BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

स्कूली विद्यार्थियों को कौन कराएगा प्रदेश की संस्कृति से रूबरू, जानिए?

मैट्रो प्लस से नवीन गुप्ता की रिपोर्ट
फरीदाबाद, 28 मार्च:
स्कूली विद्यार्थियों को प्रदेश की संस्कृति से रूबरू करवाने के लिए सामाजिक संंस्था राह ग्रुप फाउंडेशन ने सार्थक पहल की है। जिसके तहत राह संस्था अब हरियाणा के सरकारी व प्राईवेट स्कूलों में हरियाणा को जानो पुस्तक उपलब्ध करवाएगी। यह जानकारी फाउंडेशन के प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ० सतीश कुमार फौगाट ने दी।
डॉ० फौगाट ने बताया कि एक विशेष पाठ्यक्रम में सामान्य व प्रतियोगी पैटर्न को मिलाकर रोचक तरीके से जानकारियों का समावेश किया गया है। यह पुस्तक CBSE, HBSE व केन्द्रीय बोर्ड से जुड़े सभी प्रकार के स्कूलों में कक्षा चार से लेकर 12वीं कक्षा तक के विद्यार्थियों को उपलब्ध करवाई जाएगी। इस पुस्तक में एक हजार से अधिक बहु-विकल्पीय प्रश्न-उत्तर भी होंगे।
डॉ० फौगाट के अनुसार क्लास रैडीनेश प्रोग्राम के तहत इस पुस्तक को प्रदेश के प्राईवेट, सरकारी व पब्लिक स्कूलों में बढ़ाया जा सकेगा। केश कलां एवं कौशल विकास बोर्ड के निदेशक नरेश सेलपाड़ के अनुसार पुस्तक में हरियाणा के सक्षिप्त परिचय के अलावा, हरियाणवीं स्वर-व्यंजन, राज्य के प्रतीक चिन्हों, पड़ौसी राज्यों, देश के संदर्भ में हरियाणा का स्थान, प्रदेश में प्रथम पुरुष-महिलाओं, प्रदेश के इतिहास, नामकरण/ गठन, वर्तमान शहरों के प्राचीन नाम, भौगोलिक क्षेत्रों के उपनाम, प्राचीन अवशेषों के प्राप्ति स्थल, सीसवाल संस्कृति व सिन्धु घाटी स यता के क्षेत्रों, राज्यों के ऐतिहासिक टीलों, 1857 की क्रांति व स्वतंत्रता प्राप्ति में प्रदेश के योगदानों को शामिल किया गया है।
राह क्लब हरियाणा के उपाध्यक्ष सतीश फौगाट के अनुसार हरियाणा प्रदेश के सामान्य ज्ञान से जुड़ी यह पहली पुस्तक होगी, जिसमें रंगीन मानचित्रों के अलावा प्रदेश की सांस्कृतिक विरासत को चित्रों के माध्यम से भी समझाया गया है। उन्होंने बताया कि ऐसा पहली बार हो रहा है कि किसी सामाजिक संस्था ने इतनी गहनता से इस प्रकार हरियाणा के इतिहास के उत्थान व विकास के लिए विद्यार्थियों के माध्यम से संस्कृति को नया रुप देने का प्रयास किया गया है।
डॉ० सतीश फौगाट के अनुसार राह संस्था की हरियाणा को जानो नामक पुस्तक में प्रदेश की भौगोलिक संरचना, मिट्टी के प्रकार, कृषि व पशुपालन, सिंचाई व्यवस्था, उत्पादन में जिलावार स्थिति, बागवानी, प्रमुख फल एवं उत्पादन क्षेत्र, प्रमुख सब्जियां एवं उत्पादन क्षेत्र, फसल मसालों एवं उत्पादन, प्रमुख उद्योग एवं उत्पादन क्षेत्रों, प्रमुख खनिज व उनके प्राप्ति स्थानों, ऊर्जा संसाधन, वन्य संपदा, वन्य जीव संरक्षण, हरियाणा के राष्ट्रीय उद्यानों, प्रदेश के संरक्षण रिजर्व, प्रदेश सामुदायिक संरक्षण क्षेत्रों, प्रशासनिक व्यवस्था, कानून व्यवस्था, परिवहन व्यवस्था, रेलवे, मैट्रो परियोजनाओं, वायु परिवहन, नगर निकाय पंचायती राज, नगर निकायों, हरियाणा के पर्यटन स्थलों, वेशभूषा, आभूषण, लोक नृत्यों, हरियाणा में मूर्तिकला, प्रमुख लोकगीत, लोक वाद्य यंत्र, हरियाणा के लोक नाट्य, प्रमुख सांगी एवं उनकी रचनाएं, हरियाणवीं सिनेमा, वालीवुड में हरियाणा, प्रमुख मेले एवं पर्व-उत्सव, खेल-खिलाड़ी, खेल पुरस्कार व सम्मान, राज्य के शिक्षण संस्थानों सहित हरियाणवी शब्दावली से संबंधित शब्द व भाषा साहित्य की विस्तार से जानकारी प्रदान की गई है।
उन्होंने बताया कि राज्य की इस पुस्तक के माध्यम से विद्यार्थी विधानसभा, वर्तमान मंत्रीमण्डल, संसद में प्रदेश का प्रतिनिधित्व, हरियाणा के राज्यपाल, हरियाणा के मु यमंत्र्यिों, प्रशासनिक संरचना, प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों के ब्रांड अम्बेसडरों, भूकंप प्रभावित जोन, पानी की किल्लत वाले जिलों, प्रदेश की जलवायु, वर्षा, तापमान, आद्रर्ता, जिलावार सभी जिलों की विस्तार से जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।
तीन चरणों में होगी प्रतियोगिता:
विद्यार्थियों को प्रदेश के गौरवशाली इतिहास व वर्तमान उपलब्धियों से रूबरू करवाने के मकसद से राह संस्था भविष्य में हरियाणा को जानो नामक प्रतियोगिता का भी आयोजन करेगी। यह प्रतियोगिता तीन चरणों में होगी। प्रतियोगिता के पहला चरण स्कूल स्तरीय होगा। उसमें चयनित छह विद्यार्थियों को जिला स्तरीय प्रतियोगिता में भाग लेने का अवसर मिलेगा। स्कूली स्तर पर हरियाणा को जानो नामक प्रतियोगिता स्कूली स्तर पर रिटर्न पैटर्न में होगी। उसके बाद केबीसी की तर्ज पर कौन बनेगा कल्लचरपति नामक हरियाणा को जानो प्रतियोगिता व उसके बाद प्रदेश स्तरीय प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा।
मैप से समझ सकेंगे बारिकी:-
इस पुस्तक में प्रदेश में होने वाली वर्षा, मिट्टी, जलवायु, तापमान, भूकंप संभावित क्षेत्रों, एन.सी.आर. में शामिल जिलों, ड्रोक जोन में तब्दील होते ब्लॉकों, विधानसभा व लोकसभा क्षेत्रों सहित डेढ़ दर्जन से अधिक विषयों को मानचित्रों के साथ दिया गया है। वो भी पूर्णरुप से रंगीन। इससे विद्यार्थी प्रदेश के प्रत्येक जिले व दूसरे गहन विषयों को आसानी से समझ सकेंगे।
नजर आएगा प्रदेश का गौरव:-
राह संस्था की हरियाणा को जानो नामक इस पुस्तक को किसी कम्पीटिशन में काम आने वाली विश्व स्तरीय मानकों के साथ 20 से अधिक एक्सपर्ट ने तैयार किया है। इस पुस्तक में वर्तमान हरियाणा की उपलब्धियों, महात्मा गांधी की गिरफ्तारी हरियाणा के पलवल जिले में होने, देश के पहले जवाहर नवोदय विद्यालय की स्थापना हरियाणा के कलोई झज्जर में होने से लेकर हरियाणा के सेना वीरों व खिलाडिय़ों की उपलब्धियों को बताया गया है। इसके 80 ऐसे जानकारियां दी गई हैं। जिनमें हरियाणा प्रदेश देश में अव्वल स्थान रखता है।
विद्यार्थियों को क्या होगा लाभ:-
इस पुस्तक से जहां विद्यार्थी प्रदेश के इतिहास से रूबरू होंगे, वहीं भविष्य में होने कम्पीटिशन एग्जाम में उन्हें इसका सीधा लाभ मिलेगा। इस पुस्तक को वैज्ञानिक सिद्वान्तों के हिसाब से तैयार किया गया है। इससे विद्यार्थियों को बौद्विक विकास भी होगा। साथ ही वे हरियाणवीं शब्दावली व संस्कृति के प्रत्येक पहलूओं को भी नजदीक से जान पाएंगे।


राह संस्था की पुस्तक हरियाणा को जानो में पर पराओं से संबंधित चित्र

राह संस्था की पुस्तक हरियाणा को जानो में दर्शाये गए मानचित्र




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *