BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

कांग्रेसी MLA नीरज शर्मा की छाती पर चले हथौड़े, जानें कैसे?

कांग्रेसी विधायक नीरज शर्मा को दिखाई भाजपा पार्षद सुरेन्द्र अग्रवाल ने उनकी औकात, जानें कैसे?
कांग्रेसी विधायक नीरज शर्मा पर भारी पड़े भाजपा पार्षद सुरेन्द्र अग्रवाल!
मैट्रो प्लस से नवीन गुप्ता की खास रिपोर्ट
फरीदाबाद, 2 जुलाई
: आखिरकार भाजपा पार्षद सुरेन्द्र अग्रवाल ने कांग्रेसी विधायक नीरज शर्मा को पटखनी देते हुए विधायक द्वारा अपने घर के बाहर गली पर किए गए अवैध कब्जे पर नगर निगम का हथौड़ा चलवाकर उनको उनकी औकात दिखा ही दी। और ये सब हुआ पार्षदों की एकजुटता के कारण जिनकी एकता के सामने झुकते हुए निगमायुक्त डॉ. गरिमा मित्तल को कांग्रेसी विधायक नीरज शर्मा द्वारा किए गए अवैध कब्जे पर तोडफ़ोड़ की कार्यवाही करवानी ही पड़ी। और इस तोडफ़ोड़ की कार्यवाही को अंजाम दिया एसडीओ जीतराम और जेई सुमेर सिंह ने।
ध्यान रहे कि कल तक जिस शर्मा परिवार की नगर निगम में तूती बोलती थी, आज उसी नगर निगम ने शर्मा परिवार द्वारा मेन रोड़ और गली के बीच दीवार खड़ी कर किए गए अवैध कब्जे को धाराशायी कर दिया।
बता दें कि कल तक अपनी एनआईटी से अलग दूसरी विधानसभाओं के अवैध निर्माणों/कब्जों और अतिक्रमण चाहे वह ड्यूरेबल फैक्ट्री में अवैध रूप से सब-डिवीजन कर किए गए अवैध निर्माण का मामला हो चाहे बाईपास रोड़ सैक्टर-9 पर मुंबई-वड़ोदरा एक्सप्रेस-वे के बीचोंबीच आ रहे अवैध निर्माणों का मामला हो, इनका मुद्दा विधानसभा में उठाकर नीरज शर्मा ने वाह-चाही लूटने की कोशिश की।
इन अवैध निर्माणों पर कार्यवाही चाहे नहीं हुई, लेकिन आज उनके स्वयं के द्वारा गली बंद कर किए गए अवैध कब्जे पर निगम पार्षद सुरेन्द्र अग्रवाल ने हथौड़ा चलवाकर कांग्रेसी विधायक नीरज शर्मा को उनकी औकात दिखाने का काम किया है। यह मामला पूरे फरीदाबाद जिले में चर्चा का विषय बना हुआ है।
ध्यान रहे कि पिछले कुछ दिनों से कांग्रेसी विधायक नीरज शर्मा और भाजपा पार्षद सुरेन्द्र अग्रवाल के बीच जमकर तनातनी चल रही है। विधायक नीरज शर्मा ने गत् दिनों भाजपा पार्षद सुरेन्द्र अग्रवाल और निगम के जेई राहुल तेवतिया को पर्वतीय कालोनी के अग्रवाल बुस्टर पर रात के समय उस समय बंधक बनाकर एक कमरे में बंद कर दिया था जहां सुरेन्द्र अग्रवाल और राहुल तेवतिया अपने कर्मचारियों के साथ बैठे हुए थे। विधायक नीरज शर्मा का आरोप था कि ये लोग वहां सरकारी जगह पर गैर-कानूनी रूप से एसी रूम में बैटकर शराब पी रहे थे, जबकि सुरेन्द्र अग्रवाल को आरोप था कि वो वहां पानी की समस्या को लेकर आए थे लेकिन नीरज शर्मा ने जिन्होंने खुद शराब पी हुई थी और अपना मेडिकल करवाने से भी मनाकर दिया था।
कुल मिलकर कांग्रेसी विधायक नीरज शर्मा और भाजपा पार्षद सुरेन्द्र अग्रवाल के बीच चली रही वर्चस्व की लड़ाई में फिलहाल नीरज शर्मा के पटखनी के बाद अब देखना यह है कि कांग्रेसी विधायक नीरज शर्मा अब इस मामले में अपनी क्या रणनीति अपनाते हैं।

क्या कहते हैं नीरज शर्मा के भाई मुनेश पंडित ? :-
वहीं इस मामले में विधायक नीरज शर्मा के भाई मुनेश पंडित का कहना है है कि जहां तोडफ़ोड़ की गई है, वह घर तो उनका है, नीरज शर्मा तो अलग घर में रहते हैं। वहीं मुनेश पंडित का सह भी कहना है कि
यह शिकायत की थी पार्षदों ने। क्या आपने पूर्व मंत्री जी के घर के बाहर कभी कोई दीवार देखी थी सिर्फ बारिश का पानी घर के अंदर न आ जाये इसलिए दोनों साइड डेढ़ फुट ऊंचा था क्योंकि मकान नीचा हो गया है।
इस मामले में मुनेश पंडित ने अपना पक्ष रखने के लिए कल सुबह पूर्व मंत्री के जवाहर कालोनी स्थित निवास पर पत्रकारों को बुलाया है।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *