन किया। इस सम्मेलन में मौजूद हास्य कवियों ने श्रोताओं को खूब गुदगुदाया, वहीं वीर रस के कवि ने श्रोताओं को झकझोर दिया। कवि सम्मेलन में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के राजनैतिक सचिव दीपक मंगला का समिति की तरफ से नागरिक अभिनंदन भी किया गया।
चावला कॉलोनी स्थित अग्रवाल धर्मशाला में आयोजित इस समारोह में मुख्य अतिथि विधायक विपुल गोयल जबकि कार्यक्रम की अध्यक्षता विधयक मूलचंद शर्मा ने की। विशिष्ट अतिथियों में एसआरएस के डॉयरेक्टर अनिल जिंदल मौजूद रहे। संस्था के आशाराम अग्रवाल, विजय मंगला, राजेन्द्र गुप्ता, लोकेश अग्रवाल, घनश्याम मित्तल, सूरज सिंगला, ललित गोयल, लक्की गोयल, दिनेश मंगला, जितेन्द्र सिंगला, डॉ० दीपक सिंगला व राजू मित्तल आदि ने अतिथियों का स्वागत किया तथा स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। मुख्यमंत्री के राजनैतिक सचिव दीपक मंगला के नागरिक अभिनंदन का ईश्वर गोयल, धैजिया संगठन से कैलाश गर्ग व्यापारी विनोद मित्तल, टेकचंद अग्रवाल, अग्रसेन समाज सैक्टर-8 अग्रसेन समाज के सतीश मित्तल, मुरारी लाल जिंदल, सुनीत गर्ग, प्रमोद मित्तल, सुनील गोयल, सीमा जैन, प्रेमप्रकाश शास्त्री आदि लोग हिस्सा बने। कार्यक्रम की शुरू आत दीप जलाकर कि गयी तथा शिशु विद्यालय की छात्राओं ने स्वागत गीत व महाराज अग्रसेन की आरती कर के किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विधयक विपुल गोयल ने कहा कि वैश्य समाज का देश की अर्थव्यवस्था में विशेष योगदान है। आज देश की 35 फीसदी अर्थव्यवस्था वैश्य समाज पर निर्भर करती है। एक अकेला वैश्य समाज पूरे देश में सबसे ज्यादा दान और पुण्य का काम करता है।
विधायक विपुल गोयल ने कहा कि अग्रवाल समाज की देश में अपनी अलग पहचान हैै। सभी पुण्य कार्यों में सबसे अहम भागीदारी इसी समाज की रहती है। महाराजा अग्रसेन ने समाजवाद का नारा देकर अपने राज्य में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति को बसाने का काम किया था। आज हम सभी को महाराजा अग्रसेन से प्रेरणा लेने की जरूरत है। कार्यक्रम का मंच संचालन विनोद मित्तल ने किया।
कवि सम्मेलन में हास्य कवि सबरस मुरसानी, रामबाबू सिकरवार, मास्टर महेन्द्र, वीर रस के कवि डॉ० अर्जुन सिसोदिया, डॉ० विरेन्द्र शर्मा, दीपक गुप्ता, मुमताज नसीम तथा मोना देहलवी ने काव्य पाठ किया। इस मौके पर अरूण बजाज, कैलाश शर्मा, अशोक मगला, बीडी गोयल सीए, पंकज सिंगला, राकेश कंसल, सुमित मंगला प्रमुख रूप से मौजूद रहे।
Aggarwal Samiti

Aggarwal Samiti-1




Leave a Reply

Your email address will not be published.