BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

भाजपा के किस नेता को क्राईम ब्रांच ने गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे पहुंचाया? पढिय़े।

मैट्रो प्लस से नवीन गुप्ता की स्पेशल रिपोर्ट।
फरीदाबाद, 29 जुलाई:
अपने आपको हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर, केन्द्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर, केन्द्रीय राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर, कैबिनेट मंत्री रहे मनीष ग्रोवर आदि का खासमखास बता उनके साथ फोटो खिंचवाकर उसे फेसबुक पर लगा लोगों में अपनी राजनैतिक पैठ दिखा विधायक बनने की मंशा पाले बैठे एक भाजपा नेता को फरीदाबाद की क्राईम ब्रांच ने गिरफ्तार कर लिया है। यहीं नहीं, इसके साथ उसके 7 अन्य साथियों को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है।
गिरफ्तार किए गए इस भाजपा नेता का नाम गगनदीप सिंह उर्फ रिंकु बताया गया है, जोकि एनआईटी फरीदाबाद के एनएच-3J/8, फ्रंटीयर कालोनी में रहता है और बडख़ल विधानसभा क्षेत्र से विधायक बनने की चाह पाले बैठा था। लेकिन उसे क्या पता था कि पुलिस उसे सलामी देने की बजाए गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे ही पहुंचा देगी। पुलिस की NIT क्राईम ब्रांच ने इस भाजपा नेता गगनदीप सिंह उर्फ रिंकु को नेहरू ग्राऊंड की लोहा मंडी में स्थित नमस्ते नामक OYO होटल से जुआ खेलते और खिलाते रंगे हाथों गिरफ्तार कर सिर्फ उसके पास से ही जुए की रकम के 40 हजार रूपये भी बरामद किए हैं जबकि बाकी के जुआरियों से बरामद की गई रकम अलग से है।
पुलिस की माने तो जिस होटल OYO नमस्ते से गगनदीप सिंह उर्फ रिंकु को जुआ खेलते रंगे हाथों पकड़ा गया है, उस होटल के मालिक एसजीएम नगर निवासी राकेश ने पुलिस को बताया कि लॉकडाउन होने के कारण उसके होटल के कमरे बुक नहीं हो रहे थे। इसलिए उसने रिंकू से कहा कि काम नहीं चल रहा है। इस पर रिंकू ने उससे कहा कि आप अपने कमरों में जुआ खिला सकते हो तो आपको कमरे के किराए के अच्छे पैसे मिलेंगे। इसी के चलते उसने रिंकु के कहने या कहिए सलाह पर ही उसने जुआरियों को कमरे देने शुरू किए थे। बकौल राकेश, रिंकु के कहने पर ही जुआरी उसके लोहा मंडी, नेहरू ग्राउंड एनआईटी एरिया स्थित ओयो होटल नमस्ते के कमरों में आकर जुआ खेलते थे।
बताया गया है कि गिरफ्तार आरोपी रिंकू सभी जुआरियों को इकट्ठा करके ओयो होटल में कमरा लेकर जुआ खिलाता है। रिंकू ने ही ओयो होटल मालिक से सभी जुआरियों को जुआ खेलने के लिए कमरा उपलब्ध करवाए थे। ओयो होटल मालिक जुआरियों को 1500 रूपये प्रति घंटे के हिसाब से कमरे किराए पर देता था और खुद भी जुआ खेलता था।
ध्यान रहे कि लॉकडाऊन के चलते होटल इंडस्ट्रीज का ध्ंाधा लगभग खत्म हो चुका है खासकर उन होटलों का जिन में कमरे/रूम बने हुए हैं। ओयो भी इससे अछूता नहीं हैं। शायद यही कारण है कि ओयो रूम में वेश्यावृति और जुए का धंधा आजकल तेजी से पनप रहा है। ऐसा ही एक खुलासा एनआईटीे की क्राईम ब्रांच पुलिस ने किया है जिसने नेहरू ग्राऊंड की लोहा मंडी में स्थित एक ओयो होटल नमस्ते में छापा मारकर वहां होटल मालिक सहित जुआ खेल रहे 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। क्राइम ब्रांच ने मौके से आरोपियों के कब्जे से 2,04,500 रुपए भी बरामद किए हैं।
पुलिस प्रवक्ता एसीपी धारणा यादव के मुताबिक क्राइम ब्रांच NIT को सूचना मिली थी कि लोहा मंडी, नेहरू ग्राउंड एनआईटी एरिया स्थित होटल ओयो नमस्ते में जुआ खेला जा रहा है जिसमें करीब 8 से 10 लोग शामिल हैं। सूचना के आधार पर क्राइम ब्रांच एनआईटी की टीम ने सब-इंस्पेक्टर अशोक कुमार की अगुवाई में ओयो होटल नमस्ते पर छापेमारी की। छापेमारी के दौरान होटल की तीसरी मंजिल के कमरा न.302 में से 8 आरोपी जुआ खेलते हुए गिरफ्तार किए गए। ये सभी जुआरी एनआईटी क्षेत्र के रहने वाले हैं। आरोपियों के खिलाफ थाना कोतवाली में जुआ अधिनियम 1867 (3) की धारा 13, 3 व 4 के तहत मुकदमा मुकदमा दर्ज किया गया है।
पकड़े गए जुआरियों व होटल मलिक के नाम-पते निम्नलिखित हैं।

  1. ललित पुत्र चरणदास निवासी मकान न.-2C/WH-20, एनआईटी फरीदाबाद।
  2. गुलशन भाटिया पुत्र देशराज निवासी मकान न.-5L/116,एनआईटी फरीदाबाद।
  3. विनोद पुत्र घनश्याम बजाज निवासी मकान न.-2C/WH-22, एनआईटी फरीदाबाद।
  4. विशाल भारती पुत्र राजेश कुमार निवासी मकान न.-2C/JK-137, एनआईटी फरीदाबाद।
  5. हरीश उर्फ हरिन्द्र पुत्र जयपाल निवासी E-22, डबुआ कालोनी, एनआईटी फरीदाबाद।
  6. मन्नी उर्फ मनीष पुत्र रामपाल निवासी मकान न.-2BK-43A, एनआईटी फरीदाबाद।
  7. रिंकू उर्फ गगनदीप सिंह पुत्र मोनी सिंह निवासी मकान न.-3J/8, फ्रंटियर कालोनी, एनआईटी फरीदाबाद।
  8. होटल मालिक राकेश निवासी एसजीएम नगर, एनआईटी फरीदाबाद।

पुलिस रिपोर्ट के मुताबिक पकड़े गए जुआरियों की तलाशी के दौरान ललित के दाहिने घुटने के नीचे से 27 हजार रूपये, गुलशन के दाहिने घुटने के नीचे से 5500/-रूपये, विनोद के बायेें घुटने के नीचे से 10 हजार रूपये, विशाल के दाहिने घुटने के नीचे से 6 हजार रूपये, हरिश के दाहिने घुटने के नीचे से दो हजार रूपये, मनीष के दाहिने घुटने के नीचे से 12 हजार रूपये तथा रिंकु उर्फ गगन के दाहिने घुटने के नीचे से 40 हजार रूपये जबकि पीड की तलाशी के दौरान एक लाख दो हजार रूपये बरामद किए गए यानि कुल 2 लाख, 4 हजार, 500 रूपये की बरामदगी की गई तथा मौके से ताश के 104 पत्तों को भी सबूत के तौर पर कब्जे में लिया गया।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *