BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

ड्रेनेज से जहरीली गैस की निकासी ना होने से रैंप फटा, बड़ी दुर्घटना होते-होते बची।

मैट्रो प्लस की नवीन गुप्ता की रिपोर्ट।
बल्लबगढ़, 27 मई:
चावला कॉलोनी के मस्ताना चौक पर उस समय एक बड़ा हादसा होते-होते बच गया जब चौक के बीचोंबीच बने पत्थर के स्लैब के परखच्चे उड़ गए। इसके फटने का कारण चौक पर बने ड्रेनेज/सीवरेज सिस्टम व नालों में गैस का भर जाना और उस गैस की निकासी का रास्ता बंद हो जाना बताया जा रहा है। चौक पर ही स्थित जगदम्बा इलेक्ट्रिकल स्टोर के मालिक रामअवतार गुप्ता के मुताबिक ये घटना कल मंगलवार शाम करीब 5-6 बजे की है। उन्होंने भी स्लैब के फटने का कारण ड्रेनेज/सीवरेज सिस्टम में गैस भरना बताया। बताया जा रहा है कि मस्ताना चौक पर ही स्थित चंद दुकानों का गंदा बदबूदार पानी दुकानदारों द्वारा इन नालों में छोड़ दिया जाता है जिसमें कि वहां धीरे-धीरे जमाकर होकर जहरीली गैस बन गई जिसके कारण यह विस्फोट हुआ। स्थानीय दुकानदारों और ऋषि नगर के लोगों का कहना है कि निगम के सफाई कर्मचारी यहां नालों और नालियों की सफाई नहीं करते जोकि इस घटना का एक कारण है।
ध्यान रहे कि बल्लभगढ़ के पॉश एरिया कहे जाने वाले ऋषि नगर की 12 गलियों की नालियों का गंदा पानी मस्ताना चौक पर बनी दोनों तरफ की नालियों के द्वारा 40 फुट रोड़ पर बने नालों से होता हुआ तिगांव रोड़ पर बने डिस्पोजल तक जाता रहा है। लेकिन पिछले काफी समय से चूंकि मस्ताना चौक से लेकर 100 फुट रोड़ होते हुए तिगांव रोड तक जा रहे इस नाले पर दुकानदारों ने अतिक्रमण कर रखा है वहीं कई दुकानदारों ने तो नालों को ही मिट्टी आदि भरकर बन्द कर रखा है।
वहीं मस्ताना चौक पर भी यही हाल है जहां दुकानदारों ने सीवर के ढक्कनों के ऊपर ही सामान रखकर अतिक्रमण कर रखा है जिसके चलते यहां से सीवरेज गैस की निकासी नहीं हो पाती। जिसके चलते इन नालियों-नालों का पानी ओवरफ्लो होकर घरों में ही घुस जाता है। यहां तक कि ऋषि नगर के घरों में सीवरेज का पानी उनकी पानी की लाइन में ही आ जाता है।
इसी का परिणाम निकला कि कल भयानक तरीके से ऋषि नगर और मस्ताना चौक की नालियों को जोडऩे वाले ड्रेनेज में गैस भर जाने के कारण चौक पर बनी पत्थर की स्लैब के परखच्चे उड़ गए। बाद में चौक पर फटे हुए स्लैब के ऊपर काउन्टर आदि रखकर उसको अस्थायी तौर पर चौक पर आवाजाही बन्द की गई ताकि कोई दुर्घटना ना हो सके। इससे पहले स्लैब फटने के बाद लोगों को वहां से अपनी गाडिय़ां निकालने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा था।
काबिलेगौर रहे कि रिहायशी कॉलोनी ऋषि नगर में काफी साल पहले जब रेजिडेंशल वेलफेयर एसोसिएशन यानि RWA होती थी तो उस समय ऋषि नगर की उक्त समस्या को उठाया गया था लेकिन उस समय नगर निगम प्रशासन द्वारा आधी-अधूरी कार्यवाही की गई थी। उसके बाद करीब डेढ़-दो साल पहले पब्लिक हाई स्कूल चौक के पास रहने वाले राजकुमार यादव ने 40 फुट रोड़ के दुकानदारों द्वारा नालों में किए गए अतिक्रमण की लिखित शिकायत नगर निगम को की थी जिस पर कार्यवाही करते हुए निगम प्रशासन ने दुकानदारों के कुछ ही रैम्प जेसीबी से तोड़े थे कि एक दलाल किस्म का व्यक्ति (इसके कारनामों की जानकारी हम आपको अगली खबर में बताएंगे) जेसीबी के आगे आकर लेट गया था और वहां उस समय काफी शोर-शराबा हुआ था जिसके बाद निगम ने उस समय जो अपनी कार्यवाही टाल दी थी। इसी का परिणाम निकला कि मंगलवार को सीवरेज सिस्टम में जहरीली गैस भर जाने के कारण स्लैब के परखच्चे उड़ गए, लेकिन कोई बड़ा हादसा होने से बच गया।
ऋषि नगर के लोगों ने निगमायुक्त डॉ. यश गर्ग और संयुक्त आयुक्त बल्लभगढ़ सतबीर मान से दुकानदारों द्वारा नालों पर किए गए अतिक्रमण और नालों में गैर-कानूनी रूप से अपनी दुकानों का सड़ा हुआ बदबूदार पानी इन नालियों में छोडऩे वालों के खिलाफ उचित कानूनी कार्यवाही करने की मांग की है।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *