BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

निजी स्कूलों की मनमानी व फीस बढ़ोतरी मामले को लेकर शुक्रवार को होगी आयुक्त गुडग़ांव मंडल की अध्यक्षता में मिटिंग

सोनिया शर्मा
फरीदाबाद, 21 मई: निजी स्कूलों की मनमानी व उनके द्वारा हर साल बढ़ाई जाने वाली फीस की वैधता की जांच करने के लिए मंडल आयुक्त गुडग़ांव की अध्यक्षता में गठित की गई फीस एण्ड फंड रेगुलेटरी कमेटी की शुक्रवार को मीटिंग आयोजित की जाएगी जिसमें फरीदाबाद, गुडग़ांव के उपायुक्त व जिला शिक्षा अधिकारी तथा हरियाणा अभिभावक एकता मंच व निजी स्कूलों की एसोसिएशन के प्रतिनिधि भी शामिल होंगे। मंडल आयुक्त डी. सुरेश की अध्यक्षता में कॉन्फ्रेंस हाल डीसी ऑफिस गुडग़ांव में सुबह 11 बजे आयोजित इस बैठक में मंच द्वारा व सीधे अभिभावकों द्वारा निजी स्कूलों की मनमानी की भेजी गई शिकायत पर आगे उचित कार्यवाही करने पर विचार-विमर्श किया जाएगा।
मंच के प्रदेश महासचिव कैलाश शर्मा तथा जिला अध्यक्ष शिवकुमार जोशी ने बताया कि हरियाणा में निजी स्कूलों द्वारा प्रत्येक वर्ष बढ़ाई जाने वाली फीस, स्कूलों में खुली हुई दुकानों के द्वारा दी जाने वाली किताब-कापी व निजी स्कूलों द्वारा बनाए गए गैर-कानूनी फंडों आदि की जांच करने के लिए हरियाणा के प्रत्येक मंडल आयुक्त की अध्यक्षता में फीस एण्ड फंड रेगुलेटरी कमेटी का गठन हरियाणा स्कूल एजुकेशन एक्ट 1995 के तहत किया गया है। इस कमेटी को मंच की जिला कमेटी फरीदाबाद, पलवल, गुडग़ांव ने निजी स्कूलों द्वारा पिछले पांच साल में बढ़ाई गई फीस का ब्योरा व गैर कानूनी फंडों में वसूली जा रही फीस की जानकारी फरवरी में ही भेज दी थी। मंडल आयुक्त ने मंच की शिकायतों को संबंधित जिलों के जिला शिक्षा अधिकारी के पास जांच-पड़ताल करने के लिए भेजा लेकिन किसी भी जिला शिक्षा अधिकारी ने इस पर कोई भी उचित कार्यवाही नहीं की और न ही शिकायतकर्ता को बुलाया। इसकी शिकायत मंच ने मंडल आयुक्त गुडग़ांव से की। मंडल आयुक्त ने 10 अप्रैल को मंच की जिला कमेटी फरीदाबाद के अध्यक्ष व महासचिव को बुलाकर इस संबंध में बातचीत की। फिर भी कोई उचित कार्यवाही न होने पर मंच ने सीधे मुख्यमंत्री को शिकायत की। उसके बाद 22 मई को यह बैठक बुलाई गई है।
मंच के जिला अध्यक्ष एडवोकेट शिवकुमार जोशी व जिला सचिव डॉ. मनोज शर्मा ने कहा है कि वे शुक्रवार को गुडग़ांव में आयोजित फीस एण्ड फंड रेगुलेटरी कमेटी की बैठक में भाग लेंगे और मजबूती से अपना पक्ष रखेंगे तथा कमेटी को बताएंगे की किस प्रकार निजी स्कूल सीबीएसई, हुडा व शिक्षा नियमावली के नियम-कानूनों को ताक पर रखकर छात्र व अभिभावकों को आर्थिक व मानसिक शोषण कर रहे हैं। मंच ने सभी अभिभावकों से कहा है कि वे अपने छात्र के स्कूल की मनमानी फीस का ब्योरा व अन्य ज्यादतियों की जानकारी सीधे मंडल आयुक्त गुडग़ांव को भेजें और इसकी एक प्रति मंच के पास भी जमा कराएं। जिससे उनकी शिकायत पर दोषी स्कूलों के खिलाफ उचित कार्यवाही कराई जा सके।




Leave a Reply

Your email address will not be published.