BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

टैक्स नहीं देने वालों की कोई सिफारिश नहीं करेगा, आय के साधन बढ़ाने पर फोकस करे नगर-निगम: कृष्णपाल

Metro Plus से Naveen Gupta की रिपोर्ट।
Faridabad News, 16 सितंबर:
केंद्रीय ऊर्जा एवं भारी उद्योग राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि फरीदाबाद देश के उन बड़े शहरों में शामिल है जहां जनसंख्या का धनत्व सबसे ज्यादा है। उन्होंने कहा कि बड़े शहर व ज्यादा जनसंख्या की समस्याएं भी उतनी ही ज्यादा हैं। ऐसे में नगर-निगम की जिम्मेदारी भी बहुत ज्यादा बढ़ जाती हैं। इन जिम्मेदारियों को पूरा करने के लिए हम सभी को मिलकर आत्मनिर्भर नगर-निगम बनाने के लिए संकल्प लेना होगा। इसमें सभी जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों को मिलकर कार्य करना होगा। केंद्रीय राज्यमंत्री लघु सचिवालय में आयोजित स्वच्छ फरीदाबाद मीट में सभी पार्षदों व नगर-निगम अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे।
इस मौके पर केंद्रीय ऊर्जा एवं भारी उद्योग राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने सभी का आह्वान करते हुए कहा कि सबसे पहले हमें नगर-निगम की आय को बढ़ाने का कार्य करना होगा। इतने बड़े शहर में प्रत्येक घर से हाउसटैक्स का ही कलेक्शन नहीं हो पा रहा है। इसके साथ ही आय के अन्य साधनों से भी पैसा नगर-निगम को नहीं आ पा रहा है। उन्होंने नगर-निगम आयुक्त को निर्देश देते हुए कहा कि प्रत्येक साधन से आय इका करें और जो लोग हाउस टैक्स नहीं देते हैं उनकी सिफारिश न करने का संकल्प भी लें। इस मौके पर केंद्रीय ऊर्जा एवं भारी उद्योग राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि शहर के लिए सीवरेज व जलभराव की समस्या से हम सभी जूझ रहे हैं। ऐसे में नगर-निगम इसके लिए उचित कदम उठाए। शहर के लिए जो सीवरेज सिस्टम तैयार किया गया है उसकी सफाई के लिए अधिकारियों की जिम्मेदारी तय करें। उन्होंने कहा कि शहर में कूड़े का बेहतर ढंग से कलेक्शन हो। खत्तों को पूरी तरह से खत्म किया जाए और प्रत्येक घर से कूड़ा का कलेक्शन हो। उन्होंने कहा कि कई स्थानों पर यह देखने को मिला है कि जिन लोगों ने एसटीपी प्लांट लगाए हैं वह भी उन्हें चालू नहीं करते। ऐसे में उन पर जिम्मेदारी तय की जाए। उन्होंने कहा कि हम सभी को बेहतर ढंग से शुरूआत करनी है। मीटिंग को संबोधित करते हुए परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि हमें कूड़े की समस्या को जड़ से समाप्त करना होगा। उन्होंने कहा कि कुछ लोग पीने के पानी को पशुओं को नहलाने में प्रयोग करते हैं और उसे वेस्ट करते हैं। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही कूड़े के कलेक्शन के लिए हमने बड़े संसाधन तो जुटा लिए लेकिन उनका सही ढंग से प्रयोग नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि हमें बेहतर ढंग से टैक्स का कलेशन करना होगा और नगर-निगम के आय के संशाधनों को मजबूत करना होगा। उन्होंने हाउसटेक्स, पानी, सीवरेज के लिए प्रत्येक हाउसहोल्ड का सर्वे कर उसकी पूरी वसूली करने की बात रखी। उन्होंने विभिन्न सोसायटियों को एसटीपी प्लांट बेहतर ढंग से चालू करने व कचरे के उचित प्रबंधन के लिए व्यवस्था करने की बात भी रखी। मीटिंग में बडख़ल की विधायक सीमा त्रिखा व फरीदाबाद के विधायक नरेंद्र गुप्ता ने भी शहर में स्वस्च्छता को लेकर अपने सुझाव मीटिंग में दिए। नगर-निगम आयुक्त यशपाल ने शहर को स्वच्छ करने के लिए एक कार्ययोजना मीटिंग में प्रस्तुत की। इस कार्ययोजना में उन्होंने शहर में स्वच्छता के आड़े आ रही दिक्कतों के बारे में बताते हुए एक विकेंद्रीयकृत मॉडल मीटिंग में प्रस्तुत किया। जिसके अंदर वार्ड वाईज टीमें काउंसलर की अध्यक्षता में बनाई जा चुकी हैं। यह टीमें नगर-निगम व नागरिकों के बीच बेहतर तालमेल के साथ कार्य करने में सहायक होंगी। इस मॉडल के तहत शहर में कूड़ा इका करने वाले वेंडरों, इको ग्रीन, एनजीओ, सीएसआर पार्टनर, नोडल ऑफिसर, वार्ड कमेटी व एमसीएफ के अधिकारियों के रोल व जिम्मेदारी रहेंगी उनके बारे में विस्तार से जानकारी दी। इसके साथ-साथ सभी नागरिकों तक पहुंचने के लिए 360 डिग्री आईईसी प्लान भी मीटिंग में प्रस्तुत किया गया। इसके तहत सभी स्ट्रीट वेंडर, कार्मिशयल स्थापनाएं, हाउसहोल्ड को अपना कूड़ा अलग-अलग करना व दो डस्टबिन रखना आईईसी योजना के पहले चरण में लागू किया जाएगा। इसके तहत विशेष जागरूकता अभियान चलेगा। अगले चरणों में सिंगल यूज प्लास्टिक के बैन, डिफेसमेंट व अतिक्रमण हटाने के लिए अभियान चलाया जाएगा। इसके लिए एक स्पेशल इंफोसमेंट टीमों का गठन भी वार्ड स्तर पर किया गया है। इसकी निगरानी वार्ड स्तर पर पार्षद व जोन स्तर ज्वांइट कमिशनर इन टीमों की अगुवाई करेंगी। इसके साथ ही नगर-निगम का सभी आय हाउसटेक्स, नक्शे पास, सीवरेज, पानी व अन्य टैक्स के लिए एक कामन रजिस्टर लागू करने की योजना भी प्रस्तुत की गई जिसे जल्द ही लागू कर दिया जाएगा।
इस अवसर पर इस अभियान को गति प्रदानन करने के लिए निगम का सोशल मीडिया पेज भी लांच किया गया। इसके साथ-साथ विद्यार्थियों व अध्यापकों को इस अभियान से जोड़ऩे के लिए एंबेस्डर ऑफ प्लास्टिक फ्री फरीदाबाद कांटेस्ट की शुरूआत भी की।
इस अवसर पर नगर-निगम की मेयर सुमन बाला, सीनियर डिप्टी मेयर देवेंद्र चौधरी, डिप्टी मेयर मनमोहन गर्ग, नगर-निगम के एडिशनल कमिश्नर वैशाली शर्मा, अभिषेक मीणा, संयुक्त कमिश्नर अलका चौधरी, डॉ० नरेश कुमार, गौरव आंतिम, अनिल कुमार यादव, एएमसी इंद्रजीत कुलडिया, प्रोजेक्ट हैड अतुल सहगल मौजूद थे।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *