BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

हर एक शाम गणपति के नाम में देखिए धनेश अदलखा ने क्या किया!

Metro Plus से Naveen Gupta की रिपोर्ट

Faridabad News, 7 सितम्बर: भाजपा सरकार में हरियाणा फार्मेस्टिट कॉंसिल के चेयरमैन एवं बडख़ल विधानसभा क्षेत्र से टिकट के प्रबल दावेदार धनेश अदलखा ने जैसे ही माता के गीतों को गाते हुए उन पर थिरकना शुरू किया वैसे पूरा माहौल भक्तिमय हो गया। बच्चा हो बूढ़ा, जवान हो या महिलाएं सभी माता के गीतों में रंगते हुए थिरकने को मजबूर हो गईं। मौका था एनआईटी फरीदाबाद के एन.एच.-5डी ब्लॉक में आयोजित दूसरे गणेश चतुर्थी महोत्सव का। एन.एच.-5डी ब्लॉक के लोगों द्वारा बड़े ही धूमधाम से मनाए गए इस गणेश चतुर्थी महोत्सव में पवन अरोड़ा एंड पार्टी द्वारा जहां माता के एक से एक मनमोहक भजन गाकर लोगों को भाव-विभोर कर दिया गश वहीं सुंदर-सुंदर झाकियों ने एक अलग ही छटा बिखरने का कार्य किया।
काबिलेगौर रहे कि एन.एच.-5डी ब्लॉक के निवासियों द्वारा पिछले साल से यहां गणेश चतुर्थी महोत्सव का आयोजन शुरू किया गया है। हर एक शाम गणपति बाबा के नाम को चरितार्थ करते हुए इस गणेश मूर्ति स्थापना समारोह के पहले दिन 2 सितम्बर को गणेशजी की मूर्ति पूजा-अर्चना के साथ स्थापित की गई। समारोह के दूसरे दिन 3 सितम्बर को महिला कीर्तन द्वारा धूम मचाई गई। समयानुसार पूजन, आरती व प्रसाद वितरण भी हुआ। 4 सितम्बर को नि:शुल्क मेडिकल कैंप लगाया गया जिसमें डी ब्लॉक के सभी निवासियों ने आकर अपना नि:शुल्क बी.पी, शुगर, आदि जैसी बीमारियों की जांच करवाई। शुक्रवार, 6 सितम्बर को माता की चौकी का आयोजन पवन अरोड़ा द्वारा माता की सुंदर-सुंदर भेंट व सुंदर झांकियों का आगमन से किया गया जिसमें भाजपा सरकार में हरियाणा फार्मेस्टिट कॉंसिल के चेयरमैन एवं बडख़ल विधानसभा क्षेत्र से टिकट के प्रबल दावेदार धनेश अदलखा ने मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत की।
इस गणेश मूर्ति स्थापना समारोह के अंतिम दिन रविवार, 8 सितम्बर को गणेश जी की मूर्ति का विधिवत् विसर्जन किया जाएगा। और उसके बाद दोपहर गणपति भक्तों के लिए भंडारा होगा। NH-5D ब्लॉक के सरदार हरविन्द्र सिंह, जयप्रकाश शर्मा, विशम्बर नाथ, सुशांत शर्मा, शिवकुमार, गुलशन विजय गांधी आदि स्थानीय लोगों ने इस गणेश चतुर्थी महोत्सव के आयोजन में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
ध्यान रहे कि गणेश चतुर्थी के त्यौहार के आने से कई दिन पहले से ही बाजारों में इसकी रौनक दिखने लगती है। यह पर्व हिन्दू धर्म का अत्यधिक मुख्य तथा बहुत प्रसिद्ध पर्व है। इसे हर साल अगस्त या सितंबर के महीने में बड़े ही उत्साह के साथ मनाया जाता है। यह भगवान गणेश के जन्म दिवस के रूप में मनाया जाता है। जो माता पार्वती और भगवान शिव के पुत्र है। ये बुद्धि और समृद्धि के भगवान है इसलिए इन दोनों को पाने के लिए लोग इनकी पूजा करते है।
कार्यक्रम के आयोजकों ने सभी लोगों से अपील की है कि वो ज्यादा से ज्यादा संख्या में गणपति जी की मूर्ति विसर्जन समारोह में हिस्सा लें।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *