BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

कालाबाजारी करने और लॉकडाउन के नियमों का पालन न करने वालों को पुलिस खिलाएगी जेल की हवा।

कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए फरीदाबाद पुलिस ने 164 मुकदमें दर्ज कर 221 लोगों को किया गिरफ्तार।
मैट्रो प्लस से नवीन गुप्ता की रिपोर्ट।
फरीदाबाद, 6 मई:
पुलिस आयुक्त ओपी सिंह ने लॉकडाउन के नियमों का पालन न करने और इस विकट परिस्थिति में कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।
पुलिस आयुक्त ने कहा कि कालाबाजारी करने वालों की अब खैर नहीं। पुलिस ऐसे मौकापरस्त लोगों को जेल की हवा खिलाएगी और साथ ही लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी।
उन्होंने बताया कि दिन-प्रतिदिन कोरोना का संक्रमण फैल रहा है परंतु लोग इसे गंभीरता से नहीं ले रहे इसलिए लॉकडाउन को सख्ती से लागू करवाने के लिए पुलिस को कड़े कदम उठाने पड़ रहे हैं।
उल्लंघनकर्ताओं के खिलाफ कार्रवाई करते हुए पुलिस ने 1 अप्रैल 2021 से अभी तक 164 मुकदमे दर्ज करके 221 लोगों को गिरफ्तार किया है जिसमें लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले 159 मुकदमों में 214 लोग धरे गए हैं वही कोरोना दवाओं की कालाबाजारी करने के 3 मुकदमों में 5 आरोपी व ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी के 2 मुकदमों में 2 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।
साथ ही पुलिस ने 1 अप्रैल 2021 से अभी तक 70,729 मास्क वितरित किए हैं और मास्क न पहनने वाले 31,500 लोगों का चालान काट कर 1 करोड़ 57 लाख 50 हजार रुपयों का जुर्माना लगाया है।
2,05,967 लोगों को कोरोना से बचने के उपायों के बारे में जागरूक किया गया है और साथ ही 39,113 कांटेक्ट ट्रेस किए गए हैं।
पुलिस आयुक्त ने कहा कि संक्रमण को रोकने के लिए पुलिस प्रशासन को नागरिकों के सहयोग की आवश्यकता है और उनको प्रशासन के सहयोग के लिए सिर्फ इतना करना है कि वह अपने घर पर अपने परिवार के साथ सुरक्षित रहें। यदि नागरिक लॉकडाउन के नियमों का पालन करके अपने घर पर रहते हैं तो इससे कोरोना की चैन टूट जाएगी और लोग संक्रमित होने से बच जाएंगे।
उन्होंने कहा कि इस समय अपने आप को जीवित रखना ही सबसे बड़ी जंग है और इस जंग को जीतने के लिए सबसे जरूरी है कि नागरिक लॉकडाउन नियमों का पालन करें और अपने परिवार के साथ सुरक्षित रहें।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *