BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

आयुर्वेद के डॉक्टरों को सर्जरी करने की अनुमति देने पर IMA ने की क्रमिक भूख हड़ताल शुरू।

मैट्रो प्लस से नवीन गुप्ता की रिपोर्ट।
फरीदाबाद, 5 फरवरी:
नेशनल IMA और स्टेट IMA के आदेश का पालन करते हुए IMA फरीदाबाद ने आज क्रमिक भूख हड़ताल का आयोजन किया। इसमें डॉ. पुनीता हसीजा, डॉ. सुरेश अरोड़ा, डॉ. एमसी गुप्ता, डा. शिप्रा गुप्ता, डॉ. दिनेश गुप्ता, डॉ. अश्विनी वधावन, डॉ. कामना बक्शी, डॉ. राजीव जैन, डॉ. वंदना उप्पल, डा. ललित हसीजा ने भूख हड़ताल करके भाग लिया।
इस कार्यक्रम का आयोजन बीके चौक पर डॉ. भारती गुप्ता के क्लीनिक के सामने किया गया।
डॉ. सुरेश अरोड़ा और डॉ. पुनीता हसीजा ने बताया कि नवंबर में भारत सरकार की ओर से एक नीति बनाई गई जिसके तहत आयुर्वेद के डॉक्टरों को विभिन्न प्रकार की सर्जरी करने की अनुमति दी गई ।IMA का मानना है कि इस नीति के तहत आयुर्वेद के डॉक्टर आम जनता के साथ सही तरीके से न्याय नहीं कर पाएंगे, क्योंकि 2 साल की ट्रेनिंग में ही 57 तरह की सर्जरी को सीख लेना हमारे हिसाब से तर्कसंगत नहीं है। इसमें जनरल सर्जरी, आर्थो Surgery, डेंटल, gyne, आंख आदि सभी प्रकार की सर्जरी को शामिल किया गया हैं, जो कि बिल्कुल भी सही नहीं है।
हम यह चाहते हैं कि सरकार को यह पॉलिसी वापस लेनी चाहिए अन्यथा इससे आम जनता को और आने वाली पीढ़ियों के डॉक्टरों को नुकसान होने की संभावना है।
उन्होंने यह भी बताया कि इस तरह की सर्जरी करने के लिए एलोपैथी तरीके की बेहोशी करने के भी व्यवस्था करने की समस्या रहेगी और विभिन्न प्रकार की एलोपैथिक दवाइयों का इंतजाम करने की भी समस्या रहेगी। इन सभी पहलुओं को मध्य नजर रखते हुए ऐसा समझा जा रहा है कि यह नीति आम जनता के लिए बहुत ही नुकसानदायक होने वाली है।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *