BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

आईएमए के आहन पर बंद रहे प्रदेश के 1400 से ज्यादा अल्ट्रासाउंड केंद्र

नवीन गुप्ता
फरीदाबाद, 15 अप्रैल: अल्ट्रासाउंड केंद्रों की सांकेतिक हड़ताल का आज पूरे प्रदेश में जबरदस्त असर दिखाई दिया। गौरतलब है कि पीएनडीटी एक्ट की आड़ में सरकारी तंत्र द्वारा किये जा रहे शोषण के खिलाफ इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए )की हरियाणा यूनिट ने बुधवार को हड़ताल का आह्वान किया था।
आईएमए के प्रदेश अध्यक्ष डॉ० अनिल गोयल ने हड़ताल को पूरी तरह कामयाब बताते हुए कहा कि मरीजों को परेशान करने की हमारी कोई मंशा नहीं थी लेकिन लगातार ध्यानाकर्षण के बावजूद स्वास्थ्य विभाग हमारी परेशानियों को नजऱअंदाज़ कर रहा था। अगर अभी भी डॉक्टरों को परेशान किया जाना बंद नहीं हुआ तो यह हड़ताल अनिश्चितकालीन भी हो सकती है। फरीदाबाद में इस हड़ताल के लिए बनाये गए कंट्रोल रूम पर प्रदेश की सभी 36 आईएमए इकाइयों से अल्ट्रासाउंड केंद्रों के बंद की खबर है।
अम्बाला शहर, अम्बाला कैंट, भिवानी, बहादुरगढ़, फरीदाबाद, गुडगांव, हिसार, झज्जर, जींद, कैथल, कालका, करनाल, कुरुक्षेत्र, नारनौल, पलवल, पंचकूला, पानीपत, रेवाड़ी, रोहतक, सिरसा, सोनीपत, यमुनानगर, शाहबाद व महेन्द्रगढ़ आदि में अल्ट्रासाउंड केंद्रों पर कामकाज पूरी तरह बंद रहा। इन शहरों के कॉरपोरेट हॉस्पिटल्स में भी अल्ट्रासाउंड नहीं हुए।
आईएमए के मुताबिक प्रदेश के लगभग 1400 गैर-सरकारी अल्ट्रासाउंड केंद्र आज पूरी तरह बंद रहे। फफरीदाबाद में डॉ० अनिल गोयल के नेतृत्व में 200 से ज्यादा डॉक्टरों ने काली पट्टियां बांध कर नीलम चौक से लेकर बीके चौक तक पैदल मार्च किया और इसके बाद लघु सचिवालय जा कर अतिरिक्त जिला उपायुक्त डॉ० आदित्य दहिया को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। इस प्रदर्शन में डॉ० सुरेश अरोड़ा, डॉ० आरएन रस्तोगी, डॉ० एके बक्शी, डॉ० एके अग्रवाल, डॉ० एसपी जैन, डॉ० निर्मेश वर्मा, डॉ० निशा कपूर, डॉ० मनिंदर आहूजा, डॉ० पुनीता हसीजा, डॉ० अर्चना गोयल, डॉ० एसडी पाराशर, डॉ० सतीश गुप्ता, डॉ० पीके बब्बऱ, डॉ जयंत, डॉ० विजय गुप्ता, डॉ० कमल अग्रवाल, डॉ० प्रवीण गुप्ता, डॉ० रीमा कपूर, डॉ० अशोक कपूर, डॉ० मीनाक्षी घई, डॉ० किरण सूद, डॉ०वंदना बब्बर, डॉ० संजय टुटेजा, डॉ० एके कुंडू, डॉ० अरुणा कुंडू, डॉ० मीनू कपूर, डॉ० दीपक भाटिया आदि मुख्य रूप से शामिल थे।




Leave a Reply

Your email address will not be published.