BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

कैसिनो प्रकरण: OYO होटल मालिक विजय मावई और कर्ण फरार!

जुआरियों और शराब तस्करों का गढ़ बना हुआ है NIT फरीदाबाद
Metro Plus से Naveen Gupta की खास रिपोर्ट
फरीदाबाद, 2 सितम्बर:
पुलिस कमिश्रर के सख्त आदेशों के बावजूद भी शहर में जुआ खिलाने और शराब तस्करी का धंधा कम होने का नाम नहीं ले रहा है, खासकर NIT क्षेत्र में। हालांकि पुलिस की क्राईम ब्रांच पुलिस कमिश्रर ओपी सिंह और DCP क्राईम मकसुद अहमद की अगुवाई में लगातार इन मामलों में छापेमारी कर रही है। लेकिन वो सिर्फ छोटी मछलियों तक ही सिमट कर रही जाती है, बड़ी मछलियों तक उनके हाथ नहीं पहुंच पाते हैं या फिर…..?
इसी क्रम में क्राईम ब्रांच सैक्टर-30 प्रभारी विमल कुमार की टीम ने ASI अनूप सिंह की अगुवाई में कल नीलम-बाटा रोड़ स्थित श्री बालाजी नामक OYO होटल पर छापेमारी कर वहां से कैसिनो खेल और खिला रही दो लड़कियों और होटल मैनेजर अनुराग शर्मा सहित 12 आरोपियों को गिरफ्तार कर उनसे नगदी व गोटियां भी बरामद की हैं। जबकि ओयो होटल मालिक विजय मावई और कर्ण पुलिस गिरफ्त में नहीं आ सके। बकौल क्राईम ब्रांच प्रभारी विमल कुमार उनकी टीम इन दोनों मालिकों को गिरफ्तार करने के लिए दो बार इनके यहां दबिश दे चुकी है, लेकिन वे अभी पकड़े नहीं गए, फरार हैं।
वहीं शहर में चर्चा है कि उक्त दोनों आरोपी विजय मावई और कर्ण FIR में से अपना नाम निकलवाने के लिए राजनैतिक दबाव बनवाने की जुगत में लगे हुए हैं।
पुलिस एFIR के मुताबिक छापेमारी से पहले पुलिस टीम को पता चला था कि उक्त OYO होटल श्री बाला जी के मालिक विजय मावई और कर्ण होटल में बाहर से आदमी व लड़कियां बुलाकर अपने मैनेजर अनुराग शर्मा को उनके साथ बिठाकर पैसे व गोटियां द्वारा जुआ खिलाते हैं। इस पर पुलिस टीम ने डीसीपी क्राईम मकसुद अहमद से सर्च वारंट लेकर महिला पुलिस के साथ ओयो होटल श्री बाला जी में छापा मारा और वहां होटल की दूसरी मंजिल के हॉल में कैसिनो/जुआ रहे लोगों को पकड़ लिया।
थाना कोतवाली में इस मामले में ओयो होटल श्री बाला जी के मालिक विजय मावई और कर्ण को एफआईआर में नामजद करते हुए मौके पर से दो लड़कियों और 10 लोगों को गिरफ्तार किया है।
पुलिस के मुताबिक मौके पर हॉल में लगी बड़ी मेज के चारों तरफ 10 आदमी कुर्सियां पर बैठकर जुआ खेल रहे थे और दो लड़कियां उनको ताश और चाईनीज गोटियां बांट रही थी।
पुलिस प्रवक्ता एसीपी धारणा यादव ने बताया कि पूछताछ में पकड़े गए मुख्य आरोपी निकेत आजाद ने बताया की वह होटल किराये पर लेकर कैसिनो खिलाता है और किराये पर लाई गई लड़कियों द्वारा खेलने वाले फन्टरो (खिलाड़ी) को खेल शुरू होने से पहले ही बोली के हिसाब से चिप (टोकन) बिकवा देता है जिनकी कीमत 100 रूपये से 2000 रूपये तक होती है। रात को खेलते समय सभी खिलाड़ी अपने टोकन को लेकर गेम खेलते है। टोकन हार जाने या जीत जाने पर अगले दिन में ही उनका हिसाब कर देता है।
बकौल पुलिस प्रवक्ता आरोपियों द्वारा हर बार अलग-अलग फार्म हाउस, होटल का कमरा इत्यादि बुक करवाया जाता था ताकि पुलिस को इस काम की भनक ना लगे। इसके लिए हर रोज रात को अलग-अलग-जगह का चुनाव किया जाता था जिसकी लोकेशन खिलाडिय़ों/जुआरियों के पास व्हाट्सएप ग्रुप पर भेज दी जाती थी।
गिरफ्तार किए गए आरोपियों के नाम-पते इस प्रकार है:-

  1. अनुराग शर्मा पुत्र वासुकानंद शर्मा निवासी मकान नं.-P-82, SGM नगर, फरीदाबाद
  2. हरमेेक सिंह उर्फ विक्की पुत्र बलदेव निवासी मकान न.-18, न्यू एक्सटेंशन कालोनी, NH-5, NIT फरीदाबाद
  3. संदीप गुप्ता पुत्र महेन्द्र कुमार निवासी मकान न.-240, गगन विहार, थाना जगतपुरी, दिल्ली।
  4. अंकित पुत्र राजेन्द्र सिंह निवासी मकान न.-263, सेक्टर-19, फरीदाबाद
  5. फिरोज पुत्र बाबू निवासी कुरेशीपुर, कलन्दर कालोनी, थाना सैक्टर-58, फरीदाबाद।
  6. नितिन शर्मा पुत्र सुरेन्द्र शर्मा निवासी मकान न.-726, राजा गार्डन, ओल्ड फरीदाबाद।
  7. जतिन कुमार पुत्र सुरजीत निवासी मकान न.-2C/38, NIT फरीदाबाद।
  8. अमित सचदेवा पुत्र कैलाशचंद निवासी मकान न.-9, वार्ड न.-5, ओल्ड फरीदाबाद।
  9. निकेत आजाद उर्फ मनीष पुत्र पृथ्वीराज आजाद, निवासी मकान न.-3A/83, NIT फरीदाबाद।
  10. अनिल उर्फ सुमित पुत्र दुलीचंद निवासी मकान न.-2N/218, NIT फरीदाबाद।
    तथा पकड़ी दोनों लड़कियां सिक्किम की थी तिनके नाम-पते निम्न हैं।
  11. योजना विश्वकर्मा पुत्री डीबी विश्वकर्मा हाल निवासी मालवीय नगर, दिल्ली
  12. संगमा भूटिया पुत्री कासमू भूटिया हाल निवासी मालवीय नगर, दिल्ली
    उपरोक्त आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने कार्यवाही करते हुए उनके खिलाफ थाना कोतवाली में जुआ अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है।
    ध्यान रहे कि इससे पहले भी 29 जुलाई की भोर को इंस्पेक्टर विमल कुमार जोकि उस समय क्राईम ब्रांच बडख़ल प्रभारी थे, की टीम ने नेहरू ग्राऊंड स्थित ओयो होटल नमस्ते में छापा मारकर वहां से तथाकथित भाजपा नेता गगनदीप सिंह उर्फ रिंकु सहित 8 जुआरियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की थी। और उससे अगले दिन ही इस मामले में मैट्रो प्लस द्वारा प्रमुखता से खबर प्रकाशित करने के बाद इंस्पेक्टर विमल कुमार को क्राईम ब्रांच सैक्टर-30 का प्रभारी बना दिया गया था।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *