BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

सरकारी स्कूलों के अच्छे रिजल्ट के लिए देखो DC यशपाल ने क्या किया!

Metro Plus से Naveen Gupta की रिपोर्ट।
फरीदाबाद, 25 अगस्त:
जिला उपायुक्त यशपाल यादव के मार्गदर्शन में शिक्षित हरियाणा प्रोजेक्ट के माध्यम से जिले के राजकीय स्कूलों के विद्यार्थियों को उच्च गुणवता का स्टडी मैटेरियल, स्मार्ट क्लास रूम सहित अन्य जरूरी सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा रही हैं। शिक्षित हरियाणा प्रोजेक्ट के तहत योग्य अध्यापकों द्वारा तैयार उच्च गुणवता के पाठ्यक्रम से संबंधित विडियो तैयार कर बच्चों को उपलब्ध करवाई जा रही है। इससे बच्चे ऑनलाइन भी शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं।
शिक्षित हरियाणा प्रोजेक्ट के तहत सोमवार को जिला प्रशासन व NHPC के बीच शिक्षित हरियाणा परियोजना के तहत शिक्षा के लिए किए जा रहे बेहतर प्रयासों के लिए एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए। यह कार्यक्रम उपायुक्त यशपाल, नगराधीश व जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी राकेश मोर, महाप्रबंधक सीएसआर, NHPC आर.के. अग्रवाल व Dy. GM आर.पी. सिंह तथा शिक्षित हरियाणा प्रोजेक्ट हेड अतुल सहगल की उपस्थिति में संपन्न हुआ। समझौता ज्ञापन के तहत राजकीय स्कूलों में शिक्षा का बेेहतर इंस्फ्रास्टचर तैयार करने के लिए NHPC की ओर से 12 लाख रूपए की राशि खर्च की जाएगी। इस समझौता ज्ञापन के तहत, एनएचपीसी SCERT की मदद से हरियाणा के अन्य जिलों में इस पहल के तहत किए गए प्रयासों को सफल बनाने में मदद करेगा।
इस अवसर पर उपायुक्त यशपाल ने कहा कि शिक्षित हरियाणा प्रोजेक्ट के तहत जिले में गुणवतापरक शिक्षा के लिए कार्य किया जा रहा है। सरकारी स्कलों में बच्चों के लिए स्मार्ट क्लाम रूम तैयार किए जा रहे हैं तथा अनुभवी शिक्षकों की ओर से बच्चों के विषयों के अनुसार विडियो व्याख्यान तैयार किए जा रहे हैं। बच्चों के लिए तैयार ये विडियो व्याख्यान रूचिकर व स्पष्ट व सरल भाषा में तैयार किए जा रहे हैं, जिनका बच्चों को लाभ भी मिल रहा है।
शिक्षित हरियाणा प्रोजेक्ट हेड अतुल सहगल ने उपायुक्त यशपाल के मार्गदर्शन में शिक्षित हरियाणा प्रोजेक्ट को शुरू किया गया था। जिसका परिणाम यह रहा कि इस बार हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड की 10वीं कक्षा का परीक्षा परिणाम पिछले वर्षों का परीक्षा परिणाम 37 प्रतिशत से बढ़कर इस बार 59.68 प्रतिशत रहा।
वहीं अतुल सहगल ने बताया कि शिक्षित हरियाणा प्रोजेक्ट के तहत सरकारी स्कूलों के अनुभवी अध्यापकों की मेहनत व तकनीक की मदद से बच्चों के लिए बेहतरीन स्टडी मैटेरियल तैयार किया गया। उन्होंने बताया कि इस प्रोजेक्ट के तहत सरकारी स्कूलों के बच्चों को ऑनलाइन स्टडी मैटेरियल उपलब्ध करवाया जा रहा है। बच्चों के डाउट ऑनलाइन दूर करने व उनकी परर्फोमेंस का मूल्यांकन भी ऑनलाइन ही किया जा रहा है।
उन्होंने बताया कि इस परियोजना को अगस्त 2019 में पायलट रूप से शुरू किया गया था, जहां फरीदाबाद के सरकारी स्कूलों के 40 स्टार शिक्षकों की पहचान कर उन्हें प्रशिक्षित किया गया। इन अध्यापकों की ओर से कक्षा 10वी के पाठ्यक्रम के अनुसार विज्ञान, गणित, अंग्रेजी, और सामाजिक विज्ञान से संबंधित 600 से अधिक विडियो व्याख्यान तैयार कर बच्चों को उपलब्ध करवाए गए। इन व्याख्यानों का उपयोग फरीदाबाद के सभी 94 सरकारी वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों में स्मार्ट क्लास, एजुसेट तथा कक्षा अनुसार 400़ से अधिक व्हाट्सएप ग्रुपों के माध्यम से और शिक्षित हरियाणा यूट्यूब चैनल से भी बच्चों को विडियो व्याख्यान उपलब्ध कराए गए।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *