BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

रोटरी फाऊंडेशन के मिलियन डॉलर फंड रेजर डिनर में इतिहास रचा गया: रोटेरिंयस ने 25 लाख डॉलर की कमेंटमेंट्स की

रोटरी क्लब ऑफ मिड टाऊन के सतीश गोंसाई, रोटरी क्लब ऑफ रोहतक के रविन्द्र गुगनानी, रोटरी क्लब ऑफ देहली साऊथ सैंट्रल के राजीव तुलसहान सहित चार रोटेरियंस बने अर्क कलम्प सोसायटी (एकेएस) के सदस्य
मैट्रो प्लस से नवीन गुप्ता की रिपोर्ट
नई दिल्ली/फरीदाबाद, 1 अक्टूबर: ऐसा पहली बार हुआ है हमें विनय से प्यार हुआ है। ऐसा ही कुछ देखने व महसूस करने को मिला रोटरी डिस्ट्रिक-3011 के गवर्नर विनय भाटिया द्वारा रोटरी फाऊंडेशन के लिए आयोजित मिलियन डॉलर फंड रेजर डिनर में। इस कार्यक्रम में रोटेरियंस ने डिस्ट्रिक गवर्नर विनय भाटिया के प्रति अपनी दरियादिली दिखाते हुए रोटरी फाऊंडेशन के लिए लाखों डॉलर की बरसात कर दी। फंड रेजिंग के लिए आयोजित इस ब्लैक टाई डिनर में रोटरी डिस्ट्रिक-3011 के रोटेरियंस ने दिल खोलकर रोटरी फाऊंडेशन के लिए दान करने की घोषणा की। परिणामस्वरूप इस कार्यक्रम में पिछले सारे रिकार्ड तोड़ते हुए जहां रोटेरियंस द्वारा जहां 25 लाख डॉलर की कमेंटमेंट्स की गई वहीं पहली बार 4 रोटेरियंस ने एक साथ अर्क कलम्प सोसायटी (AKS) का सदस्य बनने की कमेंटमेंट्स की। इस ब्लैक टाई डिनर में जिन रोटेरियंस ने एकेएस बनने की कमेंटमेंट की उनमें रोटरी क्लब ऑफ मिड टाऊन के सक्रिय सदस्य एवं पूर्व प्रधान सतीश गोंसाई, रोटरी क्लब ऑफ रोहतक के पूर्व प्रधान रविन्द्र गुगनानी, रोटरी क्लब ऑफ देहली साऊथ सैंट्रल के क्लब ट्रेनर राजीव तुलसहान सहित चार रोटेरियंस के नाम शामिल हैं। अगर हम रोटरी फाऊंडेशन के आंकड़ों को देखते हुए रोटरी डिस्ट्रिक-3011 तथा पूर्व के रोटरी डिस्ट्रिक-3010 की बात करें तो अब तक डीजी विनय भाटिया के इस रिकार्ड के आसपास तक भी कोई डिस्ट्रिक गवर्नर नहीं पहुंच पाया है।
काबिलेगौर रहे कि डिस्ट्रिक गवर्नर विनय भाटिया के होम टाऊन फरीदाबाद से एकेएस बनने वाले सतीश गोंसाई फरीदाबाद शहर में वो शख्सियत हैं जो आज किसी नाम व पहचान की मोहताज नहीं है। चाहे वह समाजसेवा का क्षेत्र हो, उद्योग का क्षेत्र हो, धार्मिक क्षेत्र हो या फिर रोटरी। ऐसा कोई क्षेत्र नहीं हैं जहां सतीश गोंसाई की कार्यशैली का डंका ना बजता हो। रोटरी में रहते हुए उन्होंने रोटरी फाऊंडेशन के लिए काम करते हुए अब तक जो दान दिया है उससे उनके सहित फरीदाबाद जिले का नाम रोटरी इंटरनेशनल में एक अलग ही छाप छोड़ गया है। रोटरी क्लब ऑफ फरीदाबाद मिड टाऊन के सक्रिय सदस्य एवं पूर्व प्रधान सतीश गोंसाई सहित रोटरी क्लब ऑफ रोहतक के पूर्व प्रधान रविन्द्र गुगनानी, रोटरी क्लब ऑफ देहली साऊथ सैंट्रल के क्लब ट्रेनर राजीव तुलसहान आदि चारों का नाम अब अंतराष्ट्रीय स्तर पर रोटरी इंटरनेशनल के उन गिने-चुने रोटेरियंस में शुमार हो गया है जिनकी फोटो फ्रेम में जड़कर रोटरी इंटरनेशनल के मुख्यालय तथा साऊथ एशिया के दिल्ली स्थित रीजनल ऑफिस में लगेगी और ये चारों हर वर्ष रोटरी इंटरनेशनल प्रेजिडेंट (आरआईपी) के साथ डिनर भी करेंगे।
काबिलेगौर रहे कि समय-समय पर रोटरी फाऊंडेशन में दान देते हुए सतीश गोंसाई ने मेजर डोनर लेवल-2 से सीधे ही अब 2.5 लाख डॉलर रोटरी फाऊंडेशन में देनी की कमेंटमेंट्स करके अर्क कलम्प सोसायटी (AKS) के सदस्य होने का खिताब ले लिया है। ऐसा नही है कि AKS बनने के लिए ये 2.5 लाख डॉलर रोटेरियन को एक साथ देने पड़ते हैँ बल्कि इन्हें देने या कहिए पूरा करने की कमेंटमेंट उन्हें तीन साल के अंदर पूरी करनी करनी होती है।
फरीदाबाद शहर के लिए भी ये एक गौरव की बात है कि रोटरी वर्ष 2017-18 में AKS बने रोटेरियन नवदीप चावला के बाद सतीश गोंसाई फरीदाबाद शहर के ऐसे दूसरे रोटेरियंस हैं जोकि 2.5 लाख डॉलर की कमेंटमेंट के साथ इस रोटरी वर्ष 2018-19 में अर्क क्लम्प सोसायटी (AKS) के सदस्य बने हैं। हालांकि शहर के ही मुकेश अग्रवाल भी पिछले रोटरी वर्ष 2017-18 में रोटरी इंटरनेशनल की इस अर्क क्लम्प सोसायटी के सदस्य बने चुके है फर्क सिर्फ इतना है कि वो दिल्ली के रोटरी क्लब ऑफ देहली साऊथ सैंट्रल से जुड़े हुए है और पूर्व प्रधान हैं लेकिन उनका निवास और कार्य स्थल फरीदाबाद में ही है।
गौरतलब रहे कि रोटरी डिस्ट्रिक-3011 से सबसे पहले 31 जुलाई, 2013 को रोटरी क्लब ऑफ देहली राजधानी के रोटेरियन विनोद बंसल (हाल में डिस्ट्रिक ट्रेनर) रोटरी वर्ष 2013-14 में अर्क क्लम्प सोसायटी (AKS) के पहले सदस्य बने थे। उस समय विनोद बंसल रोटरी डिस्ट्रिक-3010 (अब 3011) के गवर्नर थे। इसके बाद रोटरी क्लब ऑफ देहली राजधानी के ही रोटेरियन राजेश गुप्ता 22 जून, 2014 को तथा रोटरी क्लब ऑफ देहली मिड वेस्ट से पीआरआईडी एवं टीआरएफ ट्रस्टी सुशील गुप्ता (अब रोटरी इंटरनेशनल प्रेजिडेंट नॉमिनी) 30 जून, 2014 को विनोद बंसल के गवर्नरकाल में ही अर्क क्लम्प सोसायटी (AKS) के सदस्य बने थे। यानि विनोद बंसल के गवर्नरकाल में उन सहित तीन रोटेरियंस AKS बने थे।
इनके बाद रोटरी वर्ष 2016-17 में डॉ० सुब्रह के कार्यकाल में पीडीजी सुरेश जैन रोटरी क्लब ऑफ देहली साऊथ ईस्ट से तथा नवदीप चावला रोटरी क्लब ऑफ फरीदाबाद सैंट्रल से 13 जनवरी, 2017 को अर्क क्लम्प सोसायटी (AKS) के दो सदस्य बने। जबकि रोटरी क्लब ऑफ देहली साऊथ सैंट्रल के मुकेश अग्रवाल रोटरी वर्ष 2017-18 में डीजी रवि चौधरी के कार्यकाल में एकमात्र AKS बने।
अब नंबर आता है वर्तमान में चल रहे रोटरी वर्ष 2018-19 का जिसमें डिस्ट्रिक गवर्नर हैं विनय भाटिया, जोकि पेशे से चार्टड एकाऊंटेंट हैं। इनके रोटरी वर्ष में रोटरी क्लब ऑफ मिड टाऊन के सक्रिय सदस्य एवं पूर्व प्रधान सतीश गोंसाई, रोटरी क्लब ऑफ रोहतक के रविन्द्र गुगनानी, रोटरी क्लब ऑफ देहली साऊथ सैंट्रल के क्लब ट्रेनर राजीव तुलसहान सहित चार रोटेरियंस एकेएस बने हैं। वहीं 25 अगस्त, 2018 को नई दिल्ली के फाईव स्टार होटल संगरीला में रोटरी वर्ष 2018-19 के डिस्ट्रिक गवर्नर विनय भाटिया द्वारा आयोजित ब्लैक टाई डिनर में 25 लाख डॉलर की Commitments के साथ विनय भाटिया ने पिछले सारे रिकार्ड ही तोड़ डाले हैं। ऐसा करके वास्तव में विनय भाटिया ने जहां एक करिश्मा कर मिसाल कायम कर दी है वहीं इसे आने वाले डिस्ट्रिक गवर्नरों के लिए एक चुनौती के रूप में भी देखा जा रहा है।

जानिए रोटरी फाऊंडेशन में कितने डॉलर पर मिलती हैं कौन-कौन सी उपाधियां :-
पॉल हेरिस फैलो यानि पीएचएफ (1 हजार डॉलर)
मेजर डोनर लेवल-1   (10 हजार से 24,999.99 डॉलर पर)
मेजर डोनर लेवल-2   (25 हजार से 49,999.99 डॉलर पर)
मेजर डोनर लेवल-3   (50 हजार से 99,999.99 डॉलर पर)
मेजर डोनर लेवल-4   (एक लाख से 249,999.99 डॉलर पर)
मेंबर,अर्क क्लम्प सोसायटी AKS (2.5 लाख डॉलर पर)
ट्रस्टी सर्कल (2.5 लाख से 4,99,999.99 डॉलर पर)
चेयर्स सर्कल (5 लाख से 9,99,999.99 डॉलर पर)
फाऊंउेशन सर्कल (10 लाख और इससे ज्यादा)




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *