BREAKING NEWS -
Rtn. Naveen Gupta: +91-9811165707 Email: metroplus707@gmail.com

साइबर धोखाधड़ी से बचने के लिए व्हाट्सएप या मेल पर आने वाले फर्जी लिंक से सावधान रहें: यशपाल

मैट्रो प्लस से नवीन गुप्ता की खास रिपोर्ट
फरीदाबाद, 17 जून
: जिला उपायुक्त यशपाल ने जिलावासियों को व्हाट्सएप या ई-मेल पर आने वाले फर्जी लिंक से सावधान रहने की सलाह दी है। उन्होंने अनुरोध किया है कि नागरिक सोशल मीडिया या ई-मेल पर आए किसी भी संदिग्ध लिंक पर व्यक्तिगत जानकारी सांझा न करें, क्योंकि ऐसा करने से वे साइबर धोखाधड़ी का शिकार हो सकते हैं।
उपायुक्त ने बताया कि लॉकडाउन का फायदा उठाते हुए भोले-भाले नागरिकों के बैंक खातों से पैसे निकालने के लिए साइबर अपराधी कई प्रकार के हथकंडे अपना रहे हैं, इसलिए कोविड-19 के नाम पर सोशल मीडिया और ई-मेल पर आने वाले किसी भी फर्जी लिंक को खोलने से बचें।
ऐसे साइबर अपराधी नकली UPI ID के माध्यम से डोनेशन बारे कहकर लोगों से धोखाधड़ी कर रहे हैं। इसी प्रकार कई बार आपदा प्रबंधन का फर्जी बैंक खाता सोशल मीडिया पर डालकर उसमें पैसे जमा करवाने के लिए कहते हैं। उन्होंने कहा कि साइबर ठगी से बचने के लिए सोशल साइट्स पर डाले गए किसी भी असत्यापित खाते में रकम जमा न करवाएं। अंशदान करने से पहले पूरी जांच कर लें तथा इसके लिए आधिकारिक लिंक का ही प्रयोग करें।
उन्होंने कहा कि साइबर ठगी के अन्य तरीकों में फर्जी ऑनलाइन शॉपिंग साइट बनाकर ज्यादा डिस्काउंट पर फेस मास्क, सेनिटाइजर आदि बेचने के नाम पर धोखाधड़ी करना, संक्रमण से बचाव के लिए सरकारी वेबसाइट्स से मिलता-जुलता पेज बनाकर धोखाधड़ी करना, WHO या अस्पतालकर्मी बताकर लोगों को कॉल करना व कोरोना संक्रमण किट उपलब्ध करवाना तथा होम डिलीवरी के नाम पर OTP मांग कर धोखाधड़ी करना आदि शामिल हैं।
उपायुक्त यशपाल ने कहा कि जिलावासी सोशल मीडिया पर किसी भी प्रकार के फर्जी या असत्यापित लिंक को न खोलें और अज्ञात नंबरों द्वारा भेजे गए OTP को साझा करने से बचें क्योंकि इससे हैकर्स को उनकी निजी जानकारी हासिल हो सकती है। साइबर धोखाधड़ी करने वाले कोविड-19 से संबंधित मालवेयर लिंक प्रसारित कर रहे हैं। इसे खोलते ही अपराधी रिसीवर के फोन या कंप्यूटर से पासवर्ड सहित गोपनीय डाटा चुरा लेते हैं। आपकी थोड़ी सी चूक मेहनत की कमाई गवां सकती है इसलिए लोगों को अपने ई-मेल या व्हाट्सएप पर ऐसे लिंक पर क्लिक करते समय आवश्यक सावधानी बरतनी चाहिए।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *