BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

पहले दिन मात्र 5 उम्मीदवारों ने अपने नामांकन पत्र दाखिल किए

चंडीगढ़, 20 सितम्बर- हरियाणा मे हो रहे विधानसभा चुनाव के लिए आज नामांकन दाखिल करने के पहले दिन कुल 5 उम्मीदवारों ने अपने नामांकन पत्र दाखिल किए। नामांकन पत्र दाखिल करने वालों में एक उम्मीदवार आरक्षण विरोधी पार्टी से हैं जबकि 4 अन्य ने निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। हरियाणा के मुख्य चुनाव अधिकारी श्रीकांत वाल्गद ने बताया कि आज विधानसभा चुनाव की अधिसूचना जारी होने के बाद नामांकन दाखिल करने का सिलसिला शुरू हो गया है। नामांकन पत्र दाखिल करने वाले कुल पांच उम्मीदवारों मे जयप्रकाश कौशिक व रमेश वर्मा नाम के दो उम्मीदवारों ने भिवानी विधानसभा क्षेत्र के लिए निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर अपना नामांकन दाखिल किया है। उन्होंने बताया कि रेवाड़ी के कोसली विधानसभा क्षेत्र से पंकज व गुडगांव जिले के बादशाहपुर विधानसभा क्षेत्र से कुशेशवार भगत ने निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर अपने पर्चे दाखिल किया जबकि फरीदाबाद के बल्लभगढ विधानसभा क्षेत्र से आरक्षण विरोधी पार्टी के संजय शर्मा ने अपना नामांकन दाखिल किया।
मुख्य चुनाव अधिकारी ने बताया कि नामांकन भरने की अंतिम तिथि 27 सितंबर हैं। इच्छुक उम्मीदवार सुबह 11 बजे से दोपहर बाद 3 बजे तक नामांकन पत्र दाखिल कर सकते हैें। कल रविवार यानि 21 सितंबर को अवकाश के चलते नामांकन पत्र दाखिल नही किए जा सकेंगे। उन्होंने स्पष्टï किया है कि 23 व 25 सितंबर को हरियाणा के सरकारी कार्यालयों में छुट्टियां हैं लेकिन नेगोसिएबल इंस्ट्रुमेंटल एक्ट 1881 के अनुसार ये पब्लिक हॉली-डे नही हैं। इसलिए उम्मीदवार इन दिनों में भी नामांकन पत्र दाखिल करवा सकेंगे।
नामांकन पत्रों की जांच 29 सितंबर को की जाएगी और 1 अक्तुबर तक उम्मीदवार अपने नामांकन वापस ले सकते है। 15 अक्तुबर को मतदान होगा तथा 19 अक्तुबर को मतगणना की जाएगी। उन्होंने बताया कि 22 अक्तुबर तक चुनाव की प्रक्रिया को पूरा कर लिया जाएगा।
उन्होंने चुनाव से जुड़े सभी अधिकारियों व प्रदेश विभिन्न विभागों के विभागाध्यक्षों को भी आदर्श चुनाव आचार संहिता का सख्ती से पालन करने के निर्देश दिए। मुख्य चुनाव अधिकारी ने कहा कि आदर्श चुनाव आचार संहिता के लागु होने के साथ ही सरकारी विभागों में तबादलों पर रोक लग चुकी हैं।
मुख्य निर्वाचन अधिकारी की पूर्व अनुमति के बिना किसी भी कर्मचारी या अधिकारी का तबादला नही किया जा सकता। जिन कर्मचारियों या अधिकारियों के तबादला संबधी आदेश आदर्श चुनाव आचार संहिता के लागु होने से पूर्व हो चुके थे लेकिन यदि उन्होंने आदर्श चुनाव आचार संहिता के लागु होने से पूर्व ज्वायन न किया हो तो ऐसे कर्मचारी या अधिकारी को बिना चुनाव विभाग की अनुमति आदर्श चुनाव आचार संहिता रहने तक ज्वायन नही करवाया जाएगा। यदि कोई चुनाव आचार संहिता की उल्लंघना का दोषी पाया गया जो उसके विरूद्व नियमानुसार कडी कार्रवाई की जाएगी।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *