BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

DAV स्कूल पर पेरेंट्स ने किया विरोध प्रदर्शन, जाने क्यों?

Metro Plus से Naveen Gupta की रिपोर्ट।
फ़रीदाबाद, 9 जून
: कोरोना महामारी के चलते स्कूल बंद होने के बाबजूद DAV 37 मैनेजमेंट द्वारा अभिभावकों से बढ़ाई गई ट्यूशन फीस, एनुअल चार्ज, एडमिशन फीस, डवलपमेंट फंड आदि मांगने से गुस्साए अभिभावकों ने बुधवार को स्कूल गेट के सामने विरोध प्रदर्शन किया। उनका कहना था कि स्कूल मैनेजमेंट ने सिर्फ बिना बढ़ाई गई ट्यूशन फीस लेने की मांग की। अभिभावक विजय सिंह, दिनेश वशिष्ठ, संजय यादव, प्रवीण, स्वरूप, गौरव शर्मा, शिव, ललित, स्वराज नागर और राजेश कुमार आदि का कहना था कि कोरोना महामारी के चलते काम-धंधे बंद होने के कारण अभिभावकों की आर्थिक स्थिति काफी खराब हो गई है। ऐसे में अब यह स्कूल फीस के मामले में मनमानी कर रहा है। स्कूल प्रबंधक अभिभावकों को नोटिस भेजकर व अपने अध्यापकों से मैसेज कराकर बढ़ाई गई ट्यूशन फीस, एनुअल चार्ज, एडमिशन फीस व अन्य फंडों में फीस जमा कराने का दबाव डाल रहा है। फीस जमा न कराने पर बच्चों की ऑनलाइन क्लास बंद करने व स्कूल से नाम काटने की धमकी दे रहा है। अभिभावकों का कहना है कि घरों में कई सदस्य कोरोना संक्रमित होने के कारण बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई भी ठीक प्रकार से नहीं चल रही है। केंद्र और राज्य सरकार 10वीं व 12वीं की परीक्षा रद्द कर स्टूडेंट्स को कोविड से बचाने का प्रयास कर रही है, वहीं ऐसे समय में स्कूल एस्ट्रा चार्ज के नाम पर अभिभावकों और स्टूडेंट्स के साथ नाइंसाफी कर रहा है। अभिभावक दिनेश वशिष्ठ ने कहा है कि स्कूल बंद हैं, स्कूल के खर्चे भी कम हैं उसके बावजूद स्कूल एनुअल चार्ज, डेवलपमेंट फंड्स आदि अन्य फंडों में नाजायज फीस मांग रहा है। कोरोना की इस दूसरी लहर में भी अभिभावकों के काम धंधे बंद होने के कारण घर के खर्चे भी ठीक से नहीं चल रहे हैं उसके बावजूद पेरेंट्स बिना बढ़ाएगी ट्यूशन फीस मासिक आधार पर देने को तैयार हैं लेकिन स्कूल इसको लेने को तैयार नहीं है। वह इसके साथ साथ अन्य फंडों में भी फीस मांग रहा है जोकि पूरी तरह से गैर-कानूनी है और न्यायसंगत नहीं है।
स्कूल की मनमानी फीस को लेकर अभिभावक आज प्रिंसिपल से मिलने के लिए आए थे लेकिन उन्होंने मिलने से इंकार कर दिया जिसके कारण मजबूरन अभिभावकों को स्कूल के गेट पर विरोध प्रदर्शन करना पड़ा। बाद में अभिभावक गेट पर अपना ज्ञापन व मांग पत्र गेटमैन को देकर चले गए।
अभिभावकों ने मंच के प्रदेश महासचिव कैलाश शर्मा से भी संपर्क किया। कैलाश शर्मा ने अभिभावकों से कहा है कि वे एकजुट और जागरूक होकर स्कूल की प्रत्येक मनमानी का पुरजोर तरीके से विरोध करें और बिना बढ़ाई गई ट्यूशन फीस ही मासिक आधार पर जमा कराएं। पेरेंट्स शुक्रवार को एक बड़ी बैठक आयोजित करके आगे की रणनीति बनाएंगे।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *